जल चिकित्सा से करे रोगों को दूर

जल चिकित्सा प्राचीन प्राकृतिक चिकित्सा है। यह किसी औषधि से कम नहीं है। जल ही जीवन है आपने सुना ही होगा। जल शरीर को निरोग, स्वस्थ और लंबी उम्र प्रदान करता है। प्राचीन समय में हमारे श्रृषी जल चिकित्सा का प्रयोग करते थे। वर्तमान में कम ही लोग जानते है जल चिकित्सा को । आइये आपको बताते हैं जल चिकित्सा के फायदों को जो आपको गंभीर रोगों से बचायेगा।

जलचिकित्सा पद्धति के फायदे-

 

 
1. जल सेवन करने से खून तरल व गतिशील बना रहता है।
2. प्रतिदिन शीतल जल से नहाने से काली खांसी से राहत मिलती है।

 ये भी पढे-पुरूषों के लिये ब्यूटी प्रोडक्टस

3. बुखार तेज होने पर रोगी को प्रत्येक आधे घंटे में ठंडा पानी पिलाते रहना चाहिए।
4. जी घबराने या दिल की धड़कने बढ़ने पर ठंडा जल घूंट-घूंट कर पीने से तुरंत राहत मिलती है।
 
5. रात को तांबे के बर्तन में पानी भरकर रखें और सुबह उस पानी को पीने से पेट संबंधी रोग दूर होते हैं।
 
6. यदि आप मोटापे से परेशान हो तो आप डटकर पानी पीयें क्योंकि पानी पीने से आपका पेट भरा रहेगा और शरीर को अधिक भोजन की जरूरत नहीं पड़ेगी।
 
7. गुर्दे शरीर का अहम हिस्सा है। पानी को नियमित पीने से गुर्दे की कार्यक्षमता बढ़ती है और यह सही तरह से काम करता है।
 
  
8. पानी के नियमित सेवन से याददाश कमजोर नहीं होती।
 
  
9. सुबह उठकर पीया गया पानी आपके यौवन और आपकी उम्र को बढ़ाता है।

 
10. यदि पथरी की समस्या से ग्रस्त हैं तो भोजन करने के पश्चात एक गिलास गर्म पानी का सेवन जरूर करें।

 
11. पैरों में सूजन आने के समय एक टब गर्म पानी में थोड़ा सा नमक डालकर पैरों को उसमें डूबाकर रखें। एैसा करने से पैरों की सूजन और दर्द ठीक हो जाता है।
 
12. सुबह उठकर ठंडे़ पानी के छींटे आखों पर मारने से आंखों की ज्योती बढ़ती है और आखें साफ रहती है।
 
13. गला खराब होने पर या गले में टांसिल्स होने पर गर्म पानी में 1 चुटकी नमक डालकर गरारे करने से गले को राहत मिलती है।
 
14. पीठ दर्द और कमर दर्द से आप परेशान हो तो आप गरम पानी को किसी बोतल में डालकर सिकाई करें, इससे दर्द में राहत मिलेगी।
 
15. यदि गठिया के दर्द से परेशान हो तो नमकीन पानी में नहायें।
 
16. उल्टी, दस्त और डिहाइड्रेशन से रोगी की जान तक चली जाती है इसलिए पानी ही एक मात्र साधन है इन रोगों से बचने का।
 
17. तेज बुखार होने पर माथे व पेट पर ठंडे पानी की पट्टी रखें एैसा करने से बुखार कम होता है।
 
18. नियमित पानी के सेवन से आपको कब्ज़ से राहत मिलती है।
 
19. ठंडे जल से नहाने से आपको ताजगी और स्फूर्ती मिलती है।

image credit-gettyimages.in
 

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।