त्वचा की देखभाल कैसे करें – मौनसून में

हर मौसम का हमारी त्वचा पर असर पड़ता है। और हमें इसके लिए पहले से ही तैयार रहना चाहिए ताकि जब भी मौसम बदले हम अपनी त्वचा पर बदलते हुए मौसम के असर को ना पड़ने दें। हम बात कर रहें है बारिश के मौसम यानि की मौनसून की। गर्मियों से राहत दिलवाता है मौनसून लेकिन इससे त्वचा पर कई तरह के बुरे प्रभाव भी पड़ते हैं। वैदिक वाटिका आपको बता रही है कैसे अपनी स्किन का ख्याल रखें मौनसून के मौसम में।

बारिश के मौसम के आते ही त्वचा में चिपचिपाहट और काले दाग होने लगते हैं इसके अलावा चेहरे का रंग भी अजीब सा हो जाता है। तब यह समझ में नहीं आता कि अब क्या करें। लेकिन परेशान ना हों बस इस्तेमाल करें यें घरेलु टिप्स।

रूखी त्वचा के लिए
मौनूसन में त्वचा का रूखा होना एक आम समस्या है। अक्सर बारिश के मौसम में हम लोग पानी कम पीते हैं। जिससे त्वचा हाइड्रेटड नहीं हो पाती है। रूखी त्वचा से बचने के लिए जितना हो सकता है आप पीनी जरूर पीएं। इससे चेहरे पर अपने आप ही ग्लो आ जाएगा।

काले दाग व धब्बे हटाने के लिए
काले धब्बों और दाग को हटाना है तो इसके लिए आटे को एक कटोरी में डालें और उसमें कच्चे अंडे का बाहर का सफेद भाग जिसे अंडे की जर्दी भी कहते हैं उसका चूर्ण बनाकर आटे में मिला लें। और उपर से थोड़ा पानी इसमें मिला लें।

अब चेहरे के जिस हिस्से में कालापन या धब्बे हों उस पर इस पेस्ट को हल्के.हल्के हाथों से लगाएं। पंद्रा मिनट के बाद चेहरे को हाथो से रगड़ें और ठंडे पानी से अपना चेहरा धो लें। इस उपाय से आपको मानसून की वजह से होने वाले काले धब्बों से राहत मिलेगी।
बादाम, नींबू और दही से बना प्राकृतिक स्क्रब
बादाम और दही से बना हुआ फेस स्क्रब को बनाने के लिए आप दही में कुटा हुआ बादाम और नींबू के सूखे हुए छिलकों का बना चूर्ण मिला लें। जब पेस्ट बन जाए तब इसे अपने चेहरे पर लगा लें। और सूखने के दस मिनट के बाद पानी से अपना चेहरा धो लें। इस उपाय से चेहरे का कालापन और गंदगी दूर हो जाती है। आप इस नुस्खे को सप्ताह में तीन बार कर सकते हैं।
चेहरे पर ग्लो लाने के लिए
मौनसून के मौसम में चेहरे पर ग्लो लाना चाहते हैं तो एक चम्मच शहद कोए दो चम्मच आटे में मिला लें और फिर इसमें थोड़ा सा गुलाबजल को मिलाकर पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को चेहरे पर आधे घंटे के लिए लगाएं। जब यह सूख जाए तब आप ठंडे पानी से अपना चेहरा धो लें। यह एक तरह का प्राकृतिक फेस मास्क भी है।

कुछ मुख्य बातों पर भी ध्यान दें
केवल त्वचा पर बाहर से प्राकृतिक चीजों को ही लगा देने से काम नहीं होगा। यदि आप अपने खान-पान में ध्यान नहीं दिया तो इससे आपकी त्वचा कमजोर हो सकती है। त्वचा को अंदर से भी पोषण की जरूरत होती है इसलिए आप फलों का जूस और हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन करें।

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।