इलाइची की चाय के फायदे और बनाने की विधि

health-benefits-of-cardamom-tea-in-hindi

चाय तो आप सभी पीते हैं लेकिन जब चाय में इलाइची का इस्तेमाल होता है तो चाय का स्वाद और खुशबू मन को मोह लेती है। इलाइची वाली चाय हमारी सेहत के लिए भी बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होती है। जो हमारे शरीर को कई बीमारियों से बचाती भी है और कई रोगों का इलाज भी करती है। सबसे पहले हम आपको बताते हैं वास्तव में इलाइची की चाय बनाने की असली विधि क्या है। जिससे आप अपने घर में बना सके और गंभीर रोगों से भी बचे रह सकते हैं।

इलायची की चाय बनाने का तरीका
सामग्री
दो छिली हुई इलाइची
एक कप दूध
दो से तीन चम्मच चीनी
एक चम्मच चाय की पत्ती
एक कप पानी

किस तरह से बनाएं इलाइची की चाय
सबसे पहले आप गैस में एक कप पानी को पैन में डालकर गर्म कर लें। इसके बाद आप उबलते हुए पानी में दो छिली हुई इलाइची को डाल दें।
अब इसमें दो से तीन चम्मच चीनी डाल दें। और इसे कम से कम एक मिनट तक तेज आग में उबलने दें। इसके बाद इसमें आप एक चम्मच चायपत्ती को इसमें डाल दें।
अब उपर से इसमें आप एक कप दूध को भी इसमें डालकर पांच मिनट तक उसे उबालें।अब आप गैस बंद कर दें। औरचाय को छानकर किसी कप या गिलास में डालकर कर सेवन करें।

अब जानते हैं इलाइची की चाय से मिलने वाले स्वास्थवर्धक फायदे
यदि आपके गले में खरास और कफ हो रहा हो तो आप इलाइची वाली चाय का सेवन करे आपको राहत मिलेगी। यदि सर्दी व जुकाम हो गया हो तो इलाइची की चाय पीएं।अस्थमा की बीमारी में इलाइची की चाय पीना फायदेमंद होता है। यदि आपको प्यास अधिक लगती हो तो

इलाइची वाली चाय पीने से आपको फायदा मिलता है। आपको यदि अपच व पेट की कोई भी समस्या हो तो आप इलाइची वाली चाय का सेवन करें।

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।