बच्चों का आहार – जरूर दें ये चीजें

sweet-recipe-navratri-sabudana-kesari-in-hindi

अक्सर देखा जाता है कि बच्चे खाना खाने में ना नुकुर व नखरे करते हैं। जिस वजह से उनके शरीर तक पोषण नहीं पहुंच पाता है। और वे आने वाले समय में बीमार पड़ सकते हैं। यही नहीं बच्चों को भविष्य में भी कई तरह की बीमारियों का सामना भी करना पड़ सकता है।
यही एक उम्र होती है बच्चों की जिसमें उन्हें पूरी तरह से पोषण की जरूरत होती है जिससे उनका मानसिक और शारीरिक विकास होता है। इसलिए हर मां पिता को यह जानना जरूरी है कि वे अपने बच्चे को क्या जरूरी चीजें खिलाएं जिससे बच्चे की सेहत आने वाले भविष्य में ठीक रह सके।

यदि आपका बच्चा खाना खाने में नखरे करता है तो आप उसे पौष्टिक चीजों को देने का तरीका बदलें। उसे हेल्थी चीजों के बारे मे बताएं कहानी या किस्से सुनाएं। या फिर बच्चे को खाना इस तरह से दें ताकि उसे अच्छा लगे।

बच्चों के खाने में हर वो चीज शामिल करनी चाहिए जिससे आपका बच्चा स्वस्थ व निरोगी रह सकता है। वैदिक वाटिका आपको बता रही है बच्चे को खाने के लिए कौन  सी जरूरी चीजों को देना चाहिए।

बच्चों के लिए जरूरी आहार – जो जुड़ा है बच्चों की देखभाल से

दही का सेवन
बच्चे को दही खिलाना बहुत ही फायदेमंद होता है। दही खाने से बच्चों के दांत व हड्डियां मजबूत होती है। बच्चे को आप दही को लस्सी या छाछ के अलावा रायता आदि बानाकर भी खिला सकती हैं।

ब्लू बैरी यानि जामुन
जामुन बहुत ही पौष्टिक फल होता है। जो बच्चों को अंदर से मजबूत बनाता है। जामुन में फाइबर, आयरन और तरह तरह के विटामिन्स होते हैं। वैसे भी जामुन खाने में बच्चे किसी तरह के बहाने नहीं करते हैं। बड़े चाव से जामुन खाना पसंद करते हैं।

दूध का सेवन
उम्र बढ़ने के साथ बच्चों के लिए जरूरी है कैल्शियम का होना।  जो कि उन्हें दूध पीने से मिल सकता है। दूध में मौजूद गुण न केवल बच्चे को कैल्शियम  देते है साथ ही साथ बच्चे के शरीर का विकास भी करते हैं। कैल्शियम बच्चों की हड्डियों को मजबूत बनाता है।

शकरकंद का सेवन
शकरकंद में विटामिन एए विटामिन सी और विटामिन ई के साथ कैल्श्यिम और आयरन की भरपूर मात्रा होती है जो बच्चे की सेहत के  लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद है।

ब्रोकली खाना
बच्चे को ब्रोकली की सब्जी या सूप जरूर खिलाएं व पिलाएं। एैसा करने से बच्चे को ब्रोकली में मौजूद गुण मिलते है जो बच्चे की सेहत को सभी तरह के पोषक तत्व देते हैं। ब्रोकली खाने से बच्चों की हड्डियों में ताकत आती है।

अंडा
प्रोटीन  की कमी को पूरा करता है अंड़ा। अक्सर बच्चों में प्रोटीन की कमी बचपन से ही हो जाती है। इस कमी को पूरा करने के लिए बच्चे को अंडा जरूर दें। अंडा बच्चों के शारीरिक विकास में भी सहायक भूमिका निभाता है।

इन बाताई गई चीजों पर यदि हर मां पिता ध्यान दें तो वे बच्चे के भविष्य के लिए सबसे अच्छे साबित हो सकते हैं।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।