होंठों की देखभाल – झुर्रियों से बचने के उपाय

ayurvedic-treatment-of-lips-for-softness-in-hindi

चेहरे पर ही नहीं झुर्रियों का असर होठों पर होता है। होठों पर यदि लकीरें दिखने लगें तब समझें लें कि आपकी उम्र बढ़ने लगी है। लेकिन अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। वैदिक वाटिका आपको बता रही है किस तरह से आप होठाें की झुर्रियां को दूर कर सकते हैं।

सबसे पहले जानते हैं होठों पर झुर्रियां पड़ने के कारणों को।

बबलगम खाना
हाल ही में हुए शोध के अनुसार बबलगम यानि च्युइंगम चबाना होठों पर झुर्रियां पड़ने का मुख्य कारण हो सकता है। बबलगम खाने से  होठों पर झुर्रियां पड़ने लगती हैं।

ड्रिंक स्ट्राॅ यानि पीने के लिए पाइप प्रयोग करना
यदि आप कुछ भी पीते समय स्ट्राॅ यानि पाइप का इस्तेमाल करते हैं तो इससे भी आपके होठों पर झुर्रियां पड़ सकती हैं।

धूम्रपान करना
सेहत के लिए धूम्रपान करना हानिकारक होता है। लेकिन यह धूम्रपान होठों पर झुर्रियां पड़ने का सबसे  बड़ा कारण होता है। धूम्रपान होठों की परत को कमजोर बना देता है जिससे आसानी से होठाें पर झुर्रियां पड़ने लगती हैं।

होठों को झुर्रियों से बचने के उपाय

क्रीम व मलाई
होठों पर से झुर्रियों को हटाने के लिए आप रात को सोने से पहले मलाईए क्रीम या घी को होठों पर लगाएं। एैसा कुछ दिनों तक लगातार करने से होठों की झुर्रियां खत्म होने लगती हैं।

होंठ चबना
अक्सर मलिाओं में होठों को चबाने व काटने की आदत रहती है। इससे होंठ जल्दी से कमजोर होते हैं। इसलिए आप होठ चबाना बंद करें।

पानी का सेवन
जिस तरह से पानी शरीर में नमी को बनाए रखता है। ठीक उसी तरह से पानी होठों में भी नमी को बनाता है। जितना हो सके आप रोज अधिक से अधिक पानी का सेवन करें।

होठों काे बाहार की तरफ निकालें
जिस तरह से लिपिस्टिक लगते वक्त महिलाएं अपने होठों काे बाहर की तरफ निकाला करती हैं ठीक उसी तरह से आपको यह उपाय एक योग की तरह नियमित करना चाहिए। इस उपाय से होंठ मुलायाम और झुर्रियों से मुक्त रहेगें।

लिप बाम
आप अपने होठों पर अच्छी गुणवत्ता वाला लिप बाम को लगाएं। लिप बाम आपके होठों को कई तरह की समस्याओं से भी बचाता है।

गुलाब की पत्तियां
गुलाब का फूल होठों की सुंदरता के लिए बहुत ही लाभगदायक होता है। साथ ही साथ यह होठों पर पड़ी हुई झुर्रियों को भी हटा देता है। इसके लिए आपको अपने होठों पर गुलाब की पत्तियों को मलना है।

नींबू का असर
नींबू होठों के रंग को साफ करता है। यदि आपके होंठ धूम्रपान की वजह से काले पड़ गए हों तो नींबू को काटकर उसे होठों पर रगड़ें।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।