आंवला है आयुर्वेदिक गुणों की अचूक औषधी

आंवला अपनी अद्भुद प्राकृतिक गुणों की वजह से आयुर्वेद में अपना विशेश स्थान रखता है। वेदों में आंवले को अमृतफल कहा गया है। आंवले में कई तरह के पौष्टिक तत्व होते हैं। यह विटामिन सी का स्त्रोत है। आइये आपको बताते हैं आंवले के एैसे आयुर्वेदिक गुण जो आपके शरीर को स्वस्थ और पौष्टिक बनाएगें।

आंवले के वैदिक गुण:

1. आंवला खाना मधुमेह के रोगियों के लिए लाभदायक होता है। यह रक्त में शुगर को नियंत्रित करता है।

2. दमा, सर्दी और जुकाम में आंवले का सेवन फायदा करता है।

3. आंवले के सेवन से बाल जड़ से मजबूत होते हैं।

4. एक पका हुआ ताजा आंवला प्रतिदिन खाने से शरीर रोग मुक्त रहेगा। और यह आपकी भूख बढ़ाने में भी कारगर है।

5. ताजे आंवले के प्रतिदिन सेवन करने से आखों की ज्योती बढ़ती है। और आखें कमजोर नहीं होती।

6. आंवले का मुरब्बा खाने से विटामिन सी की कमी से होने वाली बीमारीयां आपको नहीं होगी, यह खाने में स्वादिष्ट भी होता है।

7. आंवला खाने से दांत मजबूत होने के साथ-साथ चमकदार भी होते हैं।

8. आंवले का प्रयोग पुदीना और धनिया के साथ मिलाकर इसकी चटनी बनाकर सेवन करना चाहिए।

9. भोजन करने के साथ या भोजन के बाद आंवले का सेवन करने से भोजन पचता है। और यह पेट की गैस की समस्या को दूर करता है।

10. आंवला खून को साफ रखता है और मस्तिष्क को तेज बनाता है।

आंवला शरीर को स्वस्थ रखने की अचूक औषधी है, जानकारी के अभाव में लोग आंवले के फायदों के बारे में नहीं जान पाते। यदि आप जीवन में स्वस्थ और जंवा बने रहना चाहते हैं तो आंवले का सेवन प्रतिदिन जरूर करें।

डिसक्लेमर : sehatsansar.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी sehatsansar.com की नहीं है। sehatsansar.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।