घर में सुख-शांति के लिए वास्तु टिप्स

vastu-dosh-nivaran-ke-upay

कई बार इंसान में कई गुण होने के बावजूद भी उसे मनचाही सफलता, धन और सुख शांति नहीं मिल पाती है। जिसके पीछे कई कारण होते हैं। उनमें से सबसे मुख्य कारण वास्तुदोष होता है। जब इंसान की जरूरतें पूरी नहीं हो पाती हैं तब वह इंसान कई तरह की नकारात्मक चीजों से घिरता चला जाता है। लेकिन चिंता ना करें। आप बताए गए कुछ वास्तु उपायों को  विशवास से करें जिससे आप और आपका परिवार सुख शांति और आर्थिक संपन्न रहेगा।

वास्तु टिप्स सुख शांति के लिए

पहला उपाय
आप कभी भी भूलकर भी अपने मुख्य दरवाजे यानि की मेनगेट के सामने कूड़े के डिब्बे या कूड़ेदान को ना रखें। क्योंकि एैसा करने से लक्ष्मी घर के दवाजे से वापस लौट जाती है। और आपको आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ सकता है।

दूसरा उपाय
आप कभी भी रात में किचन यानि रसोई में जूठे बर्तनों को ना रखें। यदि किसी वजह से जूठे बर्तन रह जाते हैं तो उन्हें कम से कम पानी से जरूर धो लें।

तीसरा उपाय
अपने घर में महीने में एक बार जरूर खीर बनाएं और उसका भोग मां लक्ष्मी को लगाने के बाद घर के लोगों के साथ आपस में मिलकर उस खीर को खाएं। इस उपाय से आपके घर में कभी भी पैसों की कमी नहीं आएगी। और घर में सुख शांति भी आएगी।

अगला उपाय
आप इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि बिस्तर पर बैठकर काम नहीं करना है। क्योंकि एैसा करने से बेवजह का कर्ज आपके उपर बढ़ने लगेगा। और आपको आर्थिक तंगी का भी सामना करना पड़ सकता है।

पांचवा उपाय

रोज रात्रि में सोने से पहले अपने किचन और बाथरूम में एक टब या बल्टी पानी भरें। इस उपाय से भी आपको धन लाभ मिलेगा। और हमेशा आर्थिक संपन्नता भी बनी रहेगी।

छठा उपाय
सप्ताह में किसी भी दिन पोछे में सेंधा नमक डाकर घर में पोछा लगाएं। इस उपाय से घर में सकारात्मक उर्जा आती है।

सांतवा उपाय
अपने घर के मंदिर में एक लोटा पानी भर कर रखें। इस उपाय से आपका और आपके परिवार वालों का भाग्य चमकेगा।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।