दाढी मूछ के फायदे

प्राचीन समय से ही पुरूषों में दाढ़ी और मूछों का प्रचलन रहा है। चाहे वह महाराण प्रताप रहे हों या फिर वीर शिवाजी।  आज के समय में भले दाढ़ी और मूछ कम ही लोग रखते हैं लेकिन एैसा नहीं है। दाढ़ी और मूछों वाले लोग बेहद कड़क और दमदार भी लगते हैं। कुछ लोगों का मानना है कि इस तरह के लोग बेहद आलसी तरह के होते हैं। लेकिन हाल ही में हुए एक नए अध्ययन में दाढ़ी और मूछों को रखने वाले लोगों के बारे में नई बात सामने आई है। जिसके अनुसार एैसे पुरूष कई प्रकार की गंभीर बीमारियों से बचे रहते हैं।

त्वचा को रूखा होने से बचाना
पुरूषों को भी ड्राय स्किन यानि रूखी त्वचा की दिक्कत होती है। इसलिए वे भी फेस क्रीम का इस्तेमाल करते हैं जो स्किन को नुक्सान पहुंचाते हैं।
लेकिन जो पुरूष दाढ़ी-मूछ रखते हैं उनकी त्व्चा ड्राय होने से बची रहती है।

                                          
बचाए त्वचा के कैंसर से
दाढ़ी रखने से त्वचा का कैंसर नहीं होता है। सूर्य की अल्ट्रावाइलेट किरणों से त्वचा को स्किन कैंसर हो सकता है। रिसर्च से यह बात सामने आई है जो लोग दाढ़ी रखते हैं वे 90 प्रतिशत तक यूवी किरणों से बचे रहते हैं। क्योंकि दाढ़ी यूवी किरणों को सीधे त्वचा पर नहीं पहुचने देती है। इसलिए स्किन कैंसर से बचने के लिए दाढ़ी रख सकते हो।

शरीर को रखे रोग मुक्त
अस्थमा और एलर्जी की परेशानी को दूर करने में दाढ़ी बेहद फायदेमंद होती है। यह धूल और प्रदूषण को सीधे चेहरे पर नहीं आने देती है। क्योकि दाढ़ी के बाल फिल्टर का काम करके चेहरे को बीमारियों से मुक्त रखते है। दाढ़ी अस्थमा और एलर्जी से भी बचाती है। जैसे नाक के बाल और आंखों की पलकें गंदगी को सीधी शरीर में नहीं आने देती है उसी तरह दाढ़ी भी शरीर को रोगमुक्त रखने का काम करती है।

नहीं दिखती अधिक उम्र
जो लोग दाढ़ी-मूछें रखते हैं उनकी उम्र हमेशा एक जैसी ही लगती है क्योंकि उम्र के साथ चेहरे पर पड़ने वाली झुर्रियों को दाढ़ी छिपा लेती है।

नहीं होता इन्फेक्शन
शेव करते समय स्किन कट जाती है और इस वजह से स्किन पर इन्फेक्शन हो सकता है। दाढ़ी रखने से चेहरे पर दाग-धब्बे नहीं होते हैं। क्योंकि दाढ़ी रखने से चेहरे पर यदि कोई दाग-धब्बे भी हों तो वह भी ढ़क जाते है।                   ये भी पढ़ें-बेमिसाल है पुरूषों के लिए खूबसूरती के ये टिप्स

दाढ़ी रखना सेहत के लिए बेहद फायदेमंद है लेकिन कई बार यह बेकार भी दिखने लगती है इसलिए समय-समय पर ट्रिमिंग करवानी चाहिए। ताकि दाढ़ी अच्छी लगे।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।