मोटापा घटाने के उपाय

शरीर पर चरबी का अधिक होना मोटापे का सबसे बड़ा लक्षण होता है। गलत तरह से खान-पान करना, रहन सहन में भी गलत तरीके प्रयोग करना आदि जैसी वजह से पेट बाहर निकल जाता है। और कमर की चरबी अधिक हो जाती है। धीरे-धीरे मोटापा गर्दन, हाथ और पैरों तक फैल जाता है। यानी इन जगहों पर चरबी अधिक हो जाती है। शरीर पूरी तरह से चरबी युक्त हो जाता है। और इंसान को चलने फिरने में भी दिक्कतों के साथ-साथ कई गंभीर बीमारीयों के होने का खतरा भी अधिक बढ़ जाता है। आइये आपको बताते है कमर की चरबी को कम कैसे करें। आयुर्वेद में इसका इलाज संभव है।

कमर की चरबी कम करने के लिए आप इन उपायों का प्रयोग कर सकते हो कमर की चरबी को कम करने का सबसे पहला नियम जो आयुर्वेद में है। वह है भूख से कम ही भोजन का सेवन करें। जितनी भूख है उससे कम ही खाना खायें। इससे पेट का आकार नहीं बढ़ता और पाचन भी ठीक रहता है। कम भोजन करने से पेट में गैस नहीं बनती है। कोशिश करें कि दिन में 2 बार शौच जाएं।

खाना खाने के बाद पानी न पीये
मोटापे से मुक्ति का एक और बड़ा सरल उपाय यह है कि भोजन के तुरंत बाद पानी का सेवन न करें। भोजन करने के लगभग 1 घंटे के बाद ही पानी पीयें। इससे कमर का मोटाप नहीं बढ़ता है। और यह तरीका पेट को कम करने में भी मददगार होता है।

आटे की रोटी 
भोजन में अधिक से अधिक जौ से बने आटे की रोटियों का इस्तेमाल करें। गेहूं के आटे की रोटी का सेवन बिलकुल कम कर दें। जौ शरीर में मौजूद अतरिक्त चरबी को कम कर देता है। जिससे कमर और पेट की चरबी कम हो जाती है।

खाने में करे इन चीजों का इस्तेमाल 
वजन कम करने और अतरिक्त चरबी को कम करने के लिए आपको यह भी पता होना चाहिए कि भोजन में किन चीजों को इस्तेमाल करें और किन का नहीं। आपको चावल, आलू और चपाती का सेवन कम से कम मात्रा में करना चाहिए साथ ही खाने में कच्चा सलाद, सब्जी और मिक्स वेज का सेवन अधिक से अधिक करना चाहिए।

इस समय पर ही खाना खाए

हमेशा खाना भूख लगने पर ही खाएं। खाना खाते वक्त यह बात जरूर ध्यान रखें कि खाने को मुंह में अच्छी तरह से बारीकी से चबाकर खाएं ताकि आसानी से भोजन गले से नीचे उतर सके।

सुबह का नाश्ता
सुबह के नाश्ते में आप चना, मूंग और सोयाबीन को अधिक से अधिक खाने में उपयोग करें। अंकुरित अनाज में आपको भरपूर मात्रा में पौष्टिक तत्व आपको मिलेगें। जो मोटापा को बढ़ने नहीं देगें। दलिया को भी आप अपने नाश्ते में जरूर शामिल करें।

हरी सब्जियों का सेवन

कमर की अधिक चरबी को कम करने के लिए आपको अपने खाने में हरी सब्जियों का अत्याधिक सेवन करना चाहिए। आप मेथी, पालक, चैलाई की सब्जी को अपने खाने में शमिल करें। हरी सब्जियों में मौजूद कैल्श्यिम और फाइबर आपके शरीर में पोषक तत्वों को पहुंचाते हैं। और इनसे आपका शरीर भी स्वस्थ रहेगा।

दही
गर्मियों में दही या मट्ठा के सेवन करने से शरीर के चरबी घटती है। दिन में 2 से 3 बार मट्ठा का सेवन करें।
सुबह खाली पेट गरम पानी में 2 चम्मच शहद डालकर 2 महीने तक सेवन करने से कमर का मोटापा कम होता है। इसके अलावा तेल की मालिश करने से भी कमर की चरबी को कम किया जा सकता है।

  • बाजार से छोटी पीपल को खरीदें। और उसका बारीक चूर्ण बना लें। फिर इसे कपड़े से छानकर अलग रख दें। और सुबह-शाम इस चूर्ण को छाछ के साथ मिलाकर सेवन करें।
  • हाल ही में वैज्ञानिकों ने शोध के आधार पर कहा है कि सुबह नाश्ते से पहले कसरत करने से भी मोटापा दूर हो जाता है।
  • सप्ताह में एक दिन उपवास जरूर रखें। और उपवास के दिन दूध, सूप, जूस और नींबू पानी का सेवन करते रहें।
  • एक शोध में बताया गया है कि काली या हरी मिर्च खाने से मोटापा आसानी से घटाया जा सकता है। मिर्च खाने से शरीर की उर्जा जल्दी खर्च होती है जिससे वजन नियंत्रित रहता है।
  • अगर आप कसरत नहीं कर सकते हो तो खाना खाने के बाद कम से कम पंद्रह मिनट जरूर टहलें।
  • शहद में मधुमालती की जड़ को पीसकर मिलाएं और उसे छाछ के साथ सेवन करें। यह उपाय भी मोटापा आसानी से कम करता है।

छिलके वाली दाल का प्रयोग
वजन कम करने के लिए छिलके वाली दाल का प्रयोग करें। इसमें प्रोटीन की मात्रा कम होती है। रोजाना सेवन करने से कोलेस्ट्राल की मात्रा भी शरीर में कम होती है जिसकी वजह से वजन कम हो जाता है।

लौकी जूस

मोटापा कम करना चाहते हैं तो लौकी के जूस का सेवन करें। इसे एक बार लेने से पूरा दिन पेट भरा-भरा सा रहता है जिससे मोटापा नियंत्रित रहता है।

गर्म पानी का सेवन
चर्बी घटाने के लिए जरूरी है पानी का सेवन करना। पानी के बिना इंसान का जीवन नहीं है। इसलिए यदि जल्दी मोटापा घटाने की चाह रखते हैं तो हल्का गर्म पानी या गुनगुना पानी का सेवन करें। जो लोग अधिक मोटापे से परेशान हैं वे खाना खाने के आधे घंटे के पश्चात गुनगुना पानी का सेवन करें।

गुनगुना पानी पीने से शरीर में मौजूद खराब और विषैले तत्व बाहर आ जाते हैं। यही नहीं गुनागुना पानी गंदगी के अलावा किडनी के रोगों को भी ठीक करता है।
गर्म पानी पीने से पेट की गैस और कब्ज की समस्या भी ठीक हो जाती है। गर्म पानी शरीर में खून का संचार भी ठीक करता है और मोटापे को घटाने के साथ चेहरे में भी चमक लाता है। गर्म पानी इंसान की रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है। यदि आप जल्दी पतला होना चाहते हैं तो गर्म पानी का सेवन करना शुरू कर दें।

एलोवेरा

वजन घटाने के लिए एलोवेरा के पत्तों से उसके रस को निकाल कर उसका सेवन सुबह के समय में करें।

शाकाहारी
यदि आप शकाहारी भोजन खाते हैं तो इससे आपका मोटापा नहीं बढ़ेगा। लेकिन यदि आप अधिक मोटे हैं तो आप पूरी तरह से शाकाहारी हो जाएं। हाल ही में शोधकर्ताओं ने भी माना है शाकाहारी भोजन करने वाले लोगों पर मोटापा असर नहीं करता है। मांसाहार बीमारियों और मोटापे को तेजी से बढ़ाता है।
करौंदे का रस
बाजार में आपको आसानी से करौंदे का रस मिल जाता है। यह आपके वजन घटाने में बहुत ही लाभदायक है। यह शरीर में मेटाबाॅलिज्म को ठीक रखता है।
फलों का रस
आप मौसम के अनुसार मौजूद फलों के रस का सेवन करें। इससे आपका मोटापा नियंत्रित रहता है।
मानसिक योग
यह प्रक्रिया भी आपका वजन तेजी से घटाती है। इस क्रिया को करने के लिए सबसे पहले आप अपने मन में हमेशा यह सोचें कि मैं स्लिम व पतला हो सकता हूं। मुझे अपने को फिट रखना है। आपको हमेशा अपने दिमाग में अपने को हल्का और कम वजन वाला सोचते रहना है।

कैनबेरी का जूस

इस जूस में नींबू का रस मिलाकर पीने से मोटापा कम होता है। क्योंकि कैनबेरी के जूस  एंटीआक्सीडेंट और विटामिन सी होता है। जिससे शरीर की अतरिक्त चर्बी घटती है।

 

एप्पल साइडर

अब शोध में इस बात को मान लिया गया है कि एप्पल साइडर का जूस या पानी पीने से पाचन शक्ति मजबूत होती है जिससे मोटापा भी कम हो जाता है।

धनिया

धनिया का जसू पीने से पेट पूरे दिन भरा हुआ रहता है जिससे अतरिक्त खाना खाने की इच्छा नहीं होती है। और जिस वजह से वजन भी नियंत्रित रहता है।

सलाद का सेवन
सुबह हो या शाम आपको सलाद का सेवन जरूर करना है। इससे आपको कम कैलोरी और हाई फाइबर मिलता है जो कमर की चरबी को आसानी से कम करता है।

  • खाना खाने के बाद एक गिलास गर्म पानी को घूंट लेकर पीएं आपका मोटापा कम होगा।
  • रात्री को सोने से 2 घंटा पहले खाना खाएं।
  • कम से कम 200 कदम घर पर या बाहर टहले।
  • बाहर निकला हुआ पेट अंदर करने के आसान घरेलू तरीके
    • नियमित रूप से पपीता का सेवन करें। पपीता हर मौसम में मिलता है। पपीते में कई तरह के गुण होते है जो पेट की चर्बी को जल्दी घटाते है।
    • पत्तागोभी का जूस रोज पीएं। इसकी आदत डाल लें। इस जूस में चर्बी को घटाने के गुण होते हैं।
    • जितना हो सके आप आलू, चावल और चीनी का  सेवन कम से कम कर दें। क्योंकि इनमें अधिक कार्बोहाइड्रेट होता है। जो मोटापे को बढ़ाते है।
    • गेहूं के आटे की रोटी खाने की बजाए सोयाबीन, चना और गेहूं के आटे को मिलाकर यानी मिश्रित आटे की रोटी का सेवन करें।  मिश्रित आटे में वसा की मात्रा कम होती है जो चर्बी को बनने नहीं देती है।
    • छाछ भी तेजी से वजन घटाती है इसलिए एक दिन में दो से तीन बारी छाछ का सेवन करें।
    •  अपने खाने में दही का इस्तेमाल जरूर करें। पेट को अंदर करने के लिए दही सेवन फायदेमंद है।
    • हल्दी और आंवले के चूर्ण को बराबर मात्रा में मिला लें और इसे छाछ के साथ मिलाकर पीएं। यह कमर को बिलकुल पतला और स्लिम बनाती है। ये उपाय भी काफ़ी सफल रहा है।
    • यदि मोटापा कम नहीं हो रहा हो तो अपने खाने में हरी मिर्च या काली मिर्च को शामिल करें। नए शोध में बताया गया है कि वजन कम करने के लिए सबसे आसान तरीका है मिर्च को खाना। मिर्च में कैप्साइसिन तत्व पाया जाता है जो भूख को कम करता है और इससे उर्जा की खपत बढ़ती है और वजन नियंत्रण में रहता है।
    • 2 चम्मच देसी शहद को एक चम्मच पुदीने के रस में मिलाकर नियमित लेने से पेट अंदर होता है और वजन भी घटता है।
    • पुदीने की चाय बनाकर पीने से मोटापा जल्दी कम होता है।
    • फलों और सब्जियों में कैलोरी कम होती है इसलिए जितना हो सके आप फलों और सब्जियों का सेवन अधिक करें। केवल चीकू और केला न खाएं। ये मोटापा बढ़ाते हैं।
    • टमाटर का 250 ग्राम रस 3 महीने तक सुबह खाली पेट लें। यह बहार निकले हुए पेट को अंदर कर देगा।
    • सलाद में प्याज और टमाटर खाएं और इसमें नमक और काली मिर्च का पउडर डालें। सलाद खाने से पेट जल्दी भरता है और वजन नियंत्रित होता है।

नींद

यदि नींद पूरी न हो तो इससे अक्सर अधिक भूख लगती है। जिस वजह से शरीर के हार्मोन्स ठीक तरह से कार्य नहीं कर पाते हैं। और भूख अधिक लगती है साथ ही भोजन  पचने की क्षमता कम हो जाती है। इसलिए पर्याप्त नींद जरूर लें। कम से कम 8 घंटे की नींद जरूर लीजिये।

स्लिमिंग एंजेट को शामिल करें

वजन को नियंत्रित रखने के लिए स्लिमिंग एजेंट जैसे मिनरल और विटामिन अधिक से अधिक खाएं। इनमें कैलोरी बेहद कम होती है जो वजन को नियंत्रित करती हैं। लेकिन ये उपाय करने से पहले आप डॉक्टर से सलाह जरूर लीजिये।

टेंशन कम लें

पुरूषों को चाहिए कि वे तनाव को अपने उपर हावी न होने दें। तनाव की वजह से भी वजन बढ़ता है। इसके लिए ध्यान और योग करे। और इस बात को भी समझे की इस दुनिया में सब कुछ नाश्वर है तो किस बात की चिंता।

मोटापा घटाने के लिए करें ये परहेज

क्रेश डायट न लें                                         ये भी पढे अंकुरित चनो के फायदे

क्रेश डायट वजन कम तो जरूर करती है लेकिन यह चर्बी घटाने के साथ मांसपेशियों को भी गलाने लगती है। और बाद में गली हुई चर्बी  वापस आ जाती है। क्रेश डायट लेने से सांस की बदबू, सिर दर्द और मतली जैसे समस्याएं हो सकती हैं।

 अदरक और लाल मिर्च

लाल मिर्च और अदरक को कूट लें और इन्हें मिलाकर इसका सेवन करें। इससे मोटापा घटता है।

सुबह केला खाने के बाद गर्म पानी पीने से घट जाएगा मोटापा
वजन घटाने के लिए यदि आप कई कोशिशों के बाद भी थक गए हैं और नतीजा नहीं आ रहा हो तो बस एक आसान सा उपाय जरूर करें। इस उपाय से आपका वजन जरूर घट जाएगा। यह उपाय पूरी तरह से प्राकृतिक है। यदि आप सुबह के समय में केला खाने के बाद एक गिलास गुनगुना पानी पीएगें तो वजन तेजी से घट सकता है। इसके अलावा आपको अपने खान पान में किसी भी चीजे को कम या बढ़ाने की जरूरत नहीं है। आप जो खाते हैं वे खाते रहें बस सुबह के समय में नाश्ते में केवल केला जितना आप खा सकते हैं खाएं यानि कि भर पेट और बाद में एक गिलास गुनगुना पानी पी लें।

इस उपाय को रोज कुछ दिनों तक करते रहना। एक भी दिन छोडें ना।

कैसे कम करता है केला और गुनागुना पानी ये भी आपके लिए जानना बेहद जरूरी है।

केले में मौजूद गुण शरीर के मेटाबाॅलिज्म को बढ़ा देते हैं और उसी वजह शरीर की पाचन करने की क्रिया भी बहुत तेजी से होने लगती है। जिससे मोटापा आसानी से कम होने लगता है।

केला खाने से आपका पेट अधिक समय तक भरा रहता है। और आपको और कुछ लेने की इच्छा नहीं होती है। साथ ही साथ केला आपके शरीर में उर्जा में भी किसी तरह की कमी को नहीं आने देता है। केला शरीर की क्षमता को भी बढ़ा देता है।

क्यों केला खाने के बाद गरम पानी पीना चाहिए
केला खाने के बाद गुनगुना पानी पीने से शरीर में पानी की कमी नहीं होती है। इसलिए हमेशा सुबह के समय में सादा पानी ही पीना चाहिए।

इस उपाय को करते समय एक चीज का जरूर ध्यान रखें कि आप अपने भोजन में मीठी चीजों को लेना कम कर दें। इसके अलावा केला ताजा होना चाहिए ज्यादा पुराना नहीं। आपको इसका फायदा और तेजी से मिलेगा।

केले खाने के बाद गुनगुना पानी पीने से एक और फायदा मिलता है वो है चेहरे में प्राकृतिक चमक का आना। केला और गुनगुना पानी त्वचा की गंदगी को भी साफ कर देते हैं। जिससे आपकी त्वचा खिल उठती है।

कैलोरी वाली चीजें

आपको फैट बढ़ाने वाली चीजों जैसे पिज्जा, बर्गर और नूडल्स आदि से भी परहेज करना है। इसके अलावा शराब और कोला आदि का सेवन भी न करें।

वजन कम करना कठिन नहीं है बस आपको अपने खान-पान में थोड़ा सा चेंज करना है। जिससे आप पतले और स्लिम होने लगोगे। जितना हो सके फास्ट फूड से परहेज करें। क्योंकि एक बार मोटापा बढ़ता है तब यह आसानी से घटता नहीं है जिस वजह से उम्र तो अधिक लगने लगती है साथ ही अनेक बीमारीयां भी शरीर पर लगने लगती है।

आपको अपने जीवन शैली में एक छोटा सा परिवर्तन लाना जरूरी है। जैसे चढ़ने और उतरने के लिए सीढ़ी का इस्तेमाल करें। साईक्लिंग करना, जाॅगिंग, टहलना, और व्यायाम जरूर करें। एैसा करने से आपकी कमर की चरबी तो कम होगी ही साथ ही आपको मोटापे से मुक्ति मिल जाएगी। इसलिए आप इन घरेलू उपायों को अपनाकर पेट की चर्बी को कम कर सकते हो।

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।