गुस्सा शांत करने के उपाय

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में अशांति और तनाव की वजह से दिन-प्रतिदिन मनुष्य अनिंद्रा, चिंता व परेशानियों से ग्रस्त हो रहा है। जिस वजह से वह हर एक छोटी-छोटी बातों पर गुस्सा और चिड़चिड़ा होता जा रहा है। गुस्से से इंसान पागलपन जैसी खतरनाक अवस्था तक भी पहुंच जाता है। गुस्से से बाद में काफी नुकसान भी होता है। इसलिए जरूरी है गुस्से पर काबू रखना। आयुर्वेद में इसे मानसिक रोग कहा जाता है। जिसका समय रहते उपचार करना जरूरी है। इसलिए वैदिकवाटिका आपको मानसिक रोगों को ठीक करने का उपचार बता रही है।

मानसिक रोगों की चिकित्सा
गुस्सा व क्रोध को रोकने के लिए

  • सुबह एक आंवले का मुरब्बा जरूर खाएं। और शाम को गुलकंद की एक चम्मच का सेवन करने के बाद उपर से दूध पी लें। इससे आपका गुस्सा शांत होने लगेगा।
  • भोजन को चबा-चबाकर शांति से खायें।
  • जब भी क्रोध आए तो उस वक्त अपना चेहरा आइने में देखने से भी लज्जावश गुस्सा चला जाएगा।
  • एक कटोरी में पानी भरकर उस पानी को देखकर ऊॅ शांति…….ऊॅ शांति…….ऊॅ शांति का मंत्र 21 बार जप करें। और बाद में इस पानी को पी लें। एैसा करने से आपके क्रोधी स्वभाव में परिवर्तन आएगा।

अनिंद्रा यानि नींद न आने की समस्या के उपाय

  • पैरों के तलवों पर सरसों का तेल लगाने से नींद गहरी व अच्छी आती है।
  • यदि नींद देर से आती हो या कम आती हो तो पैरों को गुनगुने पानी से साफ करके सोना चाहिए।
  • रात को सिर में आंवले या बादाम का तेल की मालिश करने से भी अनिंद्रा की समस्या ठीक होती है।
  • सर्दियों में रात को सोते समय पैरों को गरम रखने से भी नींद अच्छी आती है।
  • गुनगुने सरसों के तेल की 4-4 बूंदे रात को सोने से पहले दोनों कानों में डालें और बाद में साफ रूई को कानों में लगाएं। एैसा करने से भी नींद न आने की समस्या ठीक होती है।

ज्ञानमुद्रा के लाभ मानसिक रोगों में

अपने हाथ के अंगूठे के पास वाली उंगली का उपरी हिस्सा अंगूठे के अग्रभाग से स्पर्श कराएं। तब यह ज्ञानमुद्रा बनती है। जैसा की उपर चित्र में भी दिखाया है। ज्ञानमुद्रा को आप कहीं भी उठते बैठते, चलते-फिरते या लेटे हुए कभी भी कर सकते हो। इस मुद्रा का निरंतर अभ्यास करना चाहिए।

ज्ञानमुद्रा के फायदे

यह नींद न आने की समस्या को दूर करने के अलावा दिमागी कमजोरी, क्रोध, पागलपन, चिड़चिड़ापन, आलस्य को दूर करता है। साथ ही एकाग्रता और दिमाग को शक्तिशाली बनाता है।

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।