बकरी के दूध के फायदे

बकरी का दूध हमारी सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है। यह बात अक्सर पुराने समय से ही कही आ रही है जिसे आज  डॉक्टर भी सच मानते हैं। आप को कई बीमारियों से बचा लेता है बकरी का दूध। छोटे बच्चों से लेकर बड़े और बूढों तक में कैल्शियम की कमी को दूर करता है बकरी का दूध। यह शरीर को कैल्शियम का उच्च स्तर प्रदान करता है। हाल ही में वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि बकरी के दूध को पीने से शरीर में पाचन संबंधी दिक्कतें तो दूर होती ही हैं साथ ही साथ यह शरीर के विकास में भी फायदेमंद होता है।

अक्सर बकरी का दूध पीने से कई लोग परहेज करते हैं क्योंकि इस दूध से विशेष प्रकार की गंध आती है। लेकिन क्या आप जानते हैं ये गंध इसमें मौजूद औषधीय गुणों की वजह से आती है। जो शरीर में घटी हुई प्लेटलेटस को तुरंत बढ़ा देती है।

डेंगू जैसे खतरनाक वायरल बुखार जिसमें इंसान का शरीर टूट जाता है एैसे समय में बकरी का दूध पीना बेहद फायदेमंद और जीवनदायक साबित होता है।

बकरी के दूध के गुण – बकरी के दूध के फायदे

मधुमेह के रोग में 

बकरी के दूध का सेवन करने से शरीर में मौजूद एसिड आसानी से पच जाता है जिससे उच्च रक्तचाप, कैंसर और मुधमेह आदि का इलाज आसानी से हो सकता है।

 

शरीर के रोग

बकरी के दूध में कई गुण होते हैं जो शरीर के आलस्य को दूर करने के साथ-साथ थकान, मांसपेशियों का खिचाव, सिर दर्द और वजन का बढ़ना आदि की समस्याओं को आसानी से ठीक कर देता है।

 READ-पसीने की बदबू का घरेलू उपचार

READ-वीर्य को जल्दी गिरने से रोकने के उपाय

फैटी एसिड

बकरी के दूध में फैटी एसिड अधिक होता है। जो कि गाय के दूध से दोगुना होता है। और बकरी के दूध में प्रोटीन के अणु अति सूक्ष्म होते हैं जिस वजह से छोटे बच्चे को आसानी से ये दूध पच जाता है।

जो लोग दूध में मौजूद लैक्टोज को नहीं पचा पाते हैं वे बकरी के दूध का सेवन करें। इससे दूध में मौजूद लैक्टोज उन्हें आसनी से पच सकता है जिससे शरीर हर बीमारी से लड़ने में मजबूत बन जाता है।

 READ-एलोवेरा के सौंदर्य टिप्स – मर्दों के लिये

सेलेनियम की मात्रा को अधिक होना

शोध में पता चला है कि बकरी के दूध में सेलेनियम की अधिक मात्रा होती हैं जिससे यह दूसरे दुधारू पशुओं की तुलना में तीन गुना अधिक सेलेनियम बनाती है जो शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा देता है।

एचआईवी के रोग में

बकरी के दूध में मौजूद गुण से एचआईवी एड्स से पीडि़त मरीजों को लंबे समय तक बचाया जा सकता है। सीडी 4 काउन्टस को बढ़ाता है बकरी का दूध। जो एचआईवी पीडि़त रोगीयों की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने का काम करता है।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।