बार बार नाक बंद होना – कारण, लक्षण और उपचार

बार बार नाक बंद होना - कारण, लक्षण और उपचार

नाक बंद होना बहुत ही सामान्य सा रोग है। लगभग सभी लोगन को इस परेशानी से गुजरना पड़ता है। कुछ लोग नाक बंद होने का कारण म्यूकस की अधिक मात्रा को मानते हैं। लेकिन वास्तव में नाक के अंदर झिल्ली में सुजन पैदा होने के कारण नाक बंद हो जाती है। झिल्ली की सूजन वहां की रक्त शिराओं में सूजन के कारण होती है।

अगर आप नाक बंद होने पर इसका इलाज नहीं करवाते तो आपमें सुनने या बोलने क समस्या उत्पन्न हो सकती है। नाक बंद होने पर हमें कुछ घरेलू उपाय करने चाहिए ताकि हमारी बंद नाक जल्द ही खुल जाएं और हमें किसी तरह की कोई परेशानी न हो।

तो चलिए जानते हैं बार बार नाक बंद होने की परेशानी से कैसे छुटकारा पाया जा सकता है।

नाक बंद होने के कारण

  • इन्फेक्शन,
  • बनावट में खराबी,
  • एलर्जी
  • हार्मोन में बदलाव।

नाक बंद होने पर क्या करें

  • नाक बंद होने पर आप नाक खोलने वाला स्प्रे का उपयोग कर सकते हैं। इसको दिन में तीन बार ही लेना चाहिए।
  • जुकाम का उपचार करने से नाक बहना और नाक बंद होना कम हो जाता है।
  • नाक की बनावट या आकार के कारण अगर नाक में तकलीफ है तो ऑपरेशन की आवश्यकता पड़ सकती है।
  • अगर एलर्जी के कारण नाक बंद है तो एलर्जी मिटाने वाली दवा लेने से बंद नाक खुल जाती है।
  • नाक को खुला रखने वाली पट्टी को लगाने से आराम मिल जाता है।

नाक बंद होने से बचने के उपाय

  • धुम्रपान नहीं करना चाहिए।
  • पालतू जानवरों से एलर्जी हो तो पालतू जानवर नहीं रखने चाहिए।
  • कूलर या एसी के कारण जुकाम हो सकता है इससे बचना चाहिए।
  • गर्म पानी से भाप लेने पर आराम मिलता है।
  • तरल पदार्थों का अधिक उपयोग करना चाहिए।
  • गर्म पानी, सूप, चाय आदि का सेवन करना चाहिए।
  • ठंडे पेय या आइस क्रीम का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • सोते समय थोडा सिर को ऊपर करके सोना चाहिए आदि।

बंद नाक को खोलने के घरेलू उपचार

cold ke ghrelu upay in hindi

भाप लेना

अगर आप बार बार नाक बंद होने वाली परेशानी से परेशान है तो आपको भाप लेनी चाहिए। इसके लिए एक बर्तन में पानी गर्म करें। जब उस पानी में से भाप निकले तब उसमें थोड़ी से अजवाइन डाल दें अब बर्तन से निकलने वाली भाप के उपर नाक लगाकर साँस लें। इससे आपको राहत मिलेगी।

बादाम, काली मिर्च और शक्कर का प्रयोग

100 ग्राम बादाम, 20 ग्राम काली मिर्च और 50 ग्राम शक्कर को अच्छे से पीस कर मिश्रण तैयार करें। इस मिश्रण को रात को सोने से पहले एक चम्मच गुनगुने दूध के साथ लें। कुछ दिनों में आपकी नाक संबंधी परेशानी दूर हो जाएगी।

सौंठ, पीपल और काली मिर्च का प्रयोग

सौंठ, पीपल और काली मिर्च को सामान मात्रा में लेकर पीस लें। इस मिश्रण में से दो चुटकी लेकर शहद में मिलाकर चाट लें। सुबह शाम कुछ दिन इसे लेने से सर्दी जुकाम के कारण नाक बहना, नाक बंद होना ठीक हो जायेगा।

जल नेति का प्रयोग

जल नेति को सीख कर कुछ दिन रोजाना करें जल नेति की क्रिया में नाक के एक छिद्र में जल डालकर दुसरे छिद्र से निकाला जाता है। इससे नाक बंद होने वाली परेशानी से छुटकारा मिल जाता है।

प्राणायाम

कुछ दिन भस्त्रिका, कपाल भाती और अनुलोम विलोम आदि प्राणायाम का अभ्यास करने से बंद नाक की परेशानी दूर हो जाती है।

सरसों का तेल

सरसों के तेल को अंगुली की सहायता से नाक में लगाकर सूंघे इससे आपकी बंद नाक खुल जाएगी।

अजवाइन का प्रयोग

आधा चम्मच अजवाइन तवे पर गर्म कर लें। अब इसे कपड़े में डालकर एक पोटली बना लें। इस पोटली को सूंघे। इससे आपकी बंद नाक को बहुत ही फायदा मिलेगा।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।