दांतों का पीलापन दूर करने के घरेलू उपाय

दांतों का पीलापन दूर करने के घरेलू उपाय जाने विस्तार में क्यूंकि नीम, तुसली, निम्बू के इलावा कुछ डाइट टिप्स जरुरी हैं

आज के समय में लोग अपनी बाड़ी फिटनेस और चेहरे की खूबसूरती के चक्कर में अपने उस चीज को भूल जाते हैं जो उनके लिए बहुत अहम होता है वो हैं उनके दांत। जी हाँ अक्सर लोग अपनी खूबसूरती के आगे अपने दांतों की खूबसूरती को भूल जाते हैं। जिसके कारण उनके दांत पीले पड़ने लगते हैं और मुंह से भी बदबू आने लगती है।

आज हम आपको दांतों का पीलापन दूर करने के घरेलू उपाय के बारे में कुछ टिप्स बतायेंगे। जिनको अजमाकर आप अपने पीले दांतों को सफेद कर सकते हो। दांतों का पीलापन दूर करने के लिए आज हम आपको जो घरेलू उपाय बता रहें हैं। यह आपको बाजार से नहीं खरीदने पड़ते बल्कि यह आपके घर में पहले से ही मौजूद होते हैं।

दांतों का पीलापन दूर करने के घरेलू उपाय

बेंकिंग सोडा

दांतों का पीलापन दूर करने के लिए बेंकिंग सोडा का इस्तेमाल किया जाता है। इसके लिए सबसे पहले एक चम्मच बेंकिंग सोडा, थोडा सा नमक और थोडा सा पानी मिलकर 2 मिनट तक अपने दांतों को साफ़ करें और सप्ताह में इस तरह आप दो से तीन बार करें। कुछ हफ्तों में आपके दांत सफेद हो जायेंगें।

स्ट्राबेरी का इस्तेमाल

दांतों का पीलापन दूर करने के घरेलू उपाय में एक उपाय स्ट्राबेरी भी है। यह एक टेस्टी फ्रूट तो होता ही है साथ ही यह दांतों को चमकाने के लिए भी कारागार साबित होता है। इसके लिए कुछ स्ट्राबेरी लेकर पेस्ट बना लें और इस पेस्ट के द्वारा हर रोज अपने दांतों को साफ़ करें। जब आप नियमित रूप से इसका इस्तेमाल करते हैं तब आपके पीले दांत बिल्कुल सफेद और चमकदार नजर आने लगते हैं।

तुलसी

दांतों का पीलापन दूर करने के लिए तुलसी का इस्तेमाल करना चाहिए। इसके साथ ही तुलसी मुंह और दांत के रोगों से भी बचाती है। तुलसी के पत्तों को धुप में सुखा लें। इसके पाउडर को टूथपेस्ट में मिलाकर ब्रश करें। इससे आपके पीले दांत चमकने लगते हैं।

नमक

नमक दांतों को साफ़ करने वाला एक पुराना नुस्खा है। नमक में थोडा सा चारकोल मिलाकर दांत साफ़ करने से दांतों का पीलापन दूर हो जाता है। जिससे दांत चमकने लगते हैं।

संतरे के छिलके

संतरे के छिलके से दांत चमकने लगते हैं। इसके लिए संतरे के छिलके और तुलसी के पत्तों को सुखाकर पाउडर बना लें। ब्रश करने के बाद इन छिलकों के पाउडर से दांतों को हल्के से रोजाना मसाज करें। संतरे में मौजूद विटामिन सी और कैल्शियम के कारण दांत मोती जैसे हो जाते हैं।

नीम का उपयोग

नीम का उपयोग दांतों के लिए प्राचीन समय से किया जा रहा है। नीम में दांतों को साफ़ करने के साथ साथ बैक्टीरिया को भी खत्म करता है। नीम एक नेचुरल एंटी बैक्टीरियल और एंटी सेप्टिक होता है। रोजाना नीम के दातुन से मुंह धोने पर दांतों के रोग नहीं होते।

गाजर का सेवन

अगर आप नियमित रूप से गाजर का सेवन करते हो तो आपके दांतों का पीलापन दूर हो जाता है। दरअसल भोजन करने के बाद गाजर का सेवन करने से इसमें मौजूद रेशे दांतों की सफाई अच्छे कर देते हैं।

नींबू का इस्तेमाल

नींबू दांतों और मसूड़ों के लिए एक लाभकारी फल है जो मुंह की लार में वृद्दि करता है। इसका इस्तेमाल करने के लिए नींबू के रस में उतना ही पानी दाल कर खाने के बाद कुल्ला करें। इससे दांत तो सफेद होते हैं साथ ही इससे मुंह की दुर्गन्ध दूर हो जाती है।

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।