महिलाओं की सेहत – रखें इन बातों का ख्याल

महिलाओ के ऊपर घर के सभी सदस्यों की सेहत को संभालने की जिम्मेदारी होती है, लेकिन इस चक्कर में वो कितनी ही दफा अपने हेल्थ को नजरअंदाज कर जाती हैं जिसका खामियाजा उन्हें बढ़ती उम्र के साथ भुगतना पड़ता है। लेकिन अब वो दिन गए जब उनकी लाइफ केवल किचन तक ही सीमित होती थी। अब वो अपने टाइम का भरपूर इस्तेमाल खुद को सेहतमंद बनाने में कर सकती है। कैसे? जानिए आगे

एक्सरसाइज

सुबह की शुरुआत वॉकिंग और रनिंग जैसे एक्सरसाइज से करें। वर्किंग महिलाएं ऑफिस में बैठे रहकर काम करना अवॉयड करें। चलते-फिरते रहने से न सिर्फ बॉडी एक्टिव रहती है बल्कि कमर और पीठ जैसे कई दर्द से भी छुटकारा मिलता है। 

हेल्दी स्नैक्स खाएं

एक बार में भरपेट खाना बिल्कुल भी सेहत के लिए से सही नहीं ये न केवल मोटापा बढ़ाता है बल्कि बेवक्त नींद का कारण भी बनता है। इसलिए अपने मील्स को डिवाइड कर दें। छोटी-छोटी भूख को मिटाने के लिए फ्रिज में फ्रूट्स, दही, रायता जैसी चीजें रखें। फ्राइड वेजीटेबल्स भी खाना अच्छा रहेगा। सूखे मेवे खाकर लंबे समय तक एनर्जी को बरकरार रखा जा सकता है।

ब्रेकफास्ट जरूर खाएं

हाउसवाइफ हो या कामकाजी महिलाएं, दोनों के ही लिए ब्रेकफास्ट की अहमियत एक जैसी है। दिन के सभी मील से ज्यादा खास होता है ब्रेकफास्ट। कोशिश करें नाश्ते में ताजे फल, दूध, अंडे जैसी प्रोटीन वाली चीजें खाएं जो बॉडी के एक्टिवनेस को बनाए रखने के साथ ही असमय चेहरे पर पड़ने वाली झुर्रियों की समस्या को भी कम करते हैं।

लिक्विड की भरपूर मात्रा 

दिन में कम से कम 6-8 गिलास लिक्विड का इनटेक जरूर करें फिर चाहे वो जूस और ग्रीन टी के रूप में ही क्यों न हो। इसका सीधा संबंध डाइजेशन के सही रहने और दमकती त्वचा से जुड़ा होता है।

कॉर्बोहाइड्रेट कम खाएं

अपने डाइट से कुकीज, चॉकलेट, शहद और चावल को बिल्कुल हटा दें क्योंकि इनमें बहुत सारा कॉर्बोहाइड्रेट होता है। ये बल्ड में शुगर लेवल की मात्रा बढ़ाने का काम करते हैं जिससे इन्सुलिन का प्रोडक्शन ज्यादा होता है जो मोटापा बढ़ाने के लिए जिम्मेदार होता है।

डाइटिंग है गलत तरीका

वजन कम करने के लिए डाइटिंग  रूल अपनाना किसी भी तरह से सही नहीं। घर हो या ऑफिस, डाइटिंग से न सिर्फ कमजोरी आती है बल्कि ये चेहरे की रंगत को भी चुरा लेता है। पीरियड्स, प्रोडक्टिव सिस्टम के कई अलग-अलग पार्ट्स पर असर डालता है।

जरूरी चेकअप्स

महिलाओं को समय-समय पर अपनी सेहत की जांच कराते रहना चाहिए। हीमोग्लोबिन से लेकर थॉयराइड, हार्ट रेट, कोलेस्ट्रॉल, बीपी आदि आपके सेहतमंद होने की निशानी होते हैं। इनके सही लेवल को डॉक्टर से जानें और अगर आपका लेवल उससे कम-ज्यादा हो रहा है तो उसे मेंटेन करने की कोशिश करें।

भरपूर नींद लें

घर की जिम्मेदारी पूरी करते-करते थकान होना लाजमी है लेकिन इसे सही समय पर सही नींद लेकर काफी हद तक दूर किया जा सकता है। तो सेहत के लिए जरूरी 6-8 घंटे क नींद जरूरी पूरी करें। बॉडी के एनर्जी लेवल को बनाए रखने के साथ ही ग्लोइंग स्किन भी पाई जा सकती है।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।