पैरों की देखभाल- मालिश के फायदे

इंसान का पूरे शरीर का भार पैरों पर टिका होता है लेकिन ख्याल सिर्फ बॉडी का रखा जाता है। अच्छा भोजन, एक्सरसाइज और तमाम तरह के फेस पैक और स्पा का इस्तेमाल उसे खूबसूरत बनाने के लिए किया जाता है लेकिन ये भूल जाते हैं कि पैरों की केयर भी उतनी ही जरूरी है। इन्हें इग्नोर करने से कई तरह की बीमारियों घर कर सकती हैं। सिर्फ 5-10 मिनट की मसाज ही पैरों के लिए काफी होती है। रात को रोने से पहले किसी अच्छे तेल में पैरों की मालिश करना काफी फायदेमंद होता है।

अच्छी नींद के लिए जरूरी

सोने से पहले पैरों की अच्छी से मालिश करना अच्छी नींद के लिए बहुत ही जरूरी है। पैरों की नसों को हल्का सा दबाते हुए मसाज करने से ब्लड सर्कुलेशन सही रहता है, क्लोटिंग होने की संभावना कम होती है, साथ ही नसों को भी आराम मिलता है। 

ब्लड सर्कुलेशन सुधरता है

बिजी लाइफस्टाइल के चलते एक्सरसाइज और प्रॉपर डाइट लेने के रूल को फॉलो कर पाना थोड़ा मुश्किल होता है जो सही ब्लड सर्कुलेशन के लिए बहुत ही जरूरी है। इसके साथ ही लोग फैशन के आगे सेहत को दरकिनार कर ऐसे फुटवियर्स का इस्तेमाल करते हैं जो बिल्कुल भी आरामदायक नहीं होते जिससे वहां की नसो पर एक्स्ट्रा दवाब पड़ता है। रात को मसाज करने से नसों को रिलैक्स करने के लिए काफी वक्त मिल जाता है।

आराम के लिए जरूरी

पूरे दिन की थकावट दूर करने के लिए सिर्फ पैरों की मसाज ही काफी है। पूरे दिन खड़े होकर काम करना हो या बैठे रहकर, पैरों में सूजन सबसे जल्द आ जाती है। इसे दूर करने का मसाज से बेहतर तरीका शायद ही दूसरा हो।

मोच और दर्द से दिलाए राहत

हाई हील्स, गलत फुटवियर्स अक्सर पैरों में मोच और दर्द का कारण बनते हैं जिन्हें दूर करने के लिए मसाज एक अच्छा ऑप्शन है। इतना ही नहीं मसाज सिर दर्द, माइग्रेन, गले और पीठ के दर्द से भी राहत दिलाता है। गले में दर्द होने पर पैरों के अंगूठे पर हल्का दवाब डालते हुए पूरे पंजे की 5 मिनट तक मालिश करें। 

डिप्रेशन का इलाज

इससे बहुत ही कम लोग वाकिफ होंगे कि पैरों की मसाज से डिप्रेशन तक को आसानी से दूर किया जा सकता है। पैरों के अंगूठे को हल्का दबाते हुए सर्कल में किसी अच्छे तेल में मालिश करें। बहुत जल्द और असरदार इलाज है।

पैरों की मजबूती के लिए

चेहरे और हाथ की खूबसूरती के आगे अक्सर पैरों की केयर को नजरअंदाज किया जाता है जिससे उनमें कई तरह की परेशानियां होने लगती हैं जो ध्यान न देने पर बढ़ भी सकती है। समय-समय पर पैरों की मसाज करने से नसें मजबूत होती हैं। उनकी फ्लेक्सिबिलिटी बनी रहती है। सूजन, जलन जैसी समस्याएं कोसों दूर रहती हैं।

बीपी कंट्रोल करने में सहायक

हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए फुट मसाज बहुत ही कारगर इलाज कहा जा सकता है। क्योंकि ये ब्लड सर्कुलेशन सही रखता है। इसके लिए नारियल तेल से पैरों के दोनों  ओर मसाज करें।

बेहतर संबंध के लिए

रात को सोने से पहले पैरों की अच्छे से मालिश करने से पर्सनल लाइफ को एन्जॉय किया जा सकता है। मसाज करने से थकावट दूर होती है और बॉडी पूरी तरह रिलैक्स हो जाती है जो एन्जॉयमेंट के लिए सबसे जरूरी चीज है। 

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।