शीघ्रपतन की समस्‍या के घरेलू उपाय

वर्तमान में जिस तरह की जीवनशैली लोग अपना रहे हैं उसकी वजह से इंसान कई तरह की बीमारियों से घिरता जा रहा है। आजकल के युवाओं में सबसे बड़ी समस्या है शीघ्रपतन और योन संबंधों के प्रति अरूचि का होना साथ ही ये समस्या महिलाओं में भी देखी जा रही है। इसकी मुख्य वजह है मानसिक तनाव, चिंता आदि जिसका असर है पुरूषों का जल्दी से संखतिल होना है। एैसी ही समस्या गर्भवती महिलाओं में भी गर्भ में पल रहे बच्चे पर दुष्प्रभाव के रूप में देखी जा सकती है। इस तरह की समस्या को दूर करने के लिए आपको अपने आप को दिमागी रूप से रचनात्मक बनाना पड़ेगा यानी आपको तनाव नहीं लेना अपितु उसकी जगह अपने अंदर सकारात्मक सोच बनानी है। नियमित रूप से व्यायाम करना भी जरूरी है। वैदिक वाटिका आपको शीध्रपतन की समस्या को दूर करने के कुछ आयुर्वेदिक घरेलू नुस्खों को बता रहा है जो आपके लिए बेहद फायदेमंद होगें।

शीघ्रपतन का घरेलू नुस्खों द्वारा इलाज
मुनक्के
यह शरीर में खून और वीर्य को बढ़ाता है। इसके लिए 60 ग्राम मुनक्के भिगों दें और 12 घंटे के बाद इनको चबा कर खाएं। भीगे हुए मुनक्के वीर्य की बढ़ाते हैं और पेट संबंधी कई तरह की बीमारियों को भी दूर करते हैं। धीरे-धीरे आप अपनी डायट में मुन्क्कों की मात्रा 200 ग्राम तक भी ले जा सकते हो। साल में चार किलो मुनक्के खाना हर पुरूष के लिए बेहद लाभदायक होता है।

जामुन का प्रयोग
जामुन वीर्य को बढ़ाने का काम करता है और उसे गाढ़ा करता है। अक्सर देखा गया है कि जिन पुरूषों का वीर्य पतला होता है वे थोड़ी सी उत्तेजना में उनका वीर्य संखलित हो जाता है। वे डेली शाम को 5 ग्राम जामुन की गुठली का चूर्ण गरम दूध के साथ ले सकते हैं। जामुन की गुठली का चूर्ण आप अपने घर में खुद भी बना सकते हो।

इसबगोल
पांच ग्राम मिश्री, पांच ग्राम इसबगोल और पांच ग्राम शर्बत खशखश को मिला लें और इसे पानी के साथ घोल कर पीएं। यह शीध्रपतन की समस्या को दूर करता है। जिससे वीर्य जल्दी से संखलित नहीं होता है।

दालचीनी
दालचीनी भी आपको किसी भी दुकान पर आसानी से मिल सकती है। दालचीनी को पीसकर बारीक पाउडर बना लें और रात को सोने से पहले 4-4 ग्राम दूध के साथ लें। यह दूध को पचाने के साथ वीर्य की मात्रा को भी बढ़ाता है।

बादाम
जिन पुरूषों का वीर्य संभोग के शुरूआती दौर में निकल जाता है उनके लिए बादाम बेहद जरूरी है। 6 काली मिर्च, 2 ग्राम सोंठ, मिश्री और 6 बादाम की गिरी को मिलाकर खायें और बाद में गरम दूध पीएं।बेर और नाशपाती पुरूषों को हमेशा बेर व नाशपाती का सेवन करना चाहिए। बेर व नाशपाती शुक्रवर्धक प्राकृतिक फल हैं।

कतीरा
कतीरा को कूट कर उसका पाउडर बना लें और रात को एक गिलास पानी में आधा चम्मच कतीरा का पाउडर मिला लें। सुबह इस पानी में थोड़ी सी चीनी डालकर इसका सेवन करें। एैसा करने से शीघ्रपतन की समस्या दूर होती है।

छुहारा
छुहारा खाने से शीघ्रपतन और पतले वीर्य की समस्या दूर होती है। इसलिए पांच ग्राम छुहारे नित्य खाने चाहिए।

चने खाने के फायदे
भीगे हुए चने या सिके हुए चने खाने के बाद में दूध पीने से वीर्य गाढ़ा होता है। भीगी चने की दाल में शक्कर मिलाकर रात को सोने से पहले खाएं। इससे आपको फायदा होगा।

तुलसी
तुलसी के बीजों को पीसकर चूर्ण बना लें और 3 ग्राम तुलसी के चूर्ण को गुड के साथ दूध में मिलाकर सेवन करें। एैसा करने से पतला वीर्य गाढ़ा बनता है।
तुलसी के बीज को पान में रखकर खाने से शीघ्रपतन की समस्या जल्दी दूर होती है। READ: वजन कम करने के घरेलू उपाय

इन प्राकृतिक घरेलू नुस्खों के जरिए आप शीघ्रपतन की समस्या से बच सकते हो लेकिन इसके अलावा आपको अपनी जीवनशैली में भी परिवर्तन लाना होगा। कम से कम 8 घंटे सोना, समय पर नाशता करना, योग करना और टहलना आदि बेहद जरूरी है।

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।