डायबिटीज में क्या करे

डायबिटीज में क्या करें जाने हिंदी में और कैसे करें मधुमेह के खतरे को कम, diabetes mein kya karen aur kya na karen in hindi

आज हम आपको डायबिटीज के बारे में बताने जा रहें हैं। डायबिटीज का अर्थ है मधुमेह। डायबिटीज का खतरा किसे कहते हैं ? यदि आप यह सवाल अपने डॉक्टर को पहले पूछते तो इसका कुछ इस प्रकार होता – किसी वृद्ध, मोटापाग्रस्त  या फैमली हिस्ट्री वाले मरीज को। लेकिन आज डायबिटीज एक महामारी बन चुकी है। भारत में करोड़ों लोग इसका शिकार बन चुके हैं। विशेषज्ञों के अनुसार वेस्टलाइन का चोडा होते जाना डायबिटीज तथा ह्र्दय रोंगों का प्रमुख कारण है। कई ऐसी बुरी आदते हैं जो डायबिटीज का खतरे को बढ़ती है। आइए जानते हैं कुछ ऐसी बुरी बाते जो डायबिटीज के खतरे को बढ़ती है और इसको सुधारने के संबंध में कुछ बाते इस प्रकार से हैं

तनाव लेना

तनाव का सीधा संबंध डायबिटीज से नही होता पर इसे एक सहायक कारक माना जाता है। जब व्यक्ति तनाव में होता है तो शरीर कोट्रिसोल नामक स्टैस हामोनरिलीज करता है जो एन्सिय्लन गतिविधियों में बाधा पैदा करता है। तनाव के कारण हमारा ब्लड शुगर बढ़ता है और दवाईयो की जरूरत पडती है। जब हम तनाव में होते है तो जंक फ़ूड अधिक खाते हैं।

क्या करे

कसरत करना इसका सबसे बढिया इलाज है तनाव को दूर करने का। कसरत करने से हमारा तनाव का स्तर कम होता है। इसके साथ जब आप काम कर रहे तो उस समय कम से कम 10 मिनट का ब्रेक लेना चाहिए।यह आपके लिए बेहतर सिद्द होगा।

बैठे रहना

हम अक्सर देखते हैं लोग घर से बाहर नही निकलते हैं। यदि वो निकलते भी हैं तो वे अपनी कार में बैठते हैं और ऑफिस पहुचते हैं। इसके इलावा वो 8 – 10 घंटे के लिए डैक्स पर काम करते हैं। उसके बाद फिर वे वापिस घर आते हैं और देर रात तक टीवी देखते हैं। लोंगो का कम घुमने से उनकी वेस्टलाइन बढती है। कम शारीरिक गतिविधि के कारण उन्हें डायबिटीज, थाँयरइड तथा ह्रदय रोग का सामना करना पड़ सकता है।

ऐसे में क्या करना चाहिए

जितना हो सके आपको उतना ही घूमना चाहिए। इससे न केवल आप का स्वस्थ ठीक रहता है बल्कि साथ ही आपके ब्लड शुगर के स्तर को सिमित रखने में भी मदद मिलती है। सप्ताह में कम से कम 150 मिनट की शारीरिक गतिविधि सबके लिए जरूरी है। लिफ्ट की बजाय सीढियों का इस्तेमाल करें और कार कि बजाय आप पैदल ऑफिस जाएं। यह आपके लिए बेहतर होगा। देर

रात तक काम करना

किसी डेडलाइन को पूरा करने के लिए हम देर रात तक काम करते हैं। जिससे हमारी नींद के कीमती घंटे बर्बाद हो जाते हैं। युवाओ में तो चैटग एक आम आदत बन चुकी है यहीं कारण है कि हम अक्सर रात को देर से सोते हैं और देर रात को सोने के कारण डायबिटीज का खतरा बढ़ जाता है।

ऐसे में क्या करना चाहिए

अच्छी नींद के लिए साइन आउट करें। शोध से पता चला है कि कम नींद के कारण उच्च रक्तचाप तथा वजन घटाने कि समस्या पैदा हो सकती है और सिर्फ यही कारक डायबिटीज का कारण बनते हैं। जब आप जग रहे हो तो अधिक खाते हो जिसके कारण आप का वजन बढ़ता है। कम नींद लेने से आप थका थका रहते हैं। इसलिए आप को पर्याप्त नींद जरूरी है।

डायबिटीज के खतरे को कम करने के कुछ आसन तरीके

अगर आप चाहते है कि आप डायबिटीज से बचे रहे तो आप को इस बातों पर विशेष रूप से ध्यान देना चाहिए जैसे कि –
डायबीटीज के खतरे को कम करने के लिए जितना हो सकें कैलोरी का सेवन कम करें।
जितना ही सके आपको खासकर रात को टी और फोन से दुरी बना कर रखनी चाहिए
ऐसे में प्रोसेस्ट फ़ूड से बचे।
आप अपना बिना कोई दिन छोड़े हुए करें  नाश्ता हर रोज करें।
अपने भोजन के मध्य लम्बा अन्तराल रखने से बचें।
अपने भोजन में प्रोटीन की मात्रा शामिल करें।
डायबीटीज के खतरे को कम करने के लिए जितना हो सके उतना चले, बैठने पर कम ध्यान दें।

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।