मटर के लाभ

मटर को आप खाने में इस्तेमाल करते हो लेकिन क्या आप मटर में मौजूद गुणों के बारे में भी जानते हो। मटर में मौजूद गुण आपके शरीर और सेहत के लिए फायदेमंद होता है। आइये जानतें हैं मटर के स्वास्थय लाभ।

शरीर की प्रतिरक्षा को बढ़ाता है
मटर शरीर में मौजूद आयरन, जिंक, मैगनीज और तांबा शरीर को बीमारियों से बचाता है। मटर में एंटीआॅक्सीडेंट होता है। जो शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है ताकि शरीर बीमारियों से मुक्त रह सके।

बढ़ाए चेहरे की चमक
मटर का प्रयोग चेहरे को सुंदर बनाने के लिए भी किया जा सकता है। यह प्राकृतिक स्क्रब है। पानी में थोड़े से मटरों को उबाल लें और फिर उन्हें कूट पीसकर उनका लेप यानि पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को चेहरे पर रगडें और 15 से 20 मिनट के बाद साफ पानी से चेहरा धो लें। यह चेहरे की खोई हुई चमक को वापस लाता है। और चेहरे की गंदगी को दूर करता है। मटर का उबटन चेहरे से झांई और धब्बों को मिटाता है।
दूध में भुनी हुई मटर के दानों और नारंगी के छिलकों को पीसकर उबटन तैयार करें और इसे चेहरे पर मलें। यह आपके रंग और रूप को संवारेगा।

वजन निंयत्रित करता है
मटर में मौजूद गुण वजन को नियंत्रित करते हैं। मटर में लो कैलोरी और लो फैट होता है। हरी मटर में हाई फाइबर होता है जो वजन को बढ़ने से रोकता है। यदि वजन कम करना चाहते हैं तो अपने भोजन में हरी मटर का इस्तेमाल अधिक से अधिक करें।

पेट के कैंसर में लाभ
पेट के कैंसर में हरी मटर एक कारगर औषिधि है। एक अध्धयन में पता चला है कि मटर में मौजूद काउमेस्ट्रोल जो कैंसर से लड़ने में मददगार होता है। साथ ही हरी मटर का प्रतिदिन सेवन करने से पेट के कैंसर का खतरा कम हो सकता है।

उर्जावान और जंवा बनाएं
मटर शरीर को चुस्त दुरूस्त रखती है। हरी मटर में मौजूद फाइटोन्यूटिंस और कैरोटिन शरीर को उर्जावान और हमेंशा जंवा बनाएं रखने में शक्ति देता है।

गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद
मटर में मौजूद फालोक एसिड जो पेट में भू्रणं की समस्याओं को दूर करता है साथ ही गर्भवती महिला को पर्याप्त पोषण देता है। गर्भवती महिलाओं को अपने खाने में हरी मटर को जरूर शामिल करना चाहिए।

करे डायबिटीज को नियंत्रित
हरी मटर में प्रोटीन के तत्व और उच्च फाइबर पाया जाता है जो शरीर में मौजूद शुगर की मात्रा को कंट्रोल करता है साथ ही डायबिटीज के खतरों से भी बचाता है।

दे सूजन और जलन में राहत
सर्दियों के समय में हाथों में होने वाली सूजन में मटर के काढ़े को हल्का गरम करके उसमें थोडी देर के लिए उंगलियों को डालकर रखने से सूजन कम होती है।
यदि सूजन शरीर में है तो मटर के उबले हुए पानी से नहाने से शरीर की सूजन खत्म होती है।
यदि किसी वजह से त्वचा जल गई हो तो हरी मटर का पेस्ट लगा लें। यह तुरंत राहत देती है।

मटर के अन्य फायदे

  • मटर का सेवन स्त्रियों में माहवारी की रूकावट की समस्या को दूर करता है।
  • हरी मटर हड्डियों को मजबूत बनाती है। इसमें मौजूद विटामिन आस्टियोपोरोसिस के खतरे को कम करता है।
  • दिल संबंधी बीमारियों में हरी मटर का सेवन करना लाभदायक होता है। यह कोलेस्ट्रोल के खतरे को कम करता है साथ ही हार्ट संबंधी रोगों से मुक्ति दिलाता है।
  • जिन लोगों को बार-बार भूलने की समस्या है वे हरी मटर का खूब सेवन करें।

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।