बाजरे की रोटी के फायदे

बाजरा उत्तर भारत में सबसे अधिक खाया जाता है। पंजाब, राजस्थान से लेकर बिहार के ग्रामीण इलाकों में बाजरा खाया जाता है। बाजारे की रोटी खाने से आपको कई स्वास्थवर्धक फायदे मिलते हैं। बाजरे की रोटी खाने से कई तरह की बीमारियों से शरीर बचा रहता है। वैदिक वाटिका आपको बता रही है बाजरे की रोटी खाने के फायदों के बारे में। यह एक तरह का घरेलू नुस्खा भी है जो आपको कई तरह के फायदे दे सकती है।

सबसे पहले जानते हैं कैसे बनती है बाजरे की रोटी

सामग्री
स्वाद के अनुसार नमक
दो से तीन कप बाजरे का आटा
और
1/4 कप गेंहू का आटा।

बाजरे की रोटी बनाने का तरीका
सबसे पहले गेंहू के आटे को बाजरे के आटे में मिला लें और पानी से इसे अच्छे से गूथें।

इसके बाद इस मुलायम आटे की लोई बनाकर इसकी बहुत पतली और गोल आकार में रोटी बनाएं। और इसे गर्म तवे पर तब तक सेकें जब तक इसका रांग दोनो तरफ से भूरे रंग का हो जाए।

अब तैयार है आपकी बाजरे की रोटी। इसमें थोड़ा मक्खन या घी डालकर गर्म.गर्म इसका सेवन करें। अब जानते हैं बाजरे की रोटी के फायदों के बारे में।

बाजरे की रोटी के सेहतवर्धक फायदे
डायबिटीज के रोग में
बाजरे की रोटी नियमित खाने से डायबिटीज का खतरा कम हो जाता है। बाजरे की रोटी में मौजूद गुण टाइप 1 डायबिटीज के प्रभाव को रोकते हैं।

कैंसर में
कैंसर से लड़ने वाले और उसे रोकने वाले तत्व बाजरे की रोटी में होते हैं। जो लोग बाजरे की रोटी खाते हैं उनमें कैंसर रोग नहीं होता है।
ताकत और उर्जा के लिए
बाजरे की रोटी खाने से शरीर में ताकत और उर्जा आती है। क्योंकिं इसमें कई तरह के प्राकृतिक गुण होते हैं जो शरीर को अंदर और बाहर दोनों तरह से उर्जा देते हैं। जिससे आपको थकान भी कम लगेगी।
दिल की बीमारी में बाजरे की रोटी
जिन लोगों में हार्ट से संबंधित समस्या हो गई हो। वे अपने खाने में बाजरे की रोटी का सेवन करें। बाजरे में मैजूद पोटेशियम और कैल्श्यिम हार्ट अटैक की दिक्कत को नहीं होने देते हैं।

पेट की समस्या
कब्ज और गैस से हर इंसान परेशान रहता है। और यह पेट की मुख्य बीमारी है। कब्ज और गैस की समस्या को ठीक रखने के लिए बाजरे के आटे की रोटी खाएं। इससे पाचन तंत्र भी ठीक रहेगा और पेट की बीमारियां भी ठीक हो जाएगीं।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।