पुरूषों के लिए सेहत के घरेलू नुस्खे

आज का समाज बहुत ज्यादा बदल चुका है। लोग दिन-रात सिर्फ पैसों की ही वजह से इधर-उधर जाते रहते हैं और इसी वजह से दिन रात एक कर देते हैं मगर वे इस बात को भूल जाते हैं की अगर जान है तो जहान है। यानि अगर हमारी सेहत अच्छी है तो हम मजबूती से हर काम कर सकते हैं। हमारा जो शरीर है वह एक मशीन की तरह है उसे काम के साथ-साथ उर्जा भी चाहिए होती है जो कि ठीक प्रकार के खाना खाने से मिलती है।

खान-पान इस बात पर भी निर्भर करता है कि हम किस तरह का खाना खाते हैं। आज का व्यक्ति समोसा, बर्गर और न जाने कितने तरह के फास्ट फूड का सेवन कर रहा है। जबकी ये बात जानते हुए भी कि फास्ट फूड सेहत को सीधे खराब करता है। इस तरह का खाना हमारी पाचन क्रिया को नुक्सान पहुंचाता है और जिसके कारण हमारा शरीर असंतुलित हो जाता है।

अब सवाल यह है कि हम क्या खाएं और किस तरह का भोजन लें जिसके बाद हमारा शरीर संतुलित बना रहे। अब हमारा शरीर संतुलित रहे इसके लिए हमें कुछ इस प्रकार का भोजन करना चाहिए।

सबुह हमें नाश्ते में जूस का गिलास पीना चाहिए क्योंकि नाश्ते में जूस लेने से शरीर को चिकनाहट मिलती है जो की शरीर को पूरी तरह से उर्जावान और शक्तिशाली बनाता है।

सुबह उठकर आंवला खाना चाहिए क्योंकि आंवला एक एैसा फल है जिसे खाने से हमारे शरीर का विकास होता है और आप हर बीमारी जैसे खून की कमी, सुस्ती, त्वचा की परेशानी आदि से दूर रहते हैं। हाल ही में हुए एक शोध में यह बात सामने आई है की आंवला खाने से इंसान को डाक्टर की जरूरत नहीं पड़ती क्योंकि यह शरीर को चुस्त रखता है।

हर व्यक्ति को एक दिन में 300 कैलोरी उर्जा चाहिए होती है यदि इससे कम उर्जा मिलती है तो शरीर असंतुलित हो जाता है। कई बार लोगों में गलत धारणा बन जाती है कि अधिक खाना खाएगें तो ज्यादा उर्जा मिलेगी और हमारा शरीर और अच्छा बनेगा। लेकिन एैसा नहीं है क्योंकि हमारे शरीर को जितनी उर्जा की जरूरत होती है वह उतनी ही लेता है और बाकी की जो उर्जा बची होती है उसे वह नष्ट कर देता है।

हमारे भोजन की प्रक्रिया एैसी हो जैसे नाश्ता हैवी, दोपहर का खाना उससे कम और रात को हल्का भोजन करना चाहिए। खाना खाने से ही हर परेशानी का हल नहीं होता है उसे पचाना भी जरूरी होता है। खाना खाने के बाद कुछ लोग या तो बैठ जाते हैं या फिर तुरंत सोने की तैयारी करते हैं लेकिन यह गलत आदत है खाना खाने के बाद हमेशा 200 कदम जरूर चलें तभी खाना ठीक से पचेगा।

दूध का सेवन
रात को साने से पहले एक गिलास दूध का सेवन जरूर करें। क्योंकि सोते वक्त इंसान के शरीर से उर्जा अधिक नष्ट होती है। दूध पीने से हमारी उर्जा बरकरार बनी रहती है। एक रिसर्च में पाया गया है कि जो इंसान इन सारी बातों को अपनाता है वह कभी बीमारी नहीं होता और वहमजबूत शरीर के साथ अपना जीवन बिताता है।

पुरूषों की सेहत के लिए जरूरी है कि वे अपने खान पान में कुछ एैसी चीजों का इस्तेमाल भी करें जिससे उनके शरीर में खून की कमी दूर हो सके।

 

मेथी के फायदे पुरूषों के लिए

बेहतर सेहत के लिए और खून को बढ़ाने के लिए पुरूषों को चाहिए कि वे मेथी का खूब सेवन करें। इसमें मौजूद आयरन शरीर में मौजूद हीमोग्लोबीन को ठीक रखता है। आप मेथी की सब्जी या मेथी दाने का भी सेवन कर सकते हो।

 

गन्ना के लाभ पुरूषों के लिए

गन्ने में मौजूद पौष्टिक चीजें खून को साफ करती हैं। खून की कमी को पूरी तरह से दूर करने के लिए पुरूषों को  चाहिए कि वे गन्ने का साफ जूस जरूर पीएं।

 

चुकंदर के फायदे पुरूषों की सेहत के लिए

भाग दौड़ अधिकतर पुरूष करते हैं। जिससे अचानक से खून की कमी होने लगती है। और इसका पता तब चलता है जब आप पूरी तरह से बीमार होकर घर पर बैठ जाते हो। एैसी नौबत कभी न आए तो सप्ताह में तीन दिन जरूर चुकंदर का जूस पीएं। ये आपके लिए बेहद फायदेमंद होगा।

 

टमाटर

रोगों से लड़ने और शरीर को भीतर से मजबूत बनाता है टमाटर। बेहद लाभकारी है टमाटर पुरूषों की सेहत के लिए। टमाटर को सलाद के रूप में जरूर खाएं।

 

खजूर

सेहत को ठीक रखने के लिए और खून की कमी को दूर करने के लिए खजूर बेहद लाभकारी है। दूध में खजूर को भिगो लें और इसे बारीकी से चबाकर रोज खाएं। इससे आपका शरीर बीमारियों से मुक्त रहेगा।

 

हर पुरूष को चाहिए कि वह अपनी सेहत पर जरूर ध्यान दें। क्योंकि एक आप ही हैं जिनके उपर घर और परिवार की जिम्मेदारियां टिकी इुई है। इन उपायों से आपकी सेहत ठीक रहती है।

ये भी पढे-थायराइड के लक्षण और घरेलू उपचार

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।