सोंठ के फायदे

विस्तार में जाने सोंठ के फायदे आपकी सेहत के लिए क्यूंकि यह लाभ करती है दर्द, गठिया, कब्ज, पेट दर्द और शुगर आदि पर नियंत्रण के लिए.

दोस्तों आज हम सोंठ के फायदे में जानकारी प्राप्त करेंगें। सोंठ का उपयोग मसाले के साथ साथ हम सोंठ का उपयोग आयुर्वेद में भी करते हैं। यह हमारे शरीर के लिए बेहद उपयोगी होता है क्योंकि यह कई तरह की बीमारियों के इलाज में काम आती है। देखा जाएं तो हम सोंठ का इस्तेमाल गठिया जैसी बीमारी से लेकर सांस संबंधी बीमारी तक करते हैं।

सोंठ के फायदे में हमें बहुत से फायदे देखने को मिलते हैं जैसे कब्ज संबंधी समस्या, वायरल बुखार, गठिया दर्द, पेट दर्द, दस्त में, गैस आदि में सौंठ का इस्तेमाल कर सकते हैं। आइये सौंठ के फायदे में पूरी जानकारी प्राप्त करें।

  1. कब्ज की परेशानी –

कब्ज जैसी समस्या से निजात पाने के लिए आप सोंठ का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए आपको धनिया और सोंठ का काढा बनाकर पीना चाहिए। नियमित रूप से इसका सेवन करने से आपको कब्ज की दर्द और दिक्कत से छुटकारा मिल जायेगा।

  1. गठिया दर्द –

सोंठ के फायदे में एक फायदा यह हैं कि यह गठिया रोग में बहुत मददगार होता है। गठिया की शिकायत होने पर अजवाइन, सोंठ और हरड को बराबर मात्रा में लेकर चूर्ण तैयार करें। फिर उस चूर्ण को उबालें उबले हुए पानी की छानकर ठंडा कर लें और पी लें।

  1. वायरल बुखार –

वायरल बुखार होने पर दो लौंग, ¼ चम्मच सोंठ और 8 ग्राम इलाइची पाउडर को मिलाकर उबालें। जब पानी का आधा रह जाएं तब उस पानी को छानकर दिन में तीन बार पियें। इस प्रकार करने से आपको वायरल बुखार से निजात मिल जायेगीं।

  1. पेट दर्द –

पेट दर्द में सोंठ बहुत गुणकारी होती है। पेट दर्द होने पर काला नमक, सोंठ और थोड़ी सी हींग को मिलाकर चूर्ण तैयार कर लें। इस चूर्ण का सेवन करने से आपको पेट दर्द से राहत मिल जायेगीं। साथ ही इसका इस्तेमाल करने से आपको गैस का सामना भी नहीं करना पड़ेगा।

  1. दस्त होने पर –

दस्त जैसी समस्या होने पर गुड और सोंठ के चूर्ण को छाछ में मिलाकर पियें। इस प्रकार करने से आपको दस्त से राहत मिल जायेगीं। पानी में सोंठ को उबालकर पीने से भी दस्त ठीक हो जाते हैं।

  1. हिचकी की परेशानी –

यदि आपकी हिचकी नहीं रूक रही और आप इससे परेशान हो चुके हैं। तो दूध के साथ सोंठ को उबालें और ठंडा होने पर सोंठ वाले दूध का सेवन करें। इस प्रकार आपकी हिचकी ठीक हो जाएगी।

  1. पसलियों के दर्द में –

सौंठ के फायदे में एक फायदा यह भी हैं कि यह पसलियों के दर्द में भी कारागार होती है। पसलियों में दर्द होने परे सोंठ को पान में उबालें। अब उस पानी को ठंडा काके दिन में कम से कम चार बार उस पानी का सेवन करें। आपको पसलियों के दर्द से राहत का अहसास होगा।

  1. कैंसर रोधी गुण –

सोंठ में कैंसर रोधी तत्व मौजूद होते हैं। यह कैंसर के सेल्स को बढने से रोकते हैं इसके साथ ही सोंठ गर्भ में होने वाले कैंसर को भी रोकता है। जो लोग सौंठ का नियमित रूप से इस्तेमाल करते हैं वो कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से बचे रहते हैं।

  1. जोड़ों के दर्द में –

जोड़ों के दर्द में सूखी अदरक जिसे हम सोंठ कहते हैं वो काफी लाभकारी होती है। इसके लिए सोंठ, जायफल को पीस कर तिल के तेल में डालें। उस तेल में पट्टी को भिगोकर जोड़ों पर लगाने से आपको आराम प्राप्त होगा।

  1. पाचन क्रिया को दुरुस्त करें –

सोंठ पाचन क्रिया को दुरुस्त करके वजन को कम करने में भी मददगार होती है।

  1. शर्करा को नियंत्रित करें –

सोंठ रक्त में मौजूद शर्करा के स्तर को नियंत्रित करके वसा को सक्रिय करने में मदद करता है।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।