औषधीय गुणों वाली चाय के फायदे

विस्तार में जाने औषधीय गुणों वाली चाय के फायदे के बारे में कैसे बनाये स्वस्थ चाय, health benefits of ayurvedic tea in hindi

चाय की उत्पत्ति करने वाला देश चीन है। जिस समय इसकी उत्पत्ति हुई हुई उस समय इसका इस्तेमाल चाय के रूप में किया जाता है। लेकिन आज यह हर किसी की लाइफ का हिस्सा बना हुआ है आज की चाय में कैफीन की मात्रा और अन्य मिलावट पाई जाती है। इसके स्थान पर अगर आप औषधीय चाय का सेवन किया जाएं तो यह सेहत के लिए लाभकारी होता है।

इसमें एमिनो एसिड एल थियनाइन पाए जाते हैं जो दिमाग नर्व को सक्रिय करता है और दिमाग में अल्फ़ा वेव्स के उत्पादन को उत्तेजित करता है। टी एलिक्सर्स हमारे स्वस्थ जीवन के लिए लाभकारी होता है। इसकी सबसे अच्छी बात यह हैं कि हम इसे अपने घर पर आसानी से बना सकते हैं। तो चलिए जानते हैं औषधीय गुणों वाली चाय के फायदे के बारे में।\

औषधीय गुणों वाली चाय के फायदे

#1 डीप स्लीप टी

अगर आप सोने से पहले कैमोमाइन और अदरक वाली चाय पीने से गहरी और आरामदायक नींद आती है। कैमोमाइन तनाव को दूर करने का काम करती है वहीं अदरक में पाएं जाने वाले एंटी इन्फ्लेमेट्री गुण पैसेजवे से म्यूकस को साफ़ करने में मदद करता है। इसका सेवन करने से साँस लेने में कठिनाई नहीं होती और आप अच्छे से अपनी नींद पूरी कर सकते हो।

#2 ब्रेन पावर फार्मूला

चाय को ब्लूबेरी, अदरक और तुलसी को मिलाकर बनाया जाता है। ब्लूबेरी में एन्थोसायनिन और फ्लेनोल्स पाएं जाते हैं जो दिमाग के विकास के लिए फायदेमंद होते हैं। इसमें मौजूद एंटी ऑक्सीडेंट दिमाग के फ्री रेडिकल्स से बचाता है जो मेमोरी लास का कारण बन सकती है। अदरक का प्रयोग सर दर्द को दूर करने के लिए और तुलसी का चाय में प्रयोग स्वाभाविक रूप से मस्तिष्क और मन के तनाव और थकान को कम करती है। इसलिए हमेशा अदरक, तुलसी और ब्लूबेरी का इस्तेमाल चाय में जरुर करना चाहिए।

#3 मॉर्निंग लिवर टॉनिक

सुबह की चाय पीने से शरीर की सारी गंदगी को आसानी से निकला जा सकता है। नींबू और हल्दी से बनी हुई चाय सेहत के लिए फायदेमंद होती है। नींबू के रस में अत्याधिक एल्कलाइन होता है और हल्दी अपने डीटाक्सिफाइंग गुणों के लिए जाना जाता है। हल्दी में एंटी इन्फ्लेमेट्री और एंटीसेप्टिक गुण पाएं जाते हैं जो शरीर में मौजूद विषाक्त पदार्थ को बाहर निकलते हैं और आपके वजन को कम करते हैं।

#4 डिटाक्स इलिकसर्स

इस प्रकार की चाय लाल मिर्च, दालचीनी और नींबू के रस के द्वारा तैयार की जाती है। चाय में मौजूद चाय लाल मिर्च मेटाबालिज्म को बढाने में मदद करता है और साथ ही इससे आपके शरीर को सही आकार मिलता है। चाय में मौजूद दालचीनी ब्लड शुगर और एलडीएल कोलेस्ट्रोल को कम करती है और साथ ही मेटाबालिज्म और इन्सुलिन के स्तर को भी बढ़ाता है। जब आप चाय में नीबू का इस्तेमाल करते हैं तो इसमें मौजूद एंटी बैक्टीरियल और एंटी इन्फ्लेमेट्री गुण आपके शरीर की सुजन को कम करने में मदद करता है।

#5 ब्यूटीफुल स्किन टी

ब्यूटीफुल स्किन टी गाजर, सेज और लाल मिर्च द्वारा तैयार की जाती है। गाजर के रस में बीटा कैरोटिन होता है जो हमारे शरीर के लिए विटामिन ए का काम करता है। यह त्वचा को चमक और स्वस्थ रखने में मदद करती है। सेज में  एंटी इन्फ्लेमेट्री गुण होते हैं जो बैक्टीरिया को शरीर में विकसित होने से रोकते हैं। लाल मिर्च में विटामिन ए और विटामिन सी होता है जो आपकी त्वचा के कोलेजन को कम करने वाले फ्री रेडिकल्स को अवशोषित करने में मदद करता है। इसलिए इसका सेवन नियमित रूप से करना चाहिए।

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।