शहद और दूध के फायदे

शहद और दूध दोनों ही प्राचीन औषधियां हैं। जिनका इस्तेमाल आयुर्वेद मे कई तरह की बीमारियों को खत्म करने के लिए किया जाता है। जब शहद और दूध आपस में मिलते हैं तब इनके फायदे दोगुने से भी अधिक हो जाते हैं। दूध में विटामिन ए, बी और डी के साथ लैक्टिक एसिड और प्रोटीन भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं वहीं दूसरी ओर शहद में पोटेशियम, लोह, तांबा और आयोडीन के साथ सभी तरह की विटामिन्स पाये जाते हैं। आइये जानते हैं दूध और शहद को मिलाकर पीने से मिलने वाले फायदे।

शहद को दूध में मिलाकर पीने के फायदे
त्वचा की देखभाल
दूध में शहद को मिलाकर पीने से त्वचा में निखार आने लगता है और त्वचा की सारी गंदगी के साथ-साथ कीलए मुंहासे और पिंपल आदि दूर हो जाते हैं। त्वचा में प्राकृतिक चमक भी आती है। इसके अलावा आप दूध और शहद को मिलाकर चेहरे पर भी लगा सकते हैं।

शरीर को अंदर से बनाए मजबूत
दूध और शहद मिलकर एंटीबैक्टीरियल दवा के रूप काम करने लगते है। जिसका फायदा हमें बुखारए सर्दी व जुकाम से होने वाली समस्याओं में मिलता है।

बढ़ती उम्र के असर में
यदि आप नियमित रूप से शहद को दूध के साथ मिलाकर सेवन करते हो तो आप के उपर बढ़ती उम्र का असर जैसे कमजोरी और झुर्रियां आदि का प्रभाव खत्म हो जाएगा। और बुढ़ापा आपको जल्दी नहीं आएगा।
पाचक के रूप में
यदि आपको खाना नहीं पचता है और पेट में हमेशा दर्द बना रहता हो तो आप दूध में शहद को मिलाकर इसका सेवन करते रहें। कुछ ही दिनों में आपकी यह समस्या ठीक हो जाएगी।

श्वांस सबंधी परेशानियां
श्वांस की मुख्य समस्या जैसे दमा आदि रोग में शहद और दूध को मिलाकर सेवन करने से आपको इस समस्या से राहत मिलेगी।
हड्डियों के लिए
शहद और दूध शरीर के मेटाबाॅलिज्म के स्तर को बढ़ाते हैं। जिसकी वजह से कमजोर हो चुकी हड्डियां मजबूत बनती हैं। इसके अलावा जिन लोगों को गठिया आदि की समस्या होती हो वे शहद को दूध में मिलाकर जरूर पीएं।
उर्जा बढ़ाने के लिए
यदि आप शहद और दूध का सेवन नियमित करते हैं तो इससे आपको अच्छी मात्रा में कार्बोहाइड्रेट मिलता है और शरीर के अंदर उर्जा का संचार होने लगता है। दूध शरीर को ताकत देता है और शहद से शरीर को उर्जा मिलती है।

अनिंद्रा की परेशानी
जिन लोगों को रात को ठीक तरह से नींद नहीं आती हो या अनिंद्रा की समस्या है वे रात को सोने से पहले एक गिलास दूध में एक चम्मच शहद को मिलाकर सेवन करें। इस घरेलू नुस्खे को नियमित अपनाने से आपको अनिंद्रा की समस्या से निजात मिलेगा।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।