लौंग की चाय के फायदे

सुबह की चाय पीने से शरीर मे ताजगी आती है। जो पूरे दिन आपको तरोजाता बनाती है। यूं तो बाजार में अलग-अलग तरह की चाय की पत्ती उपल्ब्ध होती है लेकिन जो चाय आपको कई फायदे दे सकती है वो है लौंग की चाय। सर्दियों में खासतौर से लौंग की चाय पीने से आप कई तरह की बीमारियों से मुक्त हो सकते हो। सबसे पहले जानते है कैसे बनती है लौंग की चाय 

कैसे बनाएं लौंग की चाय

 

  • एक छोटी चम्मच लौंग को पीस कर चूर्ण बना लें।
  • अब इस चूर्ण को एक कप पानी में मिलाकर 10 मिनट तक उबलने दें।
  • उबलने के बाद इसमें चाय की पत्ती को भी डालकर उबलने के लिए छोड़ दें। और थोड़ी सी चीनी भी आप इसमें डाल सकते हो।
  • इसके बाद इसे छाने और इसका सेवन करें।

लौंग की चाय के फायदे

बुखार

यदि बुखार आ गया हो तो एैसे में चाय में लौंग को डालकर पीने से बुखार से राहत मिलती है। बुखार को प्राकृतिक व घरेलू तरीके से ठीक करने की कारगर दवा है लौंग।

त्वचा संबधी परेशानी

लौंग की चाय पीने से त्वचा संबंधी रोग जैसे स्किन इंफेक्शन आदि ठीक होते हैं। लौग की चाय शरीर से टाक्सिन्स को बाहर निकाल देती है। लौंग की चाय को आप त्वचा के संक्रमण वाली जागह पर भी लगा सकते हैं।

मांसपेशियों का दर्द

सर्दियों में ठंड लगने की वजह से शरीर की मांसपेशियों में अकड़न और दर्द होने लगता है। जिस वजह से काफी परेशानी होती है। एैसे में आप लौंग वाली चाय का सेवन करें। लौंग मांसपेशियों के दर्द को खत्म करती है। इसके अलावा आप लौंग के पानी से मांसपेशियों की सिकाई भी कर सकते हो।

जुकाम 

लौंग की तासीर गर्म होती है इसलिए इसका सेवन करने से सर्दी से होने वाले रोग आसानी से नहीं लगते। लौंग आपको जुकाम और खांसी से भी राहत दिलाती है। सर्दियों में दो से तीन बार लौंग को चाय में डालकर जरूर पीएं।

पाचन समस्या व एसिडिटी

यदि खाना न पचता हो। या पाचन संबंधी कोई परेशानी हो लौंग की चाय का सेवन करें। लौंग एसिडिटी व पेट की गैस को भी ठीक करती है।

दांत दर्द

दांतों में सिरहन व दर्द का होना कष्टकारी होता है। ऐसे में लौंग की चाय आपके लिए फायदा कर सकती है। इस चाय को पीने से दांतों का दर्द व सिरहन खत्म होने लगती है। 

गले के रोग

लौंग की चाय पीने से गले संबंधी रोग जैसे कफ व गले का संक्रमण आदि रोग भी ठीक होते हैं।

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।