स्वस्थ गर्भावस्था के लिए एैसा न करें

गर्भावस्था महिला के जीवन का सबसे खुश और सुखद अनुभव होता है। हर महिला चाहती है कि उसका शिशु स्वस्थ और सुंदर हो। एैसा तभी हो सकता है जब आप कुछ बातों का ध्यान रखें। स्वस्थ बच्चे के लिए मां को बेहद स्वस्थ रहने की आवश्यकता होती है। गर्भवस्था में महिला को उचित आहार लेना बेहद जरूरी है ताकी बच्चे तक पोषक तत्व पहुंचते रहें। इसलिए गर्भवती महिला को खाने में यह ध्यान रखना है कि क्या खाएं और क्या न खाएं। और कौन से काम करे और कौन से नहीं। आइए जानते हैं कि स्वस्थ गर्भवती महिला को किन चीजों का ध्यान रखना चाहिए।

सबसे जरूरी है कि आप इस दौरान तेल वाली चीजों से परहेज करें। क्योंकि ये एसिडिटी, गैस और पेट में जलन बनाती है। जितना हो सके फ्रैश यानी ताजा खाना खाएं। बहार का खाना जितना हो सके आप उससे बचें।

 

यदि आप घरेलू कामकाजी महिला हैं तो भारी सामान न उठाएं। साथ ही कोई एैसा काम न करें जिससे पेट पर बल पड़ता हो।
अगर आप आफिस में काम करती हों तो आप आफिस जाने के लिए उंची हील या जूतों को न पहनें। काम ज्यादा देर तक न करें। साथ ही ज्यादा भागदौड़ वाले काम न करें। चुस्त कपड़े नं पहनें कपड़े ढ़ीले हों तो सही रहेगा। कोई भी दवा डाॅक्टर की सलाह बिना न लें।

 

क्या खाएं क्या न खांए-
किसी भी तरह के फलों का सेवन करने से पहले उन्हें आधा घंटा पानी में भिगों लें फिर उसका सेवन करें। एैसा करने से फलों में लगे रसायनिक तत्व और किटाणु निकल जाते हैं।

गर्भावस्था के दिनों में अनानस का सेवन नहीं करना चाहिए। यह गर्भाश्य में नरमी को बढ़ता जिसकी वहज से शीध्र डीलीवरी होने की संभावना बढ़ जाती है। रेसेदार सब्जियां, ज्यादा घी और चिकनाई वाली वस्तुएं। गाढ़ा सूप आदि का सेवन भी न करें। हल्का सूप फायदा करता है।

 

बासी यानी पुराना खाना जैसे मछली, अंडे आदि का सेवन भी नहीं करना चाहिए।
चाय, काफी का सेवन भी कम करें। इनमें मौजूद टेनिक एसिड गर्भवती महिला के लिए हानिकारक होता है। क्योंकि इनकी अधिक मात्रा में प्रयोग करने से पेशाब अधिक आता है। जिसकी वजह से शरीर कमजोर होता है। इसलिए इनका प्रयोग कम कर दें।

गर्भवती महिला को दूध का सेवन करना जरूरी है दिन में कम से कम 250 ग्राम दूध तीन बार पीएं। धीरे-धीरे दूध पीने की मात्रा को बढ़ाएं।

ये कुछ बातें हैं जिनहें गर्भवती महिलाओं को तो पता होना ही चाहिए साथी पुरूषों को भी यह बाते पता होनी चाहिए कि गर्भवती महिला का किस तरह से ध्यान रखना है।

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।