शरीर को स्वस्थ रखने के उपाय

स्वस्थ रहने के कई एैसे नियम हैं जो शायद बहुत ही कम लोगों को पता हों। इंसान की आदते ही उसे स्वस्थ और बीमार बनाती है। क्योंकि वह यह नहीं जान पाता है कि क्यों उसे यह बीमारी लग गई है। वैदिकवाटिका आपको कुछ एैसे तथ्यों को बताएगा जो शरीर को बीमार बनाती है ताकि आप भी जान सकें कि शरीर में बीमारी किन वजहों से लगी है ताकि पहले से ही इन रोगों से बचा जा सके।

शरीर को स्वस्थ बनाए रखने के नियम –
1. आयुर्वेद के अनुसार मांसाहार का अधिक सेवन करने से 160 रोग शरीर को लगते हैं।
2. चाय केवल थोड़ी ही मात्रा में पीनी चाहिए क्योंकि 80 तरह के रोग अकेले चाय से लगते हैं।
3. अण्डों का सेवन करना भी पथरी, हृदयरोग और गुर्दों को खराब कर सकता है।
4. भोजन के तुंरत बाद जो पानी पीते हैं उन्हें 100 से अधिक रोग लग सकते हैं इसलिए खाना खाने के 1 घंटे के बाद ही पानी पीना चाहिए।
5. दिल की बीमारी की मुख्य वजह हैं शराब, चाय और कोल्डड्रिंक्स।
6. ठंडा पानी पीने से और आइसक्रीम का सेवन करने से बड़ी आंत सिकुड़ जाती है और शरीर कमजोर हो जाता है।
7. खाना खाने के बाद कभी नहाना नहीं चाहिए एैसा करने से शरीर में कमजोरी आती है और पाचन शक्ति भी खत्म हो जाती है।
8. कुकर और ऐलुमिनियम के बर्तनों में खाना खाने से 48 तरह के रोग होते हैं।
9. गैस, पेशाब और शौच को कभी नहीं रोकना चाहिए। यह सब कब्ज की वजह से होती हैं। इसलिए कब्ज पैदा करने वाली चीजों से दूर रहें।
10. सांस हमेशा नाक से लेनी चाहिए। मुंह से सांस लेने से इंसान की उम्र कम होती है।
11. हेयरकलर को बालों पर लगातार लगाने से आंखों में अंधापन हो सकता है।
12. किताब को पढ़ने के लिए ज्यादा झुकने से फेफड़े खराब हो सकते हैं और टी बी रोग का खतरा हो सकता है।
13. शराब, गाय का मांस, सुअर का मीट, बर्गर, कोल्ड ड्रिंक्स, और बीड़ी-सिगरेट पीने से आंत सड़ जाती है।
14. दूध के साथ नमक वाली चीजें नहीं खानी चाहिए। चर्म रोग होता है।
15. तुलसी के नियमित सेवन से मलेरिया रोग नहीं होता।
16. खाना पकने के बाद उसमें उपर से नमक नहीं डालना चाहिए ये ब्लडप्रेशर को बढ़ाता है।
17. दिल की बीमारी से ग्रसित लोगों को छाछ, लौकी, तुलसी, पुदीना, मौसमी, सेंधा नमक, गुड, छिलकेयुक्त अनाज और गुड का सेवन करना चाहिए।
18. नींबू के सेवन करते रहने से टाइफाइड, दस्त और कई पेट के रोग ठीक हो जाते हैं।
19. मीठा, घी और तेल की किसी भी चीज को खाने के बाद तुरंत पानी नहीं पीना चाहिए।
20. कुएं का पानी हो या हैंडपंप से निकला पानी ये पानी पीना चाहिए। बोतलबंद और फ्रिज का बासी पानी कई रोग पैदा करते हैं।
21. कच्चा भोजन खाने से उम्र बढ़ती है।
22. खाना बनने के बाद उसे 48 मिनट के अंदर खा लेना चाहिए। इसके बाद भोजन के पौष्टिक तत्व कम हो जाते हैं।
23. मैदे की कोई भी चीज जैसे समोसा, पीजा और बिस्कुट आदि का सेवन नहीं करना चाहिए।
25. रिफाइंड तेल और डालडा शरीर के लिए जहर होते हैं। इनकी जगह आप सरसों, मूंगफली, तिल और नारियल तेल का इस्तेमाल करें। देसी घी भी आप प्रयोग कर सकती हो।
26. आग से जल जाने पर हल्दी, शहद, एलोवरा और आलू का रस लगाने से जलन ठीक हो जाती है और उससे फफोले भी नहीं पड़ते हैं।
27. आंखों की खुजली और जलन को खत्म करने के लिए पैर के उंगूठे के नाखूनों को सरसों के तेल में भिगोएं।
28. स्वस्थ रहने के लिए अच्छी नींद लेनी जरूरी है। इसलिए समय पर सोने की आदत डालें।
29. भोजन के चूने से 70 रोग खत्म हो जाते हैं।
30 .हमेंशा लहसुन को अपने खाने में इस्तेमाल करें।
31. हल्दी वाला दूध पीने से कई बीमारियां खत्म हो जाती है।   ये भी पढे-कमर का मोटापा कम करने के तरीके

ये सभी जानकारियां बेहद महत्वपूर्ण हैं। आपकी सेहत से बढ़कर इस दुनिया में और कुछ भी नहीं है। इसलिए आप धीरे-धीरे अपनी आदतों में सुधार लाएं। और शरीर को बीमारियों से मुक्त बनाएं।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।