केसर के फायदे और पहचान

केसर सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है। केसर प्राकृतिक सौंदर्य और कई बीमारियों को ठीक करता है। अलग-अलग व्यंजनों में केसर को डालकर खाया जाता है। हाल ही में शोधकर्ताओं नें भी माना है कि केसर में एमीलोईडोजेनिक गुण होने की वजह से खोई हुई स्मर्ण शक्ति को वापस आती है। अल्जाइमर और भी कई खतरनाक रोगों से बचाता है केसर। सबसे उच्च किस्म का केसर भारत के कश्मीर राज्य में पैदा होता है। इसे जाफरान केसर कहा जाता है। आइये जानते हैं केसर के क्या फायदे हैं।

कैसे पता करें केसर असली है या नकली

बेहद मंहगा होता है केसर। इसलिए बाजार में नकली केसर भी बेचा जाता है। लेकिन चिंता न करें हम बताते हैं कैस पहचान की जाती है असली केसर की। दूध या गर्म पानी में केसर को डालें यदि वह तुरंत रंग छोड़ देगा तो समझ लें कि केसर नकली है। असली केसर दस मिनट के बाद गहरा रंग और मंहक छोड़ता है।

केसर के स्वास्थवर्धक लाभ

शारीरिक शक्ति 

जो इंसान कमजोरी का अनुभव महसूस करते हैं या शरीर से बेहद कमजोर हैं वे केसर को दूध के साथ मिलाकर पीएं। इससे शरीर में ताकत और जोश बढ़ता है।

आयुर्वेदिक टिप्स – इन चीजों से करें परहेज

किड़नी और लिवर में केसर का फायदा

लिवर और किड़नी के सभी तरह की बीमारियों में केसर बेहद फायदेमंद दवा के रूप में काम करता है। यह ब्लैडर और लिवर में जाकर वहां की बीमारियों को ठीक करता है और साथ के साथ खून भी साफ करता है।

अर्थरइटिज में केसर

केसर अर्थराइटिस के रोगियों के लिए  बहुत ही फायदेमंद होता है। केसर के सेवन से  जोड़ों के दर्द से निजात मिलता है और मांसपेशियों को राहत मिलती है। केसर थकान को भी दूर करता है।

एसिटिडी और गैस

एसिटिडी और गैस की समस्या से परेशान लोगों को केसर का सेवन करना चाहिए। केसर पाचन तंत्र को ठीक रखता है। जिससे गैस की समस्या को ठीक हो जाती है।

सिर का दर्द

सिर में दर्द की समस्या से राहत पाने के लिए चंदन और केसर को मिलाकर इसका लेप सिर पर लगाने से सिर दर्द में आराम मिलता है।

तेज दिमाग

केसर में मौजूद गुण दिमाग को तेज बनाते हैं। साथ ही आंखों को ठंठक पहुंचाता है केसर। केसर का लेप लगाने से स्मर्ण शक्ति तेज होती है।

बच्चों में होने वाली समस्याएं

अक्सर छोटे बच्चों को जुकाम और सर्दी लग जाती है। ऐसे में दूध में केसर को मिलाकर सुबह और शाम बच्चे को पिलाएं। बच्चे के माथे, पीठ, नाक और छाती में लौंग, जायफल और केसर को मिलाकर बनाया गया लेप लगाने से सर्दी से राहत मिलती है।

चोट लगने या जल जाने पर केसर

यदि शरीर में कहीं चोट लग जाए या आग से कोई अंग झुलस गया हो तो केसर का लेप बनाकर लगाने से आपको तुरंत राहत मिलेगी। केसर नई त्वचा बनाने का काम भी करता है।

मसूड़ों की समस्या

मसूड़ों में जख्म और सूजन की समस्या अक्सर लोगों में देखी जाती है। ऐसे में केसर का इस्तेमाल आप अपने खाने में करें। इसके अलावा यदि मुंह की समस्या हो रही हो तो केसर का सेवन जरूर करें।

आंखों की बीमारी में केसर

केसर आंखों की दिक्कतों को दूर करता हैं अब तो वैज्ञानिकों ने भी मान लिया है कि केसर के सेवन करने से आंखों की नजरें तेज होती हैं। और यह मोतियाबिंद की परेशानी को भी खत्म करता है।

अनिंद्रा में केसर

जिन लोगों को रात को नींद न आने की समस्या होती हो वे दूध में केसर को मिलाकर रात को सोने से पहले जरूर पीएं। इस उपाय को कुछ दिनों तक लगातार करने से आपको फायदा मिलेगा।

 

दिल के दौरे में केसर

केसर में क्रोसेटिन होता है जो दिल को चुस्त रखता है। और कोलेस्ट्राल को भी घटाता है। इससे शरीर में खून का संचार शरीर में अच्छे से होता है और दिल स्वस्थ रहता है।

कैंसर व ट्यूमर में केसर

केसर शरीर से कार्सिनोजन तत्व को कम कर देता है जो कैंसर के खतरे को कम कर देता है।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।