कटहल खाने के फायदे

कटहल कई तरह से खाने के लिए बनाया जाता है। कटहल को शाकाहारीयों का नानवेज माना जाता है। आप कटहल को सब्जी, अचार और पकौड़े आदि के रूप में खा सकते हैं। आयुर्वेद में कटहल के बारे में कई बातों के बारे में बताया गया है जो सीधा हमारी सेहत से जुड़ी हुई है। कटहल में आयरन, जिंक, विटामिन ए, पोटैशियम, थाइमिन, कैल्शियम और राइबोफलेविन पाया जाता है। जिससे इंसान का शरीर पूरी तरह से रोगमुक्त रहता है। क्या-क्या फायदे हैं कटहल के वैदिक वाटिका आपको बता रही है।

कटहल खाने के फायदे

बालों का झड़ना रोके

कटहल के बीजों को बालों पर लगाने से सिर में खून का संचार बढ़ता है और बाल झड़ने बंद हो जाते हैं साथ ही नए बाल भी उगने लगते हैं।

चेहरे की सुंदरता के लिए

कटहल के बीजों का पाउडर बनाएं और इसका सेवन करें। यह त्वचा की सभी तरह की समस्याओं को खत्म करता है।

लीवर की परेशानी

कटहल के बीजों में बहुत शक्ति होती है। लीवर की सभी तरह की समस्याओं से आपको बचाता है यह बीज। इसलिए कटहल का सेवन हमेशा ही करते रहें।

कैंसर

कटहल के बीज कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से लड़ने में फायदेमंद होता है।

कोलेस्ट्रोल को बढ़ने न दे

  • कटहल में मौजूद पोटैशियम दिल की बीमारी जैसी हार्ट अटैक की समस्या नहीं होती है।
  • पका हुआ कटहल भी हार्ट रोगियों के लिए बेहद फायदेमंद होता है। आप पके हुए कटहल के गूदे को अच्छे से पीस लें और इसे पानी में उबाल कर बाद में ठंडा करके इसका एक गिलास सेवन करें। यह उपाय शरीर को उर्जा भी देता है।

मोटापा नहीं होने देता

कटहल का नियमित सेवन करने से कोलेस्ट्राल नहीं होता है। इसमें मौजूद सूकरोज शरीर को उर्जा देते हैं जिस वजह से शरीर पर चर्बी नहीं जमती है।

अस्थमा

अस्थमा या दमा के रोग को ठीक करने के लिए कटहल की जड़ बेहद कारगर होती है। पानी के साथ इसकी जड़ को उबाल लें और जब पानी आधा रह जाए तब इस पानी को छान कर पीएं। इस उपाय को कुछ दिनों तक लगातार करने से दमा रोग ठीक हो जाता है।

आप ये भी पढ़ सकते है-मोच, चोट और सूजन के लिए आयुर्वेदिक उपाय

अल्सर

कटहल पेट में अल्सर की समस्या को ठीक कर देता है। कटहल में मौजूद फाइबर पेट से कब्ज को पूरी तरह से खत्म करके पेट साफ रखता है।

एनीमिया

कटहल शरीर में खून के संचार को बढ़ाता है। साथ ही इसमें मौजूद आयरन शरीर से एनीमिया की समस्या को जड़ से खत्म कर देता है।

इंफेक्शन में कटहल

वायरल इंफेक्शन से लड़ने और उससे बचाने का काम करता है कटहल। इसमें मौजूद विटामिन ए और सी शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा देता है जिससे इंसान को वायरल इंफेक्शन का खतरा नहीं होता है।

आप ये भी पढ़ सकते है-बिना दवा के लिवर की बीमारी से पाये मुक्ति

बनाएं हड्डियों को मजबूत 

मौग्नीशियम हड्डियों के लिए बेहद जरूरी होता है। कटहल में अधिक मात्रा में मैग्नीशियम होता है जो हड्डी को मजबूत बनाने के साथ-साथ आस्टियोपुरोसिस की बीमारी से भी राहत देता है।

आंखों और त्वचा के लिए

कटहल में मैजूद विटामिन्स और कैल्शियम त्वचा और आखों के लिए बेहद फायदेमंद हैं। कटहल का सेवन करने से रतौंधी की समस्या ठीक होती है और आंखों की ज्योति बढ़ती है और त्वचा से संबंधित कई रोग भी ठीक होते हैं।

थायराइड

कटहल में कॉपर और सूक्ष्म खनिज मौजूद होते हैं जो थायराइड के रोग को ठीक करने में बेहद लाभदायक होते है। कटहल हार्मोन्स को बढ़ाने का काम करता है।

 

आप अपने सुझाव और विचार हमे नीचे comment box में जरूर लिखे।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।