अनार के छिलके की चाय के फायदे

अनार के छिलके की चाय के फायदे

दोस्तों, आपने अनार के फायदे के बारे में जरूर सुना ही होगा, लेकिन क्या आप अनार के छिलके की चाय के फायदे के बारे में जानते हैं। जी हाँ, मीठे और लाल रस से भरा हुआ अनार इसके दाने और इसका जूस हर किसी को पसंद आता है, वो चाहे बूढा हो या जवान।

अनार को बहुत ही हेल्दी फल माना जाता है। इसका कारण यह है की इसमें बहुत से विटामिन्स, मिनरल्स और एंटी ओक्सिड़ेंट्स मौजूद होते हैं। उसी प्रकार अगर अनार के छिलके की बात करें तो यह भी बहुत फायदेमंद होता है।

इसमें कई महत्वपूर्ण एंटी ओक्सिड़ेंट्स पाएं जाते हैं जो दिल की बीमारियों, कई तरह के कैंसर और साथ ही त्वचा पर पड़ रहे उम्र के प्रभाव को कम करते हैं।

कितना फायदेमंद है अनार का छिलका

अनार में ही नहीं, बल्कि इसके छिलके में भी कई तरह के महत्वपूर्ण तत्व पाए जाते हैं। कुछ एंटी ओक्सिड़ेंट्स और मिनरल्स तो ऐसे भी हैं जो अनार के रसीले दानो से ज्यादा अनार के छिलके में मौजूद होते हैं जैसे अनार के एक ग्राम दानों में 24 मिलीग्राम फ़ेनालिक्स होता है, जबकि अनार के एक ग्राम छिलके में 250 मिलीग्राम फेनालिक्स होता है।

इसी प्रकार अनार के छिलके में अनार के दानों से अधिक फ्लैवेनाइड पाया जाता है। इसके दानों और छिलके में विटामिन सी की मात्रा लगभग बराबर मात्रा में ही मौजूद होती है।

ऐसे करें तैयार अनार के छिलके

आप अक्सर अनार का सेवन करते हैं उसके छिलके को फेकें नही, बल्कि उसे साफ़ पानी में धोकर किसी कंटेनर में भर लें और उसे फ्रीजर में रख दें। जब आपके पास ढेर सारे अनार के छिलके एकत्रित हो जाएं तब आप इन्हें धुप में अच्छे से सुखा लें। जब यह अच्छी तरह से सुख जाएं तब आप इसे छोटे छोटे टुकड़ों में तोड़ लें।

इसके पश्चात् आप छिलकों को ब्लेंडर या फिर कॉफी ग्राइडर में डालकर अच्छे से पीस लें और इसका पाउडर तैयार कर लें। अब आप अनार के छिलके द्वारा तैयार किया हुआ पाउडर किसी एयर टाइट कंटेनर में भरकर रख दें ताकि यह खराब न हो।

अनार के छिलके की चाय

विस्तार में जाने औषधीय गुणों वाली चाय के फायदे के बारे में कैसे बनाये स्वस्थ चाय, health benefits of ayurvedic tea in hindi

आइये जानते हैं कि किस प्रकार से अनार के छिलके की चाय बनाई जाती है

  • अनार के छिलके की स्वादिष्ट चाय को तैयार करने के लिए सबसे पहले किसी बर्तन में या फिर इलेक्ट्रॉनिक केटल में एक कप पानी का गर्म करें।
  • अब इस ग्राम पानो में एक चम्मच अनार के छिलके का पाउडर डाल लें।
  • थोड़े समय तक पाउडर को पानी में भीगने दें।
  • अब इसे एक पानी में छान लें।
  • अब इसका अधिक स्वाद बढ़ाने के लिए थोड़ा सा नींबू का रस और शहद को मिला लीजिए।
  • अब आपकी स्वादिष्ट और हेल्दी चाय बनकर तैयार है।

अनार के छिलके की चाय के फायदे

जैसे की हम जानते हैं अनार हमारी सेहत के लिए फायदेमंद होता हैं वैसे ही अनार के छिलके की चाय  भी हमारी सेहत के लिए फायदेमंद होती है अनार के छिलके की चाय  के फायदे बहुत होते हैं जैसे पाचन में फायदेमंद, कम करें उम्र का प्रभाव, दिल की बीमारियों से बचाए, कैंसर से बचाए आदि। तो चलिए विस्तार से जानते हैं अनार के छिलके की चाय के फायदे के बारे में।

पाचन में फायदेमंद

अनार के छिलके की चाय के फायदे में एक फायदा यह हैं कि इसमें कई एंटी ओक्सिड़ेंट्स पाएं जाते हैं। जिसके कारण इसकी चाय बहुत फायदेमंद होती है। इसके इलावा यह कई तरह की गंभीर रोगों से शरीर को बचाती है। जब आप खाने के बाद इसकी चाय का सेवन करते हो तब आपका पाचन ठीक रहता है। अगर आप डायरिया से ग्रस्त हो तो इसकी चाय पीने से आपको बहुत अधिक लाभ प्राप्त होता है। पाचन तंत्र को मजबूत करने के लिए योग

दिल की बीमारियों से बचाएं

फ्लेवेनाइडस, फेनालिक्स और कई तरह के बेहतरीन एंटी ओक्सिड़ेंट्स के कारण इस चाय को पीने से दिल की बीमारियों की आशंका कम होने लगती है। जब आप अनार के छिलके की चाय पीते हो तब आपका ब्लड कंट्रोल में रहता है और साथ ही बैड कोलेस्ट्रोल का स्तर कम होता है। यही कारण हैं कि दिल के लिए यह चाय बहुत फायदेमंद होती है।

कैंसर से बचाए

कई तरह के शोधों में यह बात भी सामने आई हैं कि अनार के छिलके में कई ऐसे तत्व मौजूद होते हैं जो शरीर में कैंसर की आशंका को कम करते हैं। इसका सबसे अधिक फायदा स्किन कैंसर में देखा गया है। इसलिए अनार के छिलके की चाय को कम से कम दिन में एक बार जरुर पियें ताकि आप कैंसर जैसी गंभीर बीमारी  से अपने आप को बचा सके।

कम करे उम्र का प्रभाव

अनार के छिलके की चाय में एंटी ओक्सिड़ेंट्स मौजूद होते हैं जिसके कारण इसकी चाय पीने से आप पर उम्र का प्रभाव कम होता है और आप अपनी उम्र से ज्यादा जवान लगते हैं। अनार के छिलके की चाय पीने से चेहरे पर झुर्रिया और काले घेरे नहीं होते। इतना ही नहीं इस चाय से जोड़ों और हड्डियों की कमजोरी में भी फायदा मिलता है।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।