रावण संहिता के धन प्राप्ति के अचूक टोटके

रावण को जहां एक तरफ एक दुराचारी और अत्याचारी माना गया है वही दूसरी ओर यह रावण एक तांत्रिक भी था। इसी महाज्ञानी और प्राकंड पंड़ित रावण कोकई प्रकार के रहस्य आते थे वह एक प्राकंड टोना तांत्रिक भी था। जो हर समस्या का हल इसी तांत्रिक क्रिया से करता था। रावण के उपाय कार्तिक माह केदिनों में बहुत काम करते हैं। यदि इंसान अपने जीवन में धन की समस्या से परेशान है तो रावण के बताए गए इन उपायों को जरूर करें।  आपको धन लाभ पूराहोगा। ये अचूक उपाय रावण ने अपनी पुस्तक रावण संहिता में लिखे हुए हैं।

रावण संहिता के उपाय

बेल का पौधा 

 यदि इंसान आक और बिल्व पेड़ का पौधा एक साथ लगाता है तो उसे अथार धन लक्ष्मी की प्राप्ति होती है। यह काम आपको कर्तिक अमावस्य के दिन करनाहै।

चावल और दूध चढ़ाना

रावण संहिता के अनुसार नियमित सदा शिव को बेलपत्र कच्चा दूध और चावल चढ़ाने वाला इंसान कभी भी गरीब नहीं हो सकता है।

दीया जलाना

कार्तिक माह में जो इंसान बेल के पेड़ पर पानी चढ़ाने के साथ शाम के समय में दीया जलाता है उसको घर हमेशा पैसों से भरा रहता है।

 श्री सुक्त का पाठ

बेल पत्र के पेड़ के नीच बैठकर श्री सुक्त का पाठ करने से पैसों की कमी दूर होती है।

लक्ष्मी हवन करना

कर्तिक माह में बेल के पेड़ के नीचे बैठकर लक्ष्मी जी का हवन करने से धर में अपार धन लक्ष्मी आती है।

जल चढ़ाना

तांबे के लोटे में बेल पत्र डालकर शिवलिंग पर चढ़ाने से लक्ष्मी जी की विशेष कृपा होती है।

जो भी इंसान धन की कमी से परेशान हो या फिर उसे आर्थिक नुकसान हो रहा है तो वह एक बार रावण द्वारा बताए गए इन तंत्र के उपायों को जरूर करें।आपको जरूर फायदा होगा। आपके आर्थिक कष्ट दूर हो जाएगें। और घर में खुशहाली आने लगेगी।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।