वास्तु टिप्स – घर में नकारात्मक ऊर्जा से बचाव

कभी आपने सोचा है की घर में अचानक से परेशानी आने लगी हैं। अचानक से घर में कलेश होना, किसी काम में मन ना लगना, घर का कीमती सामान टूटना और पैसों की कमी होना आदि। इनकी मुख्य वजह घर में नकारात्मक उर्जा का प्रवेश करना। कैसे दूर करें नकारात्म उर्जा को घर से। वैदिक वाटिका आपको बता रही है वास्तु शास्त्र के कुछ टिप्स जिनसे आपको फायदा मिलेगा।

घर से नकारात्मक उर्जा दूर करने के वास्तु टिप्स

फर्श को इस तरह साफ करें
वास्तु शास्त्र के अनुसार यदि आप नमक के पानी से घर के फर्श पर पोछा लगाते हैं तो इससे बुरी आत्मा घर से बाहर चली जाती है। दूसरा फायदा यह होता है कि नमक के

पानी से घर साफ करने से किसी भी तरह की बीमारी घर में नहीं आती है। एक चम्मच नमक को एक पानी की बाल्टी में डालकर इसका पोछा फर्श पर लगाएं।

तेल को जलाएं
तिलों के तेल को आग में जलाने से घर में नकारात्मक उर्जा कभी नहीं आती है। तिल का तेल बुरी से बुरी नजर को घर से निकाल देता है।

कबाड़ा
वास्तु शास्त्र कहता है कि यदि घर में कबाड़े के तौर पर पुरानी चीजें पड़ी हों तो उसे किसी को दान दे देना चाहिए। पुराना और किसी काम ना आने वाली चीजें बहुत जल्दी ही इंसान के मन में असर करती हैं। जिससे नकारात्मक उर्जा आती है।

घर के कोने
घर के कोने में अक्सर हम लोगों का ध्यान नहीं जाता है। वास्तु के अनुसार घर के कोनों में बहुत जल्दी से बुरी शक्तियां बैठ जाती हैं। इसलिए घर के कोने में आप धूप या कपूर जलाएं। इसके अलावा घर के कोनों को साफ करते रहें।

घर की दीवार पर लगाएं चित्र
घर की दीवार को कभी खाली ना रखें। यहां पर आप अपने गुरू देव या किसी देवी देवता की मूर्ति लगा सकते हैं। इस वास्तु उपाय से नकारात्मक उर्जा कार्य नहीं कर पाती है।
पौधे
अपने घर की बालकनी के गमले में पौधे लगाएं। और बागवानी करें। एैसा करने से आपके अंदर उर्जा प्रभावित होती है और आपकी सोच सकारात्मक होती है। बागवानी करने से खुशी का विकास होता है।

अचूक मंत्र का जाप करें
जैसा कि हम आपको बता ही चुके हैं कि मंत्रों में कितनी शक्ति होती है। गायत्री मंत्र का जाप करने से नकारात्मक उर्जा घर में नहीं आती है। यदि आपके पास गायत्री मंत्र को जपने का समय नही हो तो आप इसे गाने के रूप में सुन भी सकते हैं। वास्तु शास्त्र के अनुसार ये मंत्र मन को शांत करता है।

सूर्य का प्रकाश
यदि घर में अंधरे रहता हो तो बुरी शक्तियां घर के अंदर बैठ जाती हैं और घर के लोगों में आपस में कलेश और झगड़े करवाने लगती हैं। इसलिए आप घर के दरवाजों और खिड़कियों को दिन के समय खोलें ताकि घर में उजाल व ताजी हवा आ सके।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।