काली मिर्च के फायदे और औषधीय गुण

काली मिर्च का इस्तेमाल आप सभी करते हैं लेकिन कभी-कबार। लेकिन आपको शायद ही इस बात का पता हो कि काली मिर्च आपके घर में एक एैसी दवा का काम करती है जिससे आप कई छोटी-बड़ी बीमारियों  से आसानी से ठीक हो सकते हो। काली मिर्च स्वाद में तीखी होती है जो आपकी सेहत के लिए बेहद असरदार व रोग नाशक होती है। इस मिर्च के क्या फायदे हैं वैदिक वाटिका आपको पूरी जानकारी दे रही है।

काली मिर्च के फायदे और औषधीय गुण

आंखों के लिए

यदि आंखे कमजोर हैं तो काली मिर्च को पीस कर उसका चूरन बना लें और देशी घी के साथ इस चूरन को मिलाकर नियमित सेवन करें। आपकी आंखों की कमजोरी दूर हो जाएगी।

गठिया रोग में
जो लोग गठिया की समस्या से परेशान हैं वे तिल के गर्म तेल में काली मिर्च को डालकर उसे ठंडा कर लें और बाद में उस तेल से गठिया वाली जगह पर मालिश करें। एैसा करने से दर्द मे आराम मिलेगा।

पेट के कीड़े दूर करती है
यदि पेट में कीड़े की समस्या हो तो थोड़ी सी मात्रा में काली मिर्च के पाउडर को एक गिलास छाछ में घोलकर पी लें।
दूसरा उपाय है किशमिश के साथ काली मिर्च दिन में तीन बारी खाएं।

बवासीर में
बवासीर की समस्या से परेशान लोगों के लिए काली मिर्च किसी दवा से कम नहीं होती है। जीरा, चीनी और काली मिर्च के दानों को पीसकर चूरन बना लें और इस चूरन को सुबह और शाम तीन बारी खाएं। ये चूरन बवासीर की परेशानी को ठीक करता है। लेकिन इसके लिए आपको जंक फूड व आयली चीजों का सेवन बंद करना पड़ेगा।

सांस संबंधी परेशानी
यदि सांस संबंधी कोई परेशानी हो तो पुदीने की चाय में काली मिर्च डालकर सेवन करें।

चेहरे के लिए
काली मिर्च को खाने से चेहरे की समस्याएं जैसे दाग-धब्बे और त्वचा की बीमारियां ठीक होती हैं।

दांत की परेशानी
दांतों की सभी प्रकार की समस्याएं जैसे दांत दर्द व दांत खराब होना आदि काली मिर्च के सेवन से ठीक होती हैं। दांतों में दर्द होने पर काली मिर्च के दानों को चबाना चाहिए। इससे दांत दर्द ठीक होने लगता है।

यदि दांतों को पायरिया की समस्या हो तो काली मिर्च के पाउडर को नमक के साथ मिलाकर दांतों पर लगा लें। आपको राहत मिलेगी।

कमजोर याददाश्त
यदि याददाश्त उम्र के साथ कम हो रही हो तो शहद में काली मिर्च के पाउडर को मिलाकर दिन में दो बारी सेवन करें।

जुकाम व खांसी से राहत
खांसी होने पर शहद के साथ काली मिर्च के दानों को खाएं। एैसा दिन में तीन बारी तक करें। काली मिर्च का तीखापन गले व नाक की समस्याओं को पल भर में राहत देता है। काली मिर्च जुकाम में बेहद राहत देती है। गुनगुने दूध में थोड़ी सी काली मिर्च डालकर सेवन करें।

ब्लड प्रेशर को काबू करती है
ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने व शरीर को आराम देने में काली मिर्च बेहद फायदेमंद है। यदि आपका ब्लड प्रेशर बढ़ गया हो तो छोटी चम्मच काली मिर्च का पाउडर को आधे गिलास पानी में मिलाकर पीएं। आपका बीपी कंट्रोल होने लगेगा।

पेट में गैस व एसिडिटी
 पेट में गैस या एसिडिटी की समस्या होने पर आप तुंरत नींबू में काला नमक और काली मिर्च का पाउडर या 2 दाने मिलाकर इसका रस चूसें। यह आपकी अपच व गैस की समस्या को पल भर में दूर कर देगी।  

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।