लहसुन और शहद के फायदे

लहुसन और शहद दोनो ही प्राकृतिक गुणों से भरपूर हैं। जहां लहसुन में कई प्राकार के औषधिय गुण होते हैं तो वहीं शहद में शरीर को जवां और उर्जा देने का काम करता है। लेकिन यदि दोनों को मिश्रण करके सेवन किया जाए तो आप कई बीमारियों से बच सकते हो। वैदिक वाटिका आपको बता रही है लहसुन और शहद के मिश्रण का सेवन करने से आप किन किन रोगों से आप बच सकते हो।

लहुसन और शहद को मिलाकर खाने के फायदे

साइनस और सर्दी जुकाम
यदि साइनस की समस्या हो गई हो या सर्दी जुकाम हो गया हो तो आप लसुन और शहद को मिलाकर सेवन करें। एैसा करे से शरीर के अंदर गर्मी बढ़ती है जिससे ये सभी रोग खत्म हो जाते हैं।

गले में इंफेक्शन

इंफेक्शन का गले में होना एक आम समस्या है। यह संक्रमण की वजह से होता है। शहद और लहसुन को एक साथ मिलाकर सेवन करने से गले की समस्याएं जैसे गले क सूजन, गले में खराश आदि दूर हो जाती है।

डायरिया के समस्या
यदि आपको या फिर घर में मौजूद शिशु को दस्त अधिक लग रहे हों तो आप लहसुन और शहद की थोड़ी सी मात्रा का सेवन करें। इससे डायरिया यानि दस्त की समस्या ठीक हो जाएगी। और पेट भी संक्रामक बीमारियों से बचा रहेगा।
दिल के रोग में
लहसुन और शहद को मिलाकर सेवन करने से दिल की बीमारी का खतरा कम हो जाता है। यही नहीं लहसुन और शहद का मिश्रण रक्त संचार को ठीक रखने के अलावा दिल की धमनियों में जमी वसा को भी खत्म कर देता है।

मजबूत करता है  इम्यून तंत्र को
शरीर में बीमारियों के लगने की मुख्य वजह है हमारे शरीर के इम्यून तंत्र का गड़बड़ रहना या कमजोर रहना। इम्यून सिस्टम को यदि आप मजबूत बनाए रखना चाहते हो तो आप नियमित लहसुन और शहद से बने मिश्रण का सेवन करें।

फंगल इंफेक्शन की समस्या
शरीर में जब फंगल इंफेक्शन हो जाता है तब सारे शरीर में सक्रमण हो जाता है और शरीर धीरे धीरे कमजोर हो जाता है। ऐसे में शहद और लहसुन को मिलाकर खाने से फंगल इंफेक्शन खत्म हो जाता है।

शरीर की गंदगी को डीटाॅक्स कर देता है लहसुन और शहद का मिश्रण। इससे शरीर की गंदगी बाहर निकल जाती है।

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।