ब्लैक टी के फायदे

वैसे तो कहा गया है कि चाय सेहत के लिए हानिकारक होती है। लेकिन हाल ही में हुए एक नए शोध ने इस बात को बताया है कि काली चाय यानी ब्लैक टी सेहत के लिए बेहद फायदेमेंद है यह आपको कई बीमारियों से बचा सकती है। काली चाय में कैफिन की मात्रा काफी कम होती है। जिससे शरीर में खून का बहाव अच्छे से होता है। काली चाय में फलोराइड भी होता है जो हड्डियों और मुख के रोगों को दूर करने में फायदेमंद होता है।

ब्लैक टी में मौजूद गुण वजन कम करने में मदद करते हैं। क्योंकि ब्लैक टी में न तो चीनी होती है न ही दूध।
ज्यादातर लोग चाय लेने से परहेज करने लगें हैं लेकिन शोधकर्ताओं के अनुसर दिन में 3 कप चाय का सेवन करने से हार्ट अटैक का 60 प्रतिशत खतरा कम हो जाता है।

डेली एक्सप्रेस समाचार पत्र के अुनसार शोधकर्ताओं का कहना है काली चाय में एंटीआक्सीडेंटस तत्व दिल की बीमारी को रोकने और हार्ट अटैक के खतरे को रोकने में बेहद लाभदायक है। काली चाय खून को गाढ़ा बनने से रोकती है जिस वजह से धमनियों में खून का थक्का जमने से रूकता है। यह नसों में खून के प्रभाव को सरल बनाती है जिस वजह से ब्लडप्रेशर भी नियंत्रित रहता है।

न्यूटीशन बुलेटिन में प्रकाशित हुए इस शोध में यह भी बताया गया है कि काली चाय कई रोगों की रोकथाम करती है।
काली चाय डायबिटीज के खतरे से भी बचाती है। यह टाइप 2 के मधुमेह के खतरे को खत्म करती है। अभी इस बात का शोध होना बाकी है कि कितनी मात्रा में इंसान काली चाय का सेवन करे। अभी तक तो रोज 3 कप काली चाय पीना आपके दिल के लिए बेहद अच्छा है।

यह आपके मेटाबोल्जिम को बढ़ाती है। काली चाय पीने से आप 70 से 80 अतरिक्त कैलोरी को जला सकते हैं। इसलिए वजन कम करने में यह सहायक है।
काली चाय के सेवन से आप सिर दर्द जैसे गंभीर रोग से भी निजात पा सकते हो। काली चाय में थोड़ा नींबू को निचोड़कर पीने से सिर दर्द ठीक होता है।

काली चाय न सिर्फ आपका वजन घटाती है यह आपको दिल संबंधी रोगों से भी बचाती है। काली चाय शरीर में उर्जा और ताकत भी देती है जिस वजह से सेहत हमेशा ठीक रहती है। तो आज से आप भी काली चाय का सेवन करना न भूलें।

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।