घुटनों में दर्द की समस्या होने की वजह

घुटनों में दर्द की समस्या होने के क्या कारण हो सकते हैं जाने विस्तार से क्यूंकि यह दर्द आपको काफी परेशान करती है, reasons of joints pain in hindi

घुटने मानव शरीर के लिए उतने ही महत्वपूर्ण होते हैं जितने की मानव शरीर के पैर। घुटनों के द्वारा ही पैरों को मोड़ने की क्षमता मिलती है। घुटनों में दर्द होना एक आम समस्या है यह किसी भी उम्र वाले लोगों को हो सकती है। लेकिन जब घुटनों में सुजन या दर्द होने लगता है तब हमें अधिक पीड़ा का सामना करना पड़ता है।

क्या आप जानते हैं कि हमारी खुद की गलतियों के कारण ही हमें कम उम्र में घुटनों की समस्या से गुजरना पड़ता है। हम अपने जीवन में रोज कुछ न कुछ ऐसा करते हैं। जिसका असर हमारी सेहत पर विपरीत पड़ता है। यह असर हमारे शरीर में सबसे पहले घुटनों में ऐंठन, दर्द और जकड़न के रूप में देखने को मिलता है। आज हम आपको बताने जा रहे हैं घुटनों की समस्या होने की वजह।

घुटनों में दर्द की समस्या – यह हो सकते हैं कारण

1. गलत तरीके के साथ बैठना

जब आप बैठते हो तब आपका एक अपना ही अलग तरीका होता है। जब आप घंटों तक एक स्थान पर गलत तरीके के साथ बैठे रहते हो तब आपकी नसें अर्थात की मसल्स क्षतिग्रस्त होते रहते है। यह फिर घुटनों में दर्द और सुजन का एक बड़ा कारण बन जाता है। इसलिए जब भी आप बैठे तब सही तरीके के साथ बैठे ताकि आपको घुटनों के दर्द का सामना न करना पड़े।

2. ऊँची हील सेंडल

इस बात को कोई भी झुठला नहीं सकता कि महिलाएं अक्सर ऊँची हील की जूतियाँ या सेंटल को पहनती है। यह बात शोध में भी साबित हो चुकी है जब वो अधिक समय तक इसे पहन कर रखती है तब उनके शरीर की बनावट में बदलाव आने लगता है और इसका सीधा असर उनके घुटनों पर पड़ता है। वो महिलाएं अधिकतर रूप से घुटनों के दर्द से गुजरती है जो हाई हील को पहनना पसंद करती है।

3. वजन अधिक उठाना

जब आप जरूरत से अधिक वजन को उठाते हो तब आपके घुटने धीरे धीरे करके कमजोर होने लगते हैं। देखा जाएं तो घर पर महिलाएं अक्सर जरूरत से अधिक वजन उठा लेती है। जिसके कारण उन्हें घुटनों में दर्द, ऐंठन और सुजन की समस्या से गुजरना पड़ता है। इसलिए हमेशा कम वजन ही उठाना चाहिए कभी भी जरूरत के ज्यादा वजन उठाने के बारे में सोचना भी नहीं चाहिए।

4. जरूरत से अधिक व्यायाम करना

घुटनों की समस्या होने की वजह एक जरूरत से अधिक व्यायाम करना भी है। व्यायाम करना सेहत के लिए अच्छा होता है। लेकिन यह तभी होता है जब आप इसे सही तरीके के साथ करते हो। जब आप व्यायाम को गलत तरीके के साथ लंबे समय तक करते हो तब यह फायदा नहीं, बल्कि नुकसान पहुंचाता है और जब हम जरूरत से अधिक व्यायाम करते हैं तब इसका असर घुटनों पर पड़ता है। जिसके कारण घुटनों में दर्द होने लगती है।

अगर आप ऊपर दी गई जानकारी को ध्यान में रखते हो तो आप घुटनों में होने वाली समस्या से बच सकते हो और आप लंबे समय तक आसानी से चल फिर सकते हो। आप इस बारे में अपने परिवार और बाहर के लोगों को भी जानकारी दें। ताकि वे सभी इस समस्या से बचे रहें।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।