टमाटर में है गुणो का भंडार

शरीर को निरोग और शक्ति प्रदान करने के लिए टमाटर का सेवन लाभदायक है। टमाटर पौष्टिकता के साथ-साथ शरीर में विटामिन की कमी को पूरा करता है। यह सौंदर्य एंव खूबसूरती भी प्रदान करता है। यह मनुष्य के लिए प्रकृति का तोहफा है। जिसके जरिए मानव कई बीमारियों से ठीक हो सकता है। सलाद या फिर चटनी के रूप में आप टमाटर का सेवन कर सकते हैं। टमाटर का प्रयोग आप दाल, सब्जी आदि में करते तो हैं लेकिन क्या आप यह बात जानते हैं कि टमाटर के अंदर एैसे राज छिपे हुए हैं जो आपको आज तक मालूम नहीं होगें। आयुर्वेद में टमाटर सेवन के अनेक फायदों को बताया गया है। जिन्हें आज हम आपको बताएगें।

टमाटर में विटामिन ई की भरपूर मात्रा होती है। जो सेहत के साथ सौंदर्य के आकर्षण को भी बढ़ाती है। टमाटर प्राकृतिक गुणों जैसे आयरन, साइट्रिक और अम्ल से भरपूर होता है। जो गर्भवती महिलाओं के लिए उपयोगी होता है। साथ ही विटामिन बी की वजह से भी इसका सेवन गर्भवती महिलाओं को फायदा करता है। क्योंकी यह खून की कमी को दूर करता है।

टमाटर किन बीमारियों को दूर करने में मदद करता है उसको भी जानना जरूरी है। ये हैं टमाटर के आयुवेर्दिक गुण –
टमाटर का सेवन डायबिटीज के मरीजों के लिए उपयोगी है। टमाटर के सेवन से डायबिटीज का प्रकोप कम हो जाता है। मधुमेह के रोगीयों को टमाटर की सब्जी का सेवन करते रहना चाहिए साथ ही कच्चा टमाटर का सेवन करना भी फायदेमंद होता है।

कब्ज
कब्ज से परेशान लोगों के लिए टमाटर का सेवन करना फायदा करता है। यदि आपको कब्ज है तो आप टमाटर का सूप का सेवन करते रहें। यह आपकी पुरानी से पुरानी कब्ज को दूर कर देगा। यदि आपको प्यास ज्यादा लगती हो और आपकी बार-बार पानी पीने से भी प्यास न बुझ रही हो तो आप लौंग का चूर्ण और शक्कर को टमाटर के रस में डालकर सेवन करें आपको इस समस्या से मुक्ति मिलेगी।

मसूड़ों की समस्या 

मसूड़ों से खून निकलता हो तो आप कच्चा टमाटर खाएं या फिर टमाटर का रस बनाकर उसका सेवन करें एैसा करने से मसूड़ों से खून निकलने वाली समस्या दूर हो जाती है। यदि मुंह के छाले की समस्या से परेशान हों तो पानी में टमाटर के रस को डालकर कुला करें आपको मुंह के छालों की समस्या से मुक्ति मिलेगी।

शरीर कमजोर हो तो

यदि आपका शरीर कमजोर है या फिर शारीरिक कमजोरी हो तो भी टमाटर का सेवन लाभदायक होता है। 10 ग्राम शहद में 100 ग्राम टमाटर का रस डालकर उसे मिला लें और सुबह इसका सेवन करें यह शरीर की कमजोरी को दूर करता है और आपकों उर्जावान बनाता है।

पीलिया

पीलिया जैसे घातक रोग में टमाटर भी आपको बचा सकता है। प्रतिदिन 100 या 200 ग्राम टमाटर का रस पीने से जांडिस यानी पीलिया की बीमारी में राहत मिलती है।

खुजली या खाज

खुजली या खाज होने पर भी टमाटर की भूमिका अहम है। खुजली होने पर नारियल के तेल में टमाटर की रस की कुछ बूंदे डालकर शरीर पर मालिश करें फिर हल्के गरम पानी से स्नान करें एैसा करने से खाज, खुजली की समस्या से निजात मिलता है। टमाटर के सेवन करने से कब्ज की शिकायत दूर होती है साथ ही इसमें वसा की मात्रा कम होने की वजह से मोटपा भी नहीं बढ़ता है।

हाई ब्लडप्रेशर

हाई ब्लडप्रेशर की वजह से कई बीमारियों का सामना करना पड़ता है। टमाटर के सेवन के जरिए ही आप हाई ब्लडपे्रशर की बीमारी से निजात पा सकते हो। हाई ब्लडप्रेशर की बीमारी से परेशान लोगों को सलाद के रूप में लाल रंग वाला टमाटर का सेवन अधिक से अधिक करना चाहिए।

सौंदर्य निखार लाने में टमाटर की आयुवेर्दिक भूमिका क्या है यह जानना जरूरी है
यदि आंखों के नीचे डार्क सर्कल्स हों तो आप टमाटर के रस में थोड़ा गाजर का रस मिलाकर आंखों के नीचे डार्क सर्कल्स पर लगाएं यह आंख के नीचे पड़े काले धब्बों को दूर करता है। यदि आपकी त्वचा में दाग या धब्बे हों तो मूली के रस में टमाटर का रस मिलाकर चेहरे पर लगाने से चेहरे से दाग धब्बे दूर हो जाते हैं। टमाटर के रस को चेहरे पर प्रतिदिन लगाने से चेहरे का रंग निखरता है और चेहरा कांतिमान बनता है।
वजन घटाना
वजन कम करने में टमाटर बहुत ही फायदेमंद होता है। अपने भोजन में आप टमाटर का सेवन अधिक करें। जैसे सलादए सब्जी और टमाटर सूप आदि। इनको नियमित लेने से मोटापा जल्दी घटने लगता है।

दर्द
यदि शरीर के किसी अंग में दर्द की समस्या बहुत ही लंबे समय से बनी हुई हो तो आप टमाटर सेवन करना शुरू कर दें। टमाटर में मौजूद तत्व पीठ का दर्द और गठिया के दर्द को ठीक करते हैं।

पथरी में सहायक
टमाटर का सेवन यदि आप उसके बीजों को निकाल कर करत हो तो इससे पित्त और गुर्दे में बनने वाली पथरी खत्म होने लगती है। या वह बढ़नी रूक जाती है।

आंखों की सेहत के लिए टमाटर के फायदे
टमाटर रतौंधी जैसी गंभीर आंखों की समस्या को रोक देता है।  इसलिए आंखों की समस्या होने पर टमाटर खाना फायदेमंद होता है।

कैंसर से बचाए
टमाटर शरीर को कई तरह के कैंसर से बचाता है। जैसे पेटए मुहए गर्भाशयए प्रोस्टेट और गले संबंधी कैंसर को बढ़ने नहीं देता है। जिस वजह से कैंसर का खतरा कम हो जाता है।

हड्डियों की मजबूती के लिए
विटामिन और कैल्श्यिम ही इंसान की हड्डियों को मजबूत बनाते हैं। ये दोनों तत्व टमाटर में होते हैं। जिन लोगों की हड्डियां कमजोर हैं वे टमाटर का सेवन जरूर करें। आपको फायदा मिलेगा।

छोटे बच्चों के लिए टमाटर के फायदे
जब बच्चे के दांत निकलते हैं उस समय बच्चा काफी कमजोर हो जाता है। कैल्श्यिम की कमी की वजह से बच्चे के दांत निकलते समय काफी परेशानी होती है। लेकिन इस परेशानी को दूर करने के लिए आप बच्चे को 2 से 3 चम्मच टमाटर का छना हुआ रस, का सेवन बच्चे को करवाएं। और यह कुछ दिनों तक यह नियमित करते रहें।
स्तनपान के बाद छोटे बच्चों को यदि उल्टी हो जाती है तो टमाटर के रस की 2 छोटी बूंदे शिशु को दूध पिलाने से पहले पिला दें।

टमाटर प्राकृति का अनमोल तोहफा है। इसलिए टमाटर का सेवन आप जरूर करें। आयुर्वेद में इसलिए टमाटर को विशेष समझा गया है। आप भी टमाटर को सलाद में, भोजन में आदि में प्रयोग जरूर करें ताकी आप और आपका परिवार स्वस्थ और निरोग रहे।

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।