स्वस्थ रहने के तरीके

जाने स्वस्थ और फिट रहने के आसान तरीके ताकि आप अपनी सेहत की कर सकें बेहतर देखभाल, tips to stay fit and healthy in hindi

आयुर्वेद में हमें सभी को स्वस्थ रहने के हर पहलू के बारे में बताया गया है। भले ही वो सही तरीके से खाना खाने की बात हो या सुबह जल्दी उठने की और इसके इलावा मेडिटेशन करने की आदत के बारे में आयुर्वेद के अनुसार बीमारियों से दूर रहने के लिए हमारे शरीर और दिमाग को एक हेल्दी रूटीन की जरूरत पडती है। जब आप इन सामान्य नियमों का पालन सही तरीके के साथ करते हो तब आपके जीवन में सकारात्मक बदलाव आने लगता है।

जब आप सही समय पर खाना खाने की आदत बना लेते हैं तब आपको तुरंत कोई फर्क नहीं पड़ता। यह शरीर और दिमाग के बीच बिल्कुल धीरे धीरे काम करता है और अंत में स्थाई परिणाम देखने को मिलता है।  आजकल  की खराब जीवन शैली, अधिक तनाव और ज्यादा समय तक बैठे रहने से डायबीटीज, मोटापा और ब्लड प्रेशर जैसी समस्याएँ उत्पन्न होने लगती है। आज के समय में अगर आप अपने स्वास्थ्य को सही रखना चाहते हो तो आपको अपनी कुछ आदतों को बदलना चाहिए। आइये जानते हैं स्वस्थ रहने के तरीके के बारे में।

स्वस्थ रहने के तरीके

समय पर और हल्का डिनर करें

एक पुरानी कहावत है – राजा की तरह नाश्ता ले और भिखारी की तरह डिनर करें। इसका मतलब है कि रात का खाना सबसे हल्का होना चाहिए। अधिक खाना खाने की बजाय ज्यादा सलाद खाएं आठ बजे तक हो सकें तो रात का खाना खा लें रात में अधिक खाना खाने से बचने के लिए दोपहर का खाना संतुलित मात्रा में खाएं।

रात में जल्दी सोएं

अगर आप रात को देर तक जगने से शरीर का बायोलाजिकल प्रो: समय फोन और सोशल मीडिया के प्रयोग से दूर रहना चाहिए। सोते समय सबसे पहले ध्यान भटकाने वाली सभी चीजों से दूर रखना चाहिए। अपने शरीर और दिमाग को आराम दें। कमरे की लाइट बंद करने से मैलटोनिन रिलीज होता है। जिससे आपको धीरे धीरे नींद आने लगती है अगर आप रात को जल्दी सो जाते है तो सुबह जल्दी उठने की संभावना अधिक होती है क्योंकि आप अपनी पूरी नींद ले चुके होते हैं।

भोजन के साथ पानी न लें

भोजन के साथ पानी नहीं पीना चाहिए दोपहर के भोजन के घंटे भर बाद पानी पीना चाहिए। अगर भोजन कड़ा और रुखा हो तो दो से चार घूंट पानी के पी लें।

पानी का सेवन

आपको स्वस्थ रहने के लिए पानी का अधिक से अधिक सेवन करना चाहिए। आपको दिन में आठ से दस गिलास पानी के पीने चाहिए।

हेल्दी भोजन करें

अपने भोजन में पोषक तत्वों जैसे हरी पत्तेदार सब्जियों, फल, सलाद और हल्का प्रोटीन लें वसायुक्त और रिफ़ाइन्ड खाद्य पदार्थो से परहेज करें और जितना हो सकें अपने आहार में साबुत अनाज लें। अपने भोजन में मसालों को भी शामिल करें। ऐसा करने से इम्यून सिस्टम बेहतर होता है।

चाय कॉफी से दूरी

आपको अपने स्वस्थ जीवन में चाय कॉफी से दुरी बना कर रखनी चाहिए और इसके स्थान पर सादा ठंडा यह गुनगुना पानी, नींबू पानी, छाछ, गाजर, पालक, चुकन्दर,लोकी आदि सब्जियां एंव मौसम्मी या संतरा,पपीता इत्यादि फलो के रस का सेवन करना चाहिए।

मसाज करें

नहाने से पहले नारियल, शीशम या ओलिव आयल से अपने शरीर की मसाज करें। मसाज करने से आपका शरीर फुर्तीला बनता है। लिंफ से पानी को बाहर निकालने से लेकर एंटी एन्जिग में शरीर का मसाज काफी फायदेमंद होता है। व्यक्ति को आराम से बैठकर अपने शरीर को अच्छे से देखना चाहिए और अगर शरीर पर किसी प्रकार का घाव हो तो उस पर विशेष ध्यान दें। नियमित मसाज से निखार आता है।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।