शहद के फायदे – सौंदर्य और सेहत के लिये

शहद का प्रयोग पुराने समय से चलता आ रहा है। हर घर में शहद होता है लेकिन शहद के कई गुणों के बारे में अभी तक आपको पता न हो। प्राचीन समय से मधु यानि कि शहद का इस्तेमाल तीस फीसदी से अधिक चिकित्सा में यानि कि बीमारियों को ठीक करने के लिए किया जाता रहा है। शहद में एंटीआक्सीडेंट तत्व होते हैं यह आपको कई बीमारीयों से बचाते है साथ ही यह आपकी सुंदरता को बढ़ाने के काम भी आता है। हाल ही में हुए शोध में वैज्ञानिकों ने भी इस बात को माना है कि शहद में मौजूद गुण इंसान की त्वचा को प्राकृतिक रूप से सुंदर बनाते हैं। वैदिक वाटिका बताएगी कैसे आप शहद के इस्तेमाल से अपनी खूबसूरती और सेहत को बढ़ा सकते हैं।

 

सौंदर्य और सेहत बढ़ाने के लिए शहद के फायदे

  • शहद का सेवन रोज करने से शरीर फुर्तीला और उर्जावान बनता है।
  • शरीर पर पड़े खरोंचों को जल्दी ठीक करने के लिए शहद मलना चाहिए। यह खरोचों के निशान भी हल्के कर देता है।

बच्चों को गहरी नींद सोने में मदद करता है शहद

खांसी की वजह से बच्चे बे-वजह परेशान रहते हैं और वे रात को ठीक तरह से सो भी नहीं पाते हैं। ऐसे में रात को सोने से पहले बच्चों को शहद देना चाहिए। इस उपाय से बच्चे को खांसी नहीं होगी और वह गहरी नींद ले सकता है।

कीमोथैरेपी

शहद सेवन श्वेत रक्त कोशिकाओं की संख्या को कम होने से रोकाता है। प्रतिदिन दो चम्मच शहद पीने से यह कीमोथैरेपी में असरदायक होता है।

योगाभ्यासियों के लिए शहद

जो लोग योग का अभ्यास करते हैं उनके लिए शहद बेहद फायदेमंद होता है। शहद के सेवन से शरीर के रसायन यानि कैमिकल संतुलित रहता है। सुबह के समय में योग शुरू करने से पहले गुनगुने पानी में शहद मिलाकर पीने से शरीर के सारे अंग सक्रिय हो जाते हैं।

 

शहद की भी अपनी विशेषता होती है। गहरे रंग के शहद में अधिक एंटीआक्सीडेंट होता है। जो अधिक समय तक इस्तेमाल में लाया जा सकता है।

शहद के अन्य फायदे

  • शहद कभी खराब नहीं होता है। आप इसे बंद करके लंबे समय तक रख सकते हो। गहरे रंग के शहद में अधिक मात्रा में एंटीआक्सीडेंट होता है।
  • शरीर में मौजूद हानिकारक तत्वों को शहद बाहर निकालता है। इसी वजह से त्वचा में प्राकृतिक चमक वापस आती है और वह लंबे समय तक रहती है।
  • सुंदर और बेदाग त्वचा के लिए शहद को नींबू पानी में मिलाकर सेवन करें। एैसा करने से आपकी फिगर भी आकर्षक बनती है।
  • शहद में कई तरह के विटामिन्स मौजूद होते हैं और शहद में सबसे अधिक विटामिन सी की मात्रा पाई जाती है जो शरीर को कई तरह के रोगों से बचाने के काम आती है। इसलिए शहद को रोग प्रतिरोधक कहा गया है।
  • शहद त्वचा की नमी को बरकरार रखता है जिस वजह से चेहरा मुलायम बना रहता है।
  • शहद को चेहरे पर लगाने से यह त्वचा की मृत कोशिकाओं को हटा देता है और त्वचा का फिर से टाइट करने लगता है जिस वजह से झुर्रियां जल्दी से नहीं पड़ती हैं।
  • सूर्य की किरणों से त्वचा पर हानिकारक प्रभाव पड़ता है जिस वजह से इंसान कम उम्र में बूढ़ा लगने लगता है ऐसे में शहद के इस्तेमाल से आप इन दिक्कतों से बच सकते हो।
  • होठों पर शहद लगाने से होंठ नरम और चिकने बनते हैं और होंठ फटने की परेशानी भी दूर होती है।
  • शहद का नियमित रूप में सेवन करने से हीमोग्लोबिन की मात्रा बढ़ती है जिस वहज से शरीर में खून की कमी दूर होती है।
  • शहद को खाने से बढ़ा हुआ कालेस्ट्राल कम होता है।
  • स्वास लेने की परेशानी, कफ की समस्या आदि में शहद का सेवन बेहद उपयोगी है।
  • शहद खाने से हृदय रोग और कैंसर रोग कभी नहीं होता है।
  • चीनी की तुलना में शहद में 20 प्रतिशत कम कैलोरी होती है। यह मोटापा भी कम करता है।
  • शहद सूजन, पाचन की समस्या और कब्ज जैसी परेशानियों को दूर करता है। यह प्रोबायोटिक होता है जो पाचन को ठीक रखता है। शहद का सेवन करने से एलर्जी का खतरा कम होता है।
  • शहद को गुनगुने पानी को मिला कर पीने से खून में हीमोग्लोबिन का स्तर बढ़ता है और आयरन की कमी भी पूरी होती है।
  • शहद में एंटीमाइक्रोबियल गुण होते हैं। जिसकी वजह से यह घाव का उपचार करने में फायदेमंद होता है।
  • 10 ग्राम शहद प्रतिदिन खाने से दिल स्वस्थ रहता है।
  • शहद शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। शहद और दूध को एक साथ पीने से आपकी त्वचा में रौनक आती है।
  • सर्दियों में यदि ठंड की वजह से सिर में दर्द हो रहा हो तो शहद में दालचीनी का पाउडर मिलाकर उसका लेप सिर पर लगाएं।
  • गठिया के दर्द से राहत पाने के लिए शहद और दालचीनी को बराबर मात्रा में मिलाकर सेवन करें।
  • तनाव कम करने के लिए रोज एक चम्मच शहद में दालचीनी मिलाकर सेवन करें।
  • गर्म पानी में दालचीनी और शहद को मिलाकर पीने से सर्दी और जुकाम ठीक होता है।

शहद के बारे में प्राचीन ग्रथों में और भी कई ज्यादा फायदों के बारे में बताया गया है। जिसे आज के वैज्ञानिक भी सच मानने लगे हैं। हाल ही में हुए एक नए शोध में यह भी बताया गया है की यदि आप मिल्क शेक, श्किंजी, शरबत और दूध में चीनी की जगह शहद डालकर सेवन करते हैं तो आपकी और आपके परिवार को कोई बीमारी नहीं लग सकती है । इसलिए आप शहद का इस्तेमाल जरूर करें। ये भी पढे-बेदाग त्वचा के आसान उपाय

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।