आलूबुखारा के फायदे

आलू बुखारा एक खट्ट.मीठा फल है। जो खाने में बहुत ही स्वाद देता है। आलू बुखारा इसे इसलिए कहते हैं क्योकि यह इसकी आकृति आलू की तरह होती है। आलू बुखारा को ताजा और सूखाकर इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। विश्व में दो हजार से अधिक किस्में होती है आलू बुखारे की। आलू बुखारा सबसे ज्यादा फायदा पुरूषों को देता है। सेहत के लिए बहुत ही लाभदायक होता है आलू बुखारा। क्योकि इसमे मौजूद विटामिन्सए कैल्श्यिमए प्रोटीन और मिनरल्स आपको स्वस्थ बनाए रखने का कार्य करते हैं। वैदिक वाटिका आपको बता रही है आलू बुखारे के एैसे फायदे जो आपकी सेहत को ठीक रखते हैं।

आलू बुखारा के लाभ

यदि आप आलू बुखारा का सेवन करते हैं तो इससे आपको हाई ब्लड प्रेशर का रोग नहीं होगा। जिन लोगों में आयरन और खून की कमी है वे नियमित रूप से आलू बुखारे का सेवन करें। त्वचा की दिक्कतें जैसे झुर्रियां,  दाग और मुहांसे आदि आलू बुखारा खाने से ठीक हो जाते हैं क्योंकि इसमें एंटीआक्सीडेंट्स अधिक मात्रा में पाए जाते हैं।

कैंसर की समस्या में

एंटी आॅक्सीडेंट और फाइबर होने की वजह से आलू बुखारा कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी को शरीर पर नहीं लगने देता है। बीटा कारटोनेस एक मात्र एैसा गुण है जो कैंसर को बढ़ने से रोकता है। यह गुण आलू बुखारे में होता है।

शरीर की रोग प्रतिरोधक शक्ति में

शरीर जब कमजोर होता है तब इंसान की रोग प्रतिरोधक क्षमता भी कम हो जाती है। जिससे कई बीमारियों का लगने का डर रहता है।आलू बुखारे का यदि आप सेवन करते हैं तो यह आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा देगा। आंखों की समस्याएं जैसे आंखों की कमजोरीए धुंधला दिखना और आंखों से पानी निकलने की समस्या आदि। रोग ठीक हो जाते हैं। आलू बुखारा खाने से।

घटाए वजन

यदि आप बढ़ते हुए वजन से परेशान हैं तो आलू बुखारा खाएं। क्योंकि यह आपकी भूख को नियंत्रित करता है जिससे आप अधिक खाने से बचते हो।

दिमाग तेज करता है

यदि आपको कुछ याद न रहता हो या याददाश्त कमजोर हो तो आप आलू बुखारा खाएं।

पेट के कीड़े

पेट में कीड़े होने पर आलूबुखारा के पत्तों को लें और इसे साफ करके इसका पेस्ट बना लें। अब आप इसे पेस्ट को पेट के उपर लगाएं। इस उपाय से पेट के कीड़े साफ हो जाते हैं।

उर्जा देता है

आलू बुखारा खाने से शरीर की क्षमता बढ़ जाती है जिससे आप अधिक उर्जा के साथ कार्य कर सकते हो।

बदहजमी और अर्जीण में

अर्जीण और बदहजमी होने पर आलू बुखारे के बीजों को सुखा लें और उन्हें कूट का उसका चूर्ण एक चम्मच पानी के साथ लें।

डायबिटीज के मरीजों के लिए आलू बुखारा

आलू बुखार खाने से शरीर का शुगर लेवर नियंत्रण में रहता है। इसलिए जिन लोगों को डायबिटीज की समस्या है वे रोज अपनी डायट में आलू बुखारा जरूर खाएं।

दिल की बीमारी

दिल की बीमारी से भी आपको बचाता है आलू बुखारा। क्योंकि इसमें मौजूद तत्व शरीर में कोलेस्ट्रोल को बढ़ने नहीं देते हैं।

पाचन की समस्या में आलू बुखारा

आपको यदि खाना न पचता हो तो खाना खाने के बाद एक आलू बुखार जरूर खाएं।

नकसीर में नाक से खून बहने पर यानि की नकसीर फूटने पर आलू बुखारे की पत्तियों का रस निकालें और इसकी एक या दो बूंद नाक में डालें। इससे नकसीर आना बंद हो जाएगा।

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।