पौरूष शक्ति के उपाय और नपुसंकता का उपचार

अच्छी सेहत ही समाज में आपको प्रतिष्ठा दिलवाती है। यदि सेहत ठीक है तो आप हर तरह के कार्य को बखूबी निभा सकते हो। हर पुरूष चाहता है कि वह उन बीमारियों से दूर हो जो उसके वैवाहिक जीवन को प्रभावित करती हों। लेकिन दौड़भाग वाली जिंदगी में कुछ न कुछ कमी रही जाती है जिस वजह से शरीर में गुप्त बीमारियां लग ही जाती हैं। आइये जानते हैं किस तरह से पुरूष हमेशा इन बीमारियों से बच सके और स्वस्थ जीवन जी सके। आपको केवल कुछ उपायों को अपनाना है जिनसे आप खुशहाल जीवन जी सकें।

 

 

नपुंगसकता के कारण

  • खान पान में कमी।
  • डायबिटीज होना।
  • अत्याधिक नशा करना।
  • अप्राकृतिक संबध।
  • गंभीर ऑपरेशन का होना।
  • किडनी या लीवर का खराब होना।
  • मनावैज्ञानिक कारण।
  • अधिक मात्रा में धूम्रपान और शराब का सेवन करना।
  • हार्मोन्स की कमी की वजह से भी पुरूष नपुसंग हो सकते हैं।

पुरूषों में नपुसंकता के लक्षण

  • संभोग के समय जल्दी से थक जाना
  • इंद्री में कठोरता की कमी होना
  • आत्मविश्वास में कमी होना
  • इंद्री का छोटा हो जाना
  • घबराहट लगना
  • संभोग के लिए उत्तेजना ना होना आदि।

पौरूष शक्ति को बढ़ाने के लिए (Ayurvedic Male Health Tips in hindi) :
1. हमेंशा सर्दी हो या गर्मी गुड का सेवन अवश्य करें।
2. शरीर हमेंशा बलवान रहेगा यदि आप गरम दूध के साथ शतवारी का चूर्ण मिश्री के साथ लेते हैं।
3. शरीर की थकान और शरीर को उर्जावान बनाने के लिए पांव के तलवों पर पानी की धार 10 मिनट तक डालें। निश्चित ही फायदा होगा।
4. तुलसी के 2 पत्तों को हमेशा खाएं कभी बीमार नहीं पड़ोगे।
5. सुबह और शाम गाय के दूध का सेवन करना चाहिए।
6. पाचन शक्ति के लिए काली मिर्च, सूखा करी पत्ता, लौंग और सोंठ को पीसकर आधा चम्मच दूध के साथ मिलाकर सेवन करें ।
7. ताकत और उर्जा पाने के लिए शिलाजीत को दूध के साथ हमेशा पींये।
8. अश्वगंधा का सेवन दूध के साथ लेने से भी आपकी शक्ति बढ़ती है।

आम

दो से तीन महीने तक आम का रस पीने से नपुंसकता दूर होती है। यह शरीर की कमजोरी को दूर करके आपको उत्तेजित करती है।

गाजर

गाजर वीर्य को गाढ़ा बनाता है। और इसके सेवन से मर्दों की कमजोरी दूर होती है।

शहद

दूध के साथ शहद मिलाकर पीने से शरीर को बल मिलता है और यह नपुंसकता को भी दूरत करता है।

छुहारा

रोज सुबह दूध में भिगोए हुऐ छुहारों को खाने से पुरूष शक्ति बढ़ती है।

नपुंसकता के रोगियों को आयुवेर्दिक उपायों के अलावा अन्य उपाय जैसे खुले मैदान में घूमना, किसी पार्क में घूमना, सूर्य उगने से पहले टहलना और नदी के किनारे घूमना आदि करना चाहिए। प्राकृतिक हवा और पानी आपके अंदर स्फूर्ति और ताकत पैदा करती है।

नपुंसकता के इलाज के लिए आप पांच ग्राम मिश्री के दानें और पांच ग्राम ईसबगोल की भूसी को रोज सुबह के समय खाएं और इसके उपर दूध पी लें। इस उपाय से शीध्रपतन और नपुंसकता दोनों दूर होती हैं।

नपुसंकता के लिए उपाय (Impotence treatment Tips in hindi) : 
1. बताशा भी आपकी शरीर की शक्ति को बढ़ाता है। इसलिए बताश्े में आक के तेल की 1 से 2 बूंद डालकर सेवन करें।
2. 2 से 3 ग्राम आक के तेल को तिल के तेल में मिलाकर अपने शरीर और अंगों की मालिश करें।
3. गाजर के 100 ग्राम हलुवे में 1 बूंद आक का दूध मिलाकर कुछ दिनों तक सेवन करें।
4. मूली के बीजों को पीस लें और उसे नित्य दही के साथ चाटने से भी लाभ मिलता है।
5. मर्दाना शक्ति को बढ़ाने के लिए आप सूखा मेवा कम से कम 2 या अधिक माह तक सेवन कर सकते हो।
6. लहसुन की 100 ग्राम मात्रा को घी के साथ भून कर पीस लें और दो चुटकी मठ्ठे या फिर दही के साथ ले।
7. नियमित रूप से छाछ का सेवन करें।
8. मानसिक तनाव को दूर करने के लिए केला अधिक से अधिक खायें। केले में पाये जाने वाले पोटशियम पुरूषों के लिए लाभदायक होता है।
9. अदरक भी आपकी ताकत को बढ़ाता है 1 चम्मच शहद में अदरक का रस डालकर सेवन करना चाहिए।

घी, प्याज का रस, अदरक का रस और शहद को आपस में बराबर मात्रा में मिला लें और इसका सेवन लगातार कम से कम एक माह तक जरूर करें। इस उपाय से भी नपुसंकता की समस्या ठीक हो जाएगी।

स्वपनदोष के निवारण के उपाय – स्वप्नदोष का घरेलू उपचार (Nightfall treatment in hindi) :

स्वप्नदोष में सपनों में यौन संबंधी चीजे दिखती हैं जिस वजह से गुप्तांग में उत्तेजना बढ़ती है और वीर्य वह संखलित होकर बाहर निकल जाता है। इसे नाइट फाल भी कहते हैं।

1. अपने डेली रूटीन में आंवले का मुरब्बे का सेवन करें। आप गाजर के जूस का सेवन भी कर सकते हो।
2. कच्चे लहसुन की 1 से 2 कली को पीसकर निगलने से स्वपनदोष से राहत मिलती है।
3. तुलसी स्वपनदोष की समस्या से निजात दिलती है। यदि आप रोज काली तुलसी के 8 से 10 पत्ते रात को सोने से पहले पानी के साथ लेते हैं तो स्पपनदोष नहीं होगा।
4. जब भी रात को सोएं पहले हाथ और पैरों को जरूर धों लें।

1. अपने खाने में भिंड़ी, टमाटर, पत्तागोभी, चुकंदर, आलू और तरबूजे, बथुआ का सेवन अधिक से अधिक करें ये आपके पौरूष शक्ति को बढ़ाते हैं।

2. मिश्री और अजावाइन को बराबर मात्रा में पीसकर डेली सुबह और शाम दूध के साथ सेवन करें। फायदा होगा।
3. यदि आप शकरगंद को उबालकर या फिर भूनकर खाते हैं तो आपकी मर्दाना शक्ति बढ़ती है।

4. अपने दिमाग को गंदी बातों की तरफ न लगाएं। यौन विचारों को मन में न आनें दें।

5. कब्ज से बचें। कब्ज की वजह से भी स्वप्नदोष होता है।

इन चीजों से परहेज करें

पौरूष शक्ति को बढ़ाने के लिए पुरूषों को अधिक खट्टी चीजों के सेवन से बचना चाहिए साथ ही तेज मिर्च मसाले आदि से भी बचना चाहिए ये सेहत के लिए सबसे खतरनाक होते हैं।

इन कारगर वैदिक उपायों को उपनाने से आप पूरी तरह सेनपुसंकता की समस्या से बच सकते हो। साथ ही आपकी पौरूष शक्ति भी बढ़ेगी।

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।