अच्छी और गहरी नींद के उपयोगी घरेलू उपाय

रात को नींद न आना अनिंद्रा रोग का कारण हो सकता है या फिर किसी डर या फिर किसी काम को लेकर हमारी उत्सुकता की वजह से भी अक्सर रात को नींद नहीं आती। अच्छी और गहरी नींद आने के लिए कुछ लोग नींद आने के लिए दवा या टोटके का सहारा लेते हैं, पर यह इलाज नहीं है अब आपके मन में यह सवाल यह है कि अगर नींद न आये तो क्या करें।

नींद से जगने के बाद यदि फ्रेश व तरोताजा महसूस नहीं करते हो दिन भर थकान, उनींदापन और चिडचिडा रहता है। रात को जब सोते है तब नींद नहीं आती अगर रात को नींद खुल जाएं तो फिर दुबारा सोने में मुश्किल होती है। जिससे न चाहते हुए भी सुबह जल्दी नहीं उठ पाते है। ये लगातार कुछ दिन, कुछ सप्ताह या लंबे समय तक रहें, तो आप अनिंद्रा रोग के शिकार हो सकते हैं। आइये जानते हैं अच्छी और गहरी नींद के उपाय के बारे में।

अच्छी और गहरी नींद के उपयोगी घरेलू उपाय

  • गहरी अच्छी नींद के लिए शान्ति और सुकून बहुत आवश्यक है। चिंता, फ्रिक, गुस्सा, लोभ, जलन, असंतोष आदि सुकून छीन लेते हैं इनसे बचना चाहिए। कपालभाती व अनुलोम विलोम प्राणायाम और ध्यान से मानसिक शांति मिलती है। ये आसन अच्छी नींद लाने में यह बहुत सहायक होते हैं।
  • ज्ञान मुंद्रा करने से अच्छी नींद आती है। ज्ञान मुंद्रा बनाने के लिए तर्जनी अंगुली व अंगूठे के सिरों को मिलाएं और बाकी तीन अँगुलियों को सीधा रखें। इसे दोनों हाथों में बनाएं इसे बैठे हुए, लेते हुए, चलते हुए कभी भी कर सकते हैं। यह मुंद्रा दिमाग के लिए बहुत लाभकारी होती है। इससे डिप्रेशन, गुस्सा, चिडचिडापन दूर होता है। इससे मानसिक शक्ति मिलती है और अनिंद्र दूर होता है।
  • रात के समय हल्का और सुपाच्य भोजन लेना चाहिए। सोने से दो घंटे पहले भोजन कर लेना चाहिए। रात को खाना खाने के बाद थोड़ी देर टहले ताकि खाना पच जाएं और पेट हल्का रहें।
  • चाय, कॉफी, तंबाकू और शराब आदि के कारण नींद की प्रक्रिया प्रभावित होती है। अत: शाम के समय ये सभी चीजों से दुरी बना कर रखनी चाहिए। शराब के नशे के कारण एक बार सो पाएं लेकिन बाद में इसके कारण गहरी नींद नहीं आती।
  • सोने का एक निश्चित समय बना लें जब आप एक ही समय पर सोने लगेगे तो आपको उसी समय पर नींद आना शुरू हो जाएगी।
  • अपना सोने का बिस्तर आरामदायक रखें अपने सोने के कमरे में डिम लाइट ही रखें।
  • टीवी, कंप्यूटर, मोबाइल का उपयोग तथा बुक रीडिंग आदि बिस्तर में लेटकर न करें। इससे आपकी आँखों पर जोर पड़ता है। जिससे आँखों में दर्द हो सकता है। इसी कारण नींद चली जाती है।

आँखों की थकान मिटाने के लिए आँखों की एक्सरसाइज करें। इससे आँखें सुंदर और स्वस्थ रहती है।

नींद आने के आयुर्वेद उपाय

  • एक गिलास पानी में 12 से 15 ताजा पुदीने की पत्तियाँ या एक चम्मच पुदीने की सुखी पत्ती का चूर्ण डालकर दो मिनट उबाल लें। फिर इसे छान लें जब यह गुनगुना हो जाएँ तब इस पानी में दो चम्मच शहद मिलाकर पिएँ। रात को सोते समय तीन चार सप्ताह इसे पिने से आपको नींद अच्छी आने लगती है।
  • एक चम्मच खसखस पानी में भिगो दें आठ घंटे भीगने के बाद इसे पानी के साथ बारीक पीस लें। इसे एक गिलास पानी में मिलाकर कपड़े से छान लें। इसमें दो चम्मच पीसी मिश्री मिलाकर पिएँ। इसका प्रयोग सुबह शाम खाली पेट दो सप्ताह लगातार लेने से नींद अच्छी आने लगती है।
  • सोने से पहले पैरों को हल्के गर्म पानी से धोने से नींद जल्दी आने लगती है।
  • सोने से थोड़ी देर पहले गुनगुना मीठा दूध पीने से नींद अच्छी आती है।
  • रात को सोते समय एक रुई के टुकड़े को सरसों के तेल में भिगोकर नाभि पर रख लें और फिर उस पर हल्की पट्टी लगा लें। इस प्रकार करके आप सो जाएं इससे आपको नींद अच्छी आती है।
  • अगर आपको अच्छी नींद नहीं आती तो कच्चा प्याज सलाद के रुप में दोनों समय भोजन के साथ कुछ दिन लगातार खाने से गहरी नींद आने लगती है।
  • अगर आपको नींद नहीं आती तो सोने से पहले अपने पैरों के तलवों में सरसों के तेल की मालिश करनी चाहिए इससे नींद अच्छी आती है।
  • एक सेब के छोटे छोटे टुकड़े करके दो गिलास पानी में उबाल लें ठंडा होने पर सेब को पानी में मसल लें। फिर इसका नियमित रूप से सेवन करें आपको नींद आने लगेगी।

sehatsansar youtube subscribe
डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।