गंजेपन से पेरशान हैं तो अपनाएं ये घरेलू उपाय

गंजेपन की समस्या आजकल बढ़ती जा रही है। और लोग इस पेरशानी से बचने के लिए तरह तरह के केमिकल वाले प्राॅडक्टस का इस्तेमाल करने लगते हैं। जिसकी वजह से गंजापन और अधिक बढ़ता है। बाल ही सुंदरता का प्रतीक हैं। बालों की यह समस्या ज्यादातर महिलाओं को होती है लेकिन पुरूष भी गंजेपन का शिकार हो रहे हैं। लेकिन अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। आयुर्वेद में छिपा है गंजेपन को दूर करने का सफल उपाय।

सबसे पहले गंजेपन के बारे में यह जानना जरूरी है। आखिर कौन से कारण हैं जिस वजह से गंजापन होता है। क्योंकि जानकारी ही सही बचाव है।
गंजेपन के मुख्य कारण इस प्रकार हैं।

1. शरीर में विटामिन की कमी के आ जाने से बाल गिरने लगते हैं।

2. प्रतिदिन कास्मेटिक शैंपू से बाल धोना या साबुन से बाल धोना।

3. बालों को कलर या डाई करना।

4. हैलमेट को ज्यादा समय तक सिर पर रखना।

5. दिमाग में बेवजह की टेशन लेना।

6. बालों को झटके से खीचना या ज्यादा कस कर बालों को बांधना।

7. सिर में सफेद दाग की वजह से भी बाल गिरने लगते हैं।

8. अनुवांशिक कारण और मानसिक तनाव का होना।

9. खुशबूदार तेलों का अधिक इस्तमाल करना।

10. रक्त विकार, दाद, एग्जिमा आदि कारणों से भी गंजापन होता है।

उपचार 

1. जिस जगह से गंजापन शुरू हो रहा हो उस जगह पर धनिए का रस कुछ समय तक लगाते रहने से बाल उगने लगते हैं।

2. उड़द की दाल को पीसकर उसका पेस्ट बनाएं और रात को सोने से पहले गंज वाले स्थान पर इस लेप को लगाएं। कुछ दिनों तक लगातार करते रहने से बाल आने लगते हैं।

3. बाल उड़ने की वजह से यदि सिर पर चकते बन गए हों तो आप नीम के तेल को कुछ दिनों तक नियमित लगाएं। कुछ ही समय के बाद नए बाल उगने लगेगें।

1 से 2 महीने तक गंज वाली जगह पर नींबू रगड़ते रहने से भी बाल आने लगते हैं।
4. केले के गूदे को पीसकर उसमें नींबू का रस निचोड़कर चकते वाली जगह पर लगाने से फायदा होता है। कुछ दिनों तक इसका प्रयोग करने से बाल फिर से उगने लगते हैं।
5. गाय के दूध से बनी दही को तांबे के बर्तन में तब तक घोटे जब तक रंग हरा न हो जाए। और इस पेस्ट में थोड़ी हल्दी मिला लें फिर गंजेपन वाली जगह पर इसका लेप करें। कुछ ही दिनों में बाल वापस आने लगेगें।
6. 5 चम्मच नारियल तेल में 1 चम्मच काली मिर्च, पिसा नमक मिलाकर गंजेपन वाली जगह पर कुछ दिनों तक नियमित लगाते रहें। एैसा करने से नए बाल आ जाते है।
7. अनार के पत्ते भी बहुत कारगर हैं। पानी के साथ अनार के पत्तों को पीसकर लेप तैयार करें। इस लेप का नियमित इस्तेमाल से गंजापन दूर होता है। और शीध्र ही नए बाल आने लगते हैं।
इन वैदिक उपायों को करने से आपको लाभ जरूर मिलेगा लेकिन ख्याल रखें नियमित और उचित मात्रा में बताए गए प्रयोगों को करते रहें। आयुर्वेद में लाभ कुछ समय के बाद मिलता है।

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।