काजू बादाम खाने के नुकसान

इस बात को सुनकर शायद आपको थोड़ा अटपटा लगे। लेकिन काजू बादाम खाना भी आपकी सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है। आयुर्वेद में कहा गया है कि यदि आप किसी भी चीज की अति करते हो तो वह आपकी सेहत पर विपरीत प्रभाव डाल सकती है।
हर चीज की सीमा होती है जब इंसान उससे अधिक यानि अति करता है तो वह सेहत पर बुरा असर डालती है।

अभी तक लोगों में यह धारणा बनी हुई है कि बादाम, किसमिस और काजू को खाने से ताकत आती है। लेकिन अब ये एक भूल साबित हो रही है। क्योंकि शरीर को ड्राई फ्रूट कि जितनी जरूरत होती है वह उतनी ही मात्रा में इसे ग्रहण करता है।

लेकिन जब आप ड्राय फ्रूट का सेवन अधिक करने लगते हो तब यही ड्राय फ्रूट आपके शरीर का संतुलन बिगाड़ देते हैं। आज हम आपको बताते हैं  बादाम काजू खाने के नुकसान के बारे में

ये हैं ड्राय फ्रूट के नुकसान

चर्बी को बढ़ाता है
जब आप ड्राय फ्रूट को खाते हैं तो इससे आपकी कमर के आस पास चर्बी जमने लगती है। काजू और बादाम में कई ऐसे तत्व पाएं जाते हैं  जो वजन बढ़ाने का काम करते हैं। अगर आप अपने शरीर की चर्बी को नहीं बढाना चाहते तो जरूरी है कि आप इसका सेवन न करें अगर करना ही है तो सिमित  मात्रा में करें। फिर आपको इससे कोई
नुकसान नहीं होगा।
पेट की समस्याएं
कई बार ऐसा होता है कि लोग जाने अनजाने में ये सोचकर ड्राय फ्रूट्स का सेवन अधिक करने लगते हैं कि इससे उनका शरीर मजबूत और ताकतवर बनेगा। लेकिन यह एक गलत अवधारणा है। जब आप अधिक ड्राय फ्रूट्स खाते हो तब पेट में यह कब्ज, और गैस को बनाने लगते हैं। यही नहीं इससे आपको डायरिया और पेट की बीमारियां भी लग सकती हैं। जिसके कारण पेट दर्द की शिकायत भी हो सकती है।

सिर में भारीपन आना
जब आप ड्राय फ्रूट का अधिक सेवन करते हो तो इसका गहरा असर आपके दिमाग पर पड़ता है। इसका अधिक सेवन करने से  दिमाग  की नसों में गरमी आती है और हमारा सिर भारी होने लगता है। यही नहीं हमे ठीक तरह से नींद भी नहीं आती है।

मुंह की समस्याएं
जब इंसान काजू बादाम या फिर अन्य किस्म के सूखे मेवे खाता है तब उसके दांतों में यह जम जाता है। और आसानी से बाहर नहीं आता है। इससे मुंह से संबंधित समस्याएं जैसे
मुंह की बदबू, मुंह में संक्रमण होना और दांतों में पीलापन आदि हो सकती हैं। डॉक्टर  के अनुसार अगर आप दांतों में  चिपकने वाले मेवे का अधिक सेवन करते हो तो वो बहुत ही जल्द दांत में सडन पैदा करते हैं। ऐसे में अगर आप मुंह में होने वाली समस्याओं से बचना चाहते हैं तो इसका सेवन सिमित मात्रा में करें और बाद में अच्छे से कुल्ला कर लें।

मधुमेह में

जिन लोगों को डायबिटीज की समस्या रहती होती है उन्हें काजू बादाम का  सेवन अधिक मात्रा में नहीं करना चाहिए।

काजू बादाम में भले ही पोष्टिक तत्व पाएं जाते हैं जो हमारी सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं। लेकिन काजू बादाम खाने के नुकसान इसलिए जानने जरूरी हैं ताकि आप इनके उतने फायदे ले पाएं। जितना आपके शरीर को इनकी जरूरत है। काजू बादाम का सेवन सीमित मात्रा में ही करें ताकि इससे आपको फायदा मिलें नुकसान नहीं।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।