चोकर युक्त आटा के फायदे

अक्सर लोग रोटी बनाते समय बचे हुए आटे को छानकर उसके चोकर को फेंक देते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं चोकर में सबसे महत्वपूर्ण रेशा यानि फाइबर्स होते हैं। जो शरीर में कई चीजों की कमी को पूरा करते हैं। अच्छी सेहत के लिए चोकर बहुत जरूरी होता है। शोधकर्ताओं के अनुसार चोकर खून में इम्यूनोग्लोब्यूलीन्स की मात्रा को बढ़ाता है। जिससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। चोकरयुक्त आटा टीबी जैसी भंयकर बीमारी को भी दूर करता है।

चोकरयुक्त आटा खाने के फायदे

  • चोकर में मौजूद गुण आमाशय के घावों को ठीक कर देते हैं।
  • गेहूं के चोकर का इस्तेमाल करने से गैस और कब्ज ठीक होने के साथ पेट की आंते ठीक रहती हैं। और आंतों में चिपका मल भी हट जाता है।
  • बवासीर और अपेंडिसाइटिस और बड़ी आंत में होने वाले कैंसर से भी बचाता है चोकरयुक्त आटा।
  • मलाशय का खतरनाक कैसंर भी ठीक होता है चोकर से।
  • हार्ट अटैक की सबसे मुख्य वजह होती है कोलेस्ट्राॅल का बढ़ना। यदि आप चोकरयुक्त आटे का सेवन करते हो तो आपको दिल के रोग में लाभ होगा।
  • जो लोग मोटापे से परेशान होते हैं उनके लिए चोकरयुक्त आटे से बनी हुई रोटियां बहुत ही फायदा देती हैं। चोकर मोटापे को घटाता है।

इसलिए कभी भी गेहूं के आटे का बचा हुआ चोकर ना फेंके। क्योंकि चोकरयुक्त आटा आपकी सेहत के लिए एक औषधि से भी बड़ा काम करती है।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।