चूने के फायदे और गुण सेहत के लिए

चूना अक्सर पान के साथ मिलाकर खाया जाता है। यह चूना हमारी सेहत के लिए भी बेहद फायेदमंद और कई बीमारियों ठीक करने वाला होता है। हम आपको पान खाने की सलाह नहीं दे रहें अपितु हम आपको चूने के स्वास्थवर्धक फायदे और इसका इस्तेमाल कैसे करना है आदि के बारे में जानकारी दे रहे हैं। बहुत ही कम लोगों को पान में गिराए जाने वाले चूने के फायदों के बारे में पता होगा। लेकिन वैदिक वाटिका आपको चूने के फायदों के बारे में बता रही है जिससे आपकी सेहत ठीक रहे।

चूने के फायदे

नपुंसकता

जिन पुरूषों में शुक्राणु न बन रहा हो वे गन्ने के रस के साथ चूने की एक छोटी चुटकी को मिलाकर पीएं। इस उपाय से पूरी मात्रा में पुरूषों में शुक्राणु बनते हैं।

पीलिया

जोंडिस यानि कि पीलिया की सबसे अच्छी दवा है चूना। गन्ने के रस में गेहूं के दाने के बराबर चूना डालकर पीने से पीलिया जल्दी ठीक हो जाता है।

बच्चों की लंबाई को बढ़ाता है 

गेहूं के दाने के बराबर चूने को दही के साथ या फिर दाल के साथ मिलाकर बच्चे को देने से उनकी लंबाई तेजी से बढ़ती है। साथ ही साथ चूना बच्चों के दिमाग को भी तेज बनाता है। मंद बु़द्धि बच्चों को भी इसी मात्रा में चूना देने से फायदा मिलता है।

READ-एलोवेरा के सौंदर्य टिप्स – मर्दों के लिये

मासिक धर्म की समस्या में चूना 

मासिक धर्म के दौरान महिलाओं को यदि किसी भी तरह की समस्या होती हो तो वे गेहूं के दाने के बराबर चूना हर दिन लस्सी या दाल के साथ मिलाकर जरूर खाएं। आप पानी के साथ मिलाकर भी चूने का सेवन कर सकती हो।

READ-वीर्य को जल्दी गिरने से रोकने के उपाय

मुंह सबंधी रोगों में

  • मुंह में छाले होने पर पानी में चूना मिलाकर कुल्ला करने से छाले ठीक हो जाते हैं।
  • यदि मुंह में गरम और ठंडा पानी लगता हो तो चूने को खाएं।

 

शरीर में खून बढ़ाना

चूना शरीर में खून को भी बढ़ाता है। अनार के रस में या संतरे के रस में बहुत ही छोटी मात्रा यानि गेहूं के दाने के बराबर चूने को मिलाकर पीने से शरीर में खून तेजी से बनता है।

READ-शिलाजीत के फायदे और नुकसान

सभी दर्द में चूना

कंधे का दर्द हो या घुटने का दर्द , और एक खतरनाक बीमारी है चवदकलसपजपे जो कि चूने से ही ठीक होती है।

रीड़ की हड्डी की समस्या हो या उनमें दूरी आ गई हो। इसके अलावा हड्डी टूट जाए आदि को ठीक व जोड़ने के लिए चूने में शक्ति होती है। इसके लिए सुबह खाली पेट चूना खाएं।

READ-नपुसंकता के कारण और घरेलू उपाय

गर्भवती महिलाओं के लिए चूना

महिलाओं में गर्भ के समय अधिकतर कैल्श्यिम की समस्या देखी जाती है। ऐसे में वे रोज चूने का थोड़ी मात्रा में सेवन करे। चूना गर्भवती महिलाओं में कैल्श्यिम की कमी को दूर करता है।

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।