गर्भावस्था के दौरान यात्रा करना कितना सुरक्षित है

गर्भावस्था स्त्रियों के जीवन की एक महत्वपूर्ण अवस्था होती है जिसकी चाहत हर स्त्री को रहती है। गर्भवती स्त्री को अपने खान पान पर तो ध्यान देना ही चाहिए और साथ ही साथ कुछ सावधानियां भी बरतनी चाहिए जिससे निश्चित रूप से शिशु पर अच्छा प्रभाव पड़ेगा। गर्भावस्था के दौरान यात्रा करना कितना सुरक्षित है अब आप को इस लेख के जरिये आप को बताते हैं।

 

जहां तक गर्भवती स्त्रियों का यात्रा का सवाल है तो कोशिश करें की यात्रा करने से परहेज ही रखें विशेषतौर पर तब जब गर्भावस्था के अन्तिम सप्ताह चल रहा हो गर्भावस्था के 8 वें महीने या इसके बाद गर्भवती महिला को विशेष कर लम्बी यात्रा नहीं करनी चाहिए इसका कुप्रभाव गर्भवती के साथ साथ उसके पेट में पल रहे शिशु पर भी पड़ सकता है गर्भावस्था में स्त्रियों को स्कूटर, बाइक, बस, टैक्सी, आॅटो एंव रिक्शे आदि में यात्रा से बचना चाहिए।

 

जो रास्ते उबड़खाबड होतें हैं वहां जितनी सावधानी बरतों कम होता है एैसे रास्तों में गर्भवती स्त्री को झटके लगना स्वभाविक है अतः इस प्रकार के रास्तों से गर्भवती स्त्री बचना चाहिए रेल में यात्रा करना कुछ हद तक सुरक्षित और आरामदायक होता है। रेल यात्रा करने से पहले स्टेशन समय से आधा घंटा पहले पहुंचे। लेकिन रेल में कई तरह से कुछ परेशानियां गर्भवती महिला को आ सकती है जैसे रेल के वाशरुम थोड़े छोटे होतें हैं लेकन आपको यह ध्यान रखना है की वाशरुम का इस्तेमाल करते समय किसी न किसी वस्तु का सहारा जरुर लें।

 

वायुयान से यात्रा करना गर्भवती स्त्री के लिए ज्यादा नुकसानदेह नहीं है लेकिन हाल ही में हुए नए शोध से पता चला है कि हवाई यात्रा के दौरान आपका बल्डप्रेशर कम या अधिक होता रहता है क्योंकी आकाश में आॅक्सीजन की मात्रा कम हो जाती है तथा हवाई जहाज की सीट बेल्ट भी गर्भवती स्त्रीयों एंव गर्भस्थ शिशुओं पर कुप्रभाव डालती है।

 

 

यदि आप जलमार्ग का इस्तेमाल करती है तो यह आवश्यक हो जाता है कि गर्भवती महिला अपनी दवाइयों तथा अन्य चीजों साथ ले जाना न भूलें  गर्भवती स्त्रीयों को गर्भकाल में यात्रा से परहेज करना चाहिए यदि यात्रा अत्यंत आवश्यक है तो कोशिश करें की रेल में यात्रा हो और नीचे वाली बर्थ को आरक्षित करायें।

 

 

 

डिसक्लेमर :
वेदिकवाटिका में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी वेदिकवाटिका की नहीं है। वेदिकवाटिका में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।